ताज़ा खबर
CM शिवराज एवं बीडी शर्मा पन्ना में जनकल्याण एवं सुराज सभा को करेंगे संबोधित युवती एसिड मामला- आंखें सुरक्षित-- प्रशासन,, जिले में कॉग्रेस का प्रदर्शन और ज्ञापन, एसपी कलेक्टर की प्रेस कॉन्फ्रेंस और धन्यवाद किशोरी पर एसिड अटैक,, मचा हड़कंप,, एसपी,कलेक्टर मिलने पहुंचे, कांग्रेस अध्यक्ष ने की कार्यवाही की मांग बरसते पानी में कांग्रेस का प्रदर्शन,,, स्वास्थ्य आव्यवस्थाओं के खिलाफ दिया ज्ञापन

टाइगर रिजर्व की ऐतिहासिक पहिल, रात में देख सकेंगे बाघ, अकोला गेट से पर्यटन शुरू बफर जोन में पर्यटन

टाइगर रिजर्व की ऐतिहासिक पहिल, रात में देख सकेंगे बाघ, अकोला गेट से पर्यटन शुरू बफर जोन में पर्यटन

न्ना बफर जोन में टूरिस्ट की शुरुआत, रात में भी होगा बाघों का दीदार

पन्ना शहर से नजदीक अकोला गीत खोला गया पर्यटन शुरू करने और विरोध में 2 बड़े अधिकारियों में था विवाद एनटीसी तक पहुंची थी बात पाटन शुरू होने से क्षेत्र में विकास की संभावना टाइगर रिजर्व में टूरिज्म का दबाव कम करने और जंगल प्रोटेक्शन के लिए शुरू किया गया पर्यटन नाइट सफारी भी होगी

पन्ना टाइगर रिजर्व के अंदर लगातार बढ़ते पर्यटन के दबाव को कम करने तथा बफर जोन क्षेत्र में पर्यटन को शुरू करने के उद्देश्य आज पन्ना टाइगर रिजर्व प्रबंधन ने अकोला गेट का शुभारंभ किया है सुबह पन्ना टाइगर रिजर्व की फील्ड डायरेक्टर k एस भदौरिया ने तमाम प्रशासनिक अधिकारी और मैदानी कर्मचारियों के बीच टूरिस्ट को गेट खोलकर बफर क्षेत्र में पर्यटन कराया

अकोला पन्ना शहर से सबसे नजदीक लगने वाला क्षेत्र है जहां टूरिस्ट वाइल्ड लाइफ का आनंद ले सकेंगे लंबे समय से पन्ना टाइगर रिजर्व प्रबंधन से इस क्षेत्र में टूरिज्म शुरू करने की मांग हो रही थी वन्य प्राणियों के दर्शन और जंगल में लगातार निगरानी बढ़ाने के लिए प्रबंध ने यह शुरूआत की है यहां टूरिस्ट कम शुल्क पर भ्रमण कर सकेंगे अकोला गेट से जैसे ही प्रवेश करेंगे वाइल्डलाइफ और वर्ड वाचिंग का आनंद उठाया जा सकता है स्थानीय लोगों ने शुरू की गई इस पहल का स्वागत किया गया है

किसी भी वन क्षेत्र में रात में पर्यटन की अनुमति नहीं है लेकिन इस बफर क्षेत्र में पर्यटन रात में भी किया जाएगा लिहाजा जंगल के राजा के दर्शन रात में भी टूरिस्ट को हो सकता है और वाइल्ड लाइफ का आनंद उठाया जा सकता इसी कारण से प्रबंधन ने यह प्रयास शुरू किया है आज जिन लोगों ने भ्रमण किया उन्हें बफर क्षेत्र में नीलगाय सांभर चीतल और खूबसूरत पक्षियों के दर्शन हुए फिल्म डायरेक्टर का कहना है की इस टूरिज्म से क्षेत्र में जंगल का संरक्षण भी होगा स्थानीय लोगों को आर्थिक लाभ मिलेगा और टूरिस्ट जंगल और वाइल्डलाइफ से जुड़ सकेंगे उन्होंने कहा कि शीघ्र ही इस क्षेत्र को और विकसित किया जाएगा जिससे पर्यटन बड़ेगा

ज्ञात हो कि यहां पर्यटन शुरू करने की योजना पहले से बन चुकी थी लेकिन स्थानीय अधिकारियों की तकरार के कारण टूरिज्म शुरू नहीं हो सका था इसके लिए प्रबंधन ने एनटीसीए यानी नेशनल टाइगर कंजर्वेशन अथॉरिटी एवं डब्लू डब्लू आई से भी अनुमति ली है जिससे टूरिस्ट ओं के लिए और सुविधाएं जुटाई जा सके पर्यटन के लिए यह गीत शुरू हो जाने से स्थानीय लोग उत्साहित हैं

✎ शिवकुमार त्रिपाठी (संपादक)
सबसे ज्यादा देखी गयी