ताज़ा खबर
पन्ना - सांसद वीडी शर्मा ने गुमटी में पी चाय,,,,,नगर में पैदल घूमकर लोगों से की मुलाकात पन्ना रेडक्रॉस सोसाइटी के चुनाव में खूब हुआ हंगामा,,चुनाव टले,, मुकेश नायक गुट का रहा दबदबा पन्ना - बर्निंग बस हादसे के दोषी ड्राइवर को 190 वर्ष की सजा मालिक 10 वर्ष रहेंगे सलाखों में पन्ना- बर्निंग बस हादसे के दोषी ड्राइवर को 190 वर्ष की सजा, मालिक 10 वर्ष रहेंगे सलाखों में

बूथविस्तार कार्यक्रम – ग्रामीण आदिवासियों से मिले भाजपा प्रदेश अध्यक्ष,,,ऐतिहासिक सिद्धनाथ मंदिर में पूजा की, विकास कार्यों की दी सौगात

बूथ विस्तार कार्यक्रम के तहत प्रदेश अध्यक्ष ने गांव में गुजारा दिन

ऐतिहासिक सिद्धनाथ आश्रम पहुंचे भाजपा प्रदेश अध्यक्ष
एक करोड़ की लागत के स्टॉप डेम का किया शिलान्यास
सिद्धनाथ के विकास की चर्चाएं की पर्यटन से जोड़ने मंत्री उषा ठाकुर से फोन पर की बात

– (शिवकुमार त्रिपाठी) पन्ना का धार्मिक एवं ऐतिहासिक स्थान सिद्धनाथ भले ही अपनी पुरातात्विक विरासत के लिए मशहूर हो लेकिन जिस तरह इलाके का विकास होना चाहिए उससे कोसों दूर है अब भी पहुंच मार्ग नहीं है इस पुरातात्विक स्थान पर आज भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा अपने कार्यकर्ता, पदाधिकारियों एवं प्रशासनिक अधिकारियों को लेकर सिद्धनाथ आश्रम पहुंचे और उन्होंने मंदिर में पूजा अर्चना की और भगवान से पार्टी के लिए आशीर्वाद मांगा उन्होंने बात करते हुए कहा कि यह पुरातात्विक स्थान है रामवन गमन पथ विकास का हिस्सा भी है दक्षिण भारत के संत ऋषि अगस्त्य ने यहां साधना की और भगवान राम भी यहां आए हैं जिसका वर्णन रामायण में मिलता है इसके बावजूद यहां संसाधनों का अभाव है लिहाजा शीघ्र ही यहां बिजली और पहुंच मार्ग का कार्य किया जाएगा

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने इस ऐतिहासिक स्थल को पुरातत्व में शामिल करते हुए पर्यटन से जोड़ने के लिए संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर से भी बात की और उन्होंने कहा इस स्थान मध्य प्रदेश पर्यटन में जोड़ा जाए जिससे श्रद्धालुओं को इस स्थान की जानकारी मिल सके जिससे श्रद्धालु यहां आ सके खजुराहो मंदिरों से लगभग 200 वर्ष पूर्व प्राचीन ऐतिहासिक मंदिर का वास्तुशिल्प अनूठा है यहां दुनिया की एकमात्र भगवान राम की एकाकी बनवासी बेश की मूर्ति मौजूद है लिहाजा इस स्थान को वही गरिमा मिलनी चाहिए जो प्राचीन काल में रही है इसका प्रयास भारतीय जनता पार्टी सरकार करेगी

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने गांव के बूथ में गुजारा दिन
पार्टी को मजबूत करने ग्रामीणों और आदिवासियों से हुए रूबरू

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष पार्टी को मजबूत करने इन दिनों प्रदेश के दौरे में है बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं से सीधे मुलाकात और भाजपा को मजबूत करने के उद्देश्य से आज पन्ना जिले की गुनौर तहसील अंतर्गत कुलगवाँ मणियन में पहुंचे और उन्होंने सुबह से लेकर शाम तक बूथ में ही गुजारा
यहां के लोगों से मुलाकात की और सरकार की योजनाएं गिनाई प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ता आधारित संगठन है मोदी जी के नेतृत्व में देश का विकास हो रहा है हर आदमी पार्टी से जुड़े और उन्हें सरकार की योजनाओं का लाभ मिले इसलिए मैं बूथ में आया हूं यहां लोगों की समस्याएं सुनी है और उनके शीघ्र निराकरण का आश्वासन दिया है


उन्होंने कहा कि बूथ मजबूत होगा तो देश मजबूत होगा इसी विचारधारा पर हम कार्य कर रहे हैं और हमें भरोसा है कि उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी को ऐतिहासिक जीत तो मिलेगी ही आगामी चुनाव में मध्यप्रदेश में भाजपा का परचम फ़हरेगा

इस ऐतिहासिक धरोहर पर आजादी के इतने वर्षों बाद तक सरकार की नजर नहीं पहुंची है पहला मौका है जब कोई बड़ा पदाधिकारी इसी स्थान पर पहुंचा है जबकि इसके धार्मिक एवं पुरातात्विक महत्व के कारण दक्षिण भारत के भक्त बड़ी संख्या में आते रहते हैं उनका कहना है भगवान राम की चरणों का पीछा करते हुए यहां आते हैं अब उम्मीद जगी है कि गर्दिश में पड़े इस स्थान पर कुछ विकास होगा

  1. सांसद वीडी शर्मा ने गुमटी में पी चाय,नगर में पैदल चलकर लोगों से की मुलाकात

  (शिवकुमार त्रिपाठी) भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं खजुराहो लोकसभा से सांसद विष्णु दत्त शर्मा पन्ना के दो दिवसीय दौरे पर हैं।आज दूसरे दिन सुबह से उन्होंने पन्ना नगर का पैदल भ्रमण किया।और स्थानीय गांधी चौक में मुकेश गुप्ता की चाय की गुमटी में बैठकर लोगों के साथ चाय पी। इस बीच सामान्य कार्यकर्ताओं की तरह आम लोगों से पन्ना की गतिविधियों एवं विकास पर परिचर्चा की उनके साथ में नगर के लोग एवं भाजपा कार्यकर्ता मौजूद रहे।

क्षेत्रीय सांसद वीडी शर्मा अपने सरल स्वभाव के जाने जाते है।ऐसे में वह जब भी पन्ना प्रवास पर रहते है तो आम लोगो की तहर लोगो से मुकालात करते है।ज्ञात हो कि भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा इन दिनों बूथ विस्तार कार्यक्रम के तहत प्रदेश के दौरे में हैं।कटनी, छतरपुर, पन्ना के अलावा सतना, उमरिया ,शहडोल, होशंगाबाद से होते हुए भोपाल पहुंचेंगे। वे पूरा एक दिन एक बूथ में व्यतीत कर समस्त

 

समस्याओं की जानकारी ले रहे है।एवं पार्टी को जमीनी स्तर पर पहुंचाने की रणनीति बना रहे हैं।आगामी चुनाव में भाजपा बूथ स्तर पर मजबूती बनाने के भाजपा के द्वारा काम किया जा रहा है। इस दौरान  भाजपा अध्यक्षष राम बिहारी चौरसिया  भाजपाा पूर्व जिलाध्यक्ष्ष सतानंद गौतम, एयरपोर्ट सलाहकार समिति के सदस्य तरुण पाठक सहित बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ताओं पदाधिकारीीी मौजूद रहे 

रेड क्रॉस चुनाव में खूब हुआ हंगामा

सत्ता दल के दबाव में पक्षपात का आरोप

निर्वाचन प्रक्रिया प्रारंभ होने के बाद भी नहीं हुए चुनाव

आज आयोजित की गई थी  आमसभा

(शिवकुमार त्रिपाठी) पन्ना जिला रेडक्रास सोसायटी की वार्षिक आम सभा का आयोजन आज पॉलिटेक्निक पन्ना में किया गया था इसकी विधिवत सूचना अखबारों के माध्यम से प्रकाशित की गई थी बड़ी संख्या में रेडक्रास सोसाइटी के लोग भी चुनाव में हिस्सा लेने पहुंचे पर आज चुनाव नहीं हो सका जिस पर खूब हंगामा हुआ निर्वाचन कराए जाने की मांग पर अड़े 200 से अधिक सदस्यों ने प्रशासन पर सत्ताधारी दल के दबाव में पक्षपात पूर्ण व्यवहार अपनाते हुए जबरजस्ती निर्वाचन प्रक्रिया स्थगित करने के आरोप लगाए हैं
कांग्रेस नेता वीरेंद्र द्विवेदी ने कहा कि पूर्व मंत्री मुकेश नायक के गुट का दबदबा था हमारा सदस्य 95 फ़ीसदी से अधिक वोट लेकर जीतने वाला था इस कारण सत्ता का दुरुपयोग कर पूर्व से तय की गई आम सभा के फैसले पर प्रशासन ने दबाव बनाकर अन्याय किया है जो कोई भी सदस्य बर्दाश्त नहीं करेगा


दरअसल आज पॉलिटेक्निक सभागार में करीब 11:00 बजे रेडक्रास सोसाइटी के अध्यक्ष कलेक्टर पन्ना के प्रतिनिधि के रूप में एडीएम जीपी धुर्वे , सचिव एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आर एस पांडे, एसडीएम सत्यनारायण दर्रो सिविल सर्जन डॉ एलके तिवारी ने पीठासीन मंच पर बैठकर विधिवत निर्वाचन प्रक्रिया प्रारंभ की तभी उपस्थित सभी सदस्यों ने आई प्रस्ताव पर हाथ उठाकर ध्वनि मत से कांग्रेस नेता एवं पूर्व मंत्री मुकेश नायक को रेडक्रॉस सोसाइटी का प्रदेश प्रतिनिधि निर्वाचित करने की सहमति दी और इसे ध्वनि मत से पारित भी कर दिया है मुकेश नायक के विरोध में कोई प्रत्याशी नहीं आया तभी एडीएम ने मुकेश नायक को अनुपस्थित बताकर उनकी उम्मीदवारी को निरस्त कर दिया तब आम सभा में संशय और भ्रम की स्थिति निर्मित होने लगी तभी अधिकांश सदस्य केदार कुररिया को राज्य प्रतिनिधि बनाने की सहमति देने हैं इसी बीच भाजपा नेता रामअवतार उर्फ बबलू पाठक पहुंचते हैं और वे लिखित में अपनी उम्मीदवारी जताकर फार्म जमा कर देते हैं तभी केदारपुर कुररिया भी अपना फार्म जमा करते है और तीसरा फार्म माखन पटेल का जमा होता है 1:30 बजे तक फार्म वापसी का समय नियत किया जाता है और 2:00 बजे से 3:30 बजे तक वोटिंग का समय निर्धारित हो जाता है तभी माखन पटेल अपना नामांकन वापस ले लेते हैं और रामअवतार पाठक उर्फ बबलू एवं केदार कुररिया दो ही उम्मीदवार बचते हैं उपस्थित सदस्यों के बीच नायक गुट यानी केदार कुररिया का अच्छा दबदबा होता है अधिकांश सदस्य उन्हीं के समर्थन में वोट करने वाले थे लिहाजा वोटिंग प्रारंभ करने के बजाय आपत्ति लगाई जाती है जबकि नियमानुसार पहले स्कूटनी के समय आपत्ति होनी चाहिए थी और प्रशासन मतदान निरस्त कर चुनाव पोस्टपोन कर देता है जिससे हंगामे की स्थिति निर्मित हो गई वहां मौजूद समस्त सदस्य चुनाव कराने के पक्ष में थे भाजपा नेता रामअवतार पाठक सूचना न देने की बात कर चुनाव तलवाना चाहते थे अंततः प्रशासन ने चुनाव टाल दिए जिससे लोग हंगामा करने लगे खूब नारेबाजी की गई और कुछ समय के लिए एडीएम को घेर लिया पॉलिटेक्निक से बाहर जा रहे एडीएम और एसडीएम को नारेबाजी कर रहे सदस्यों ने घेर लिया और बाहर नहीं जाने दिया जबकि एडीएम मार्गदर्शन लेने की बात कर रहे थे हंगामा बढ़ता देख प्रशासन ने गंभीरता दिखाई एडीएम और एसडीएम वहीं रुक गए और वरिष्ठ अधिकारियों से मार्गदर्शन लेने के बाद अंततः चुनाव स्थगित कर दिया गया जिससे उपस्थित सभी सदस्यों में भारी नाराजगी थी

इस बीच  कांग्रेस नेता वीरेंद्र द्विवेदी ने कहा की मतदाता प्रारंभ करने के पूर्व सत्ता पक्ष के दबाव में चुनाव टालना अन्याय है जबकि फार्म में ही स्पष्ट लिखा था की आईडी यानी परिचय पत्र दिखाया जाए फार्म में साथ आईडी जमा करना अनिवार्य नहीं था प्रशासन पक्षपातपूर्ण रवैया अपना रहा है हम लोग ऐसे व्यवहार से दुखी हैं वीरेंद्र द्विवेदी ने कहा कि भारी बहुमत से हमारी जीत पक्की थी हम इसका उचित मंच पर कानूनी विरोध करेंगे वही प्रत्याशी केदार कुररिया ने कहा कि यह भाजपा नेताओं के दबाव में प्रशासन अन्याय कर रहा है आज जब ढाई सौ से अधिक सदस्य मौजूद थे तो कैसे कह सकते हैं कि सूचना नहीं दी गई जबकि सार्वजनिक रूप से आम सभा का समाचार पत्रों में प्रकाशन भी हुआ था हमारे विरोधी प्रत्याशी बुरी तरह हारने वाले थे इसलिए सत्ता का दुरुपयोग कर चुनाव डाले गए हैं जो गलत है इस पूरे घटनाक्रम में दूसरे प्रत्याशी एवं भाजपा नेता बबलू पाठक ने अपनी प्रतिक्रिया देने से मना कर दिया कहा मुझे इस पर कुछ नहीं कहना जबकि उन्होंने आपत्ति लगाई थी की आवेदन फार्म के साथ आईडी प्रूफ की प्रति नहीं लगाई गई है उन्हीं की आपत्ति के बाद मतदान प्रारंभ नहीं हो सका था जबकि स्कूटनी के दौरान ऐसी कोई आपत्ति नहीं थी न ही फार्म रिजेक्ट किया गया

इस पूरे घटनाक्रम के बाद मीडिया से बात करते हुए निर्वाचन अधिकारी एवं एडीएम जीपी दुर्वे ने बताया कि आपत्ती आई थी कि सभी सदस्यों को सूचना नहीं दी गई लिहाजा निर्वाचन स्थगित किया जाता है जेपी धुर्वे ने बताया रेडक्रास के निर्वाचन की एक गाइडलाइन भी नहीं है अब समस्त प्रक्रिया में पूर्ण कर आगे कार्यवाही की जाएगी उन्होंने यह भी कहा कि यह सच है कि दो लोगों की उम्मीदवारी मानी गई थी निर्वाचन प्रक्रिया प्रारंभ थी सूचना की आपत्ति के बाद इन्हें टाला गया है कांग्रेसियों ने खूब किया हंगामा और नारेबाजी कांग्रेसी नेता मुकेश नायक समर्थक बड़ी संख्या में इस निर्वाचन में भाग लेने आई थी वे सभी लोग मुकेश नायक को निर्विरोध रेड क्रॉस का जिला से राज्य प्रतिनिधि बनाना चाहती थी पर प्रशासन द्वारा निर्वाचन रूप देने से खूब नारेबाजी की गई प्रशासन और सरकार के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगे और 3:30 बजे तक पॉलिटेक्निक में हंगामा होता रहा जब एडीएम ने लिखित आदेश जारी कर आपत्तियां ग्रहण की और रिसीव दी तब कहीं नाराज लोग शांत  हुए

पन्ना – बर्निंग बस हादसे के दोषी ड्राइवर को 190 वर्ष की सजा मालिक 10 वर्ष रहेंगे सलाखों में

बस में 22 यात्रियों के जिंदा जलने की घटना में दोषी ड्राइवर को 190 और बस मालिक को कोर्ट ने दस साल की सजा सुनाई है।

विशेष न्यायाधीश आर.पी.सोनकर के न्यायालय का फैसला


(शिवकुमार त्रिपाठी) पन्ना जिले की बहुचर्चित मॉर्निंग बस हादसे की आरोपी ड्राइवर सर उद्दीन को 19 यात्रियों की मौत के मामले में 190 वर्ष की सजा सुनाई गई है ड्राइवर को प्रत्येक अकाउंट पर 10-10 की प्रथक प्रथक सजा तथा बस मालिक ज्ञानेंद्र पांडे को लापरवाही का दोष सिद्ध होने पर 10 वर्ष की कठोर कैद का फैसला पन्ना की विशेष न्यायालय से आया है इस बहुचर्चित बस कांड में 22 लोग जिंदा जल कर मर गए थे जिसकी पहचान कर पाना भी मुमकिन नहीं था इस हादसे में पूरे देश को हिला कर रख दिया था

 

डीएनए से हुई पहचान

इस बस हादसे में रजनीश अहिरवार रानी गुप्ता अरविंद गुप्ता दिनेश गुप्ता कुमारी सौम्या उर्फ सैनी अंजू उर्फ अर्चना रैकवार नारायण यादव पुष्पेंद्र पाल बद्री सोनी मोना सोनी शशि सोनी मायागंज नेहा आदिवासी ब्लू कलर किस कलर बार हरी लाल अहिरवार मालती अहिरवार आसिफ गजराज सिंह गीता मंगल दिन और पानबाई की दर्दनाक मौत हो गई थी जिसकी पहचान के लिए सभी मृतकों के डीएनए कराए गए और डीएनए से ही इनकी पहचान हो सकी

 

फैसले की विस्तृत जानकारी

पन्ना जिला लोक अभियोजन अधिकारी पन्ना के सहायक मीडिया सेल प्रभारी सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी, कपिल व्यास ने बताया कि, फरियादी रामेश्वर अहिरवार, पाण्डव फाल के पास, छोटी पुलिया छतरपुर-पन्ना आमरोड एन.एच.75 पर दिनांक 04.05.2015 के 14.30 बजे ने सूचना दी कि, वह ग्राम सिंहपुर थाना-अजयगढ रहने वाला है। दिनांक 04.05.2015 को दिल्ली से सुबह खजुराहों अपने भाईयो व रिेश्तेेदारों के साथ मजदूरी करके वापस आया तथा बमीठा से पन्ना जाने के लिए अनूप बस सर्विस क्र एम.पी.19 पी 0533 में सभी लोग बैठकर पन्ना जा रहे थे बस जैसे ही मडला के आगे पहुंची चालक समसुद्दीन मुसलमान बस को तेज रफ्तार लापरवाही पूर्वक चला रहा जो उसने एवं साथ बैठी सवारियों ने धीमी गति से बस को चलाने को कहा, लेकिन वह नहीं माना और बस को बड़ी तेज रफ्तार व लापरवाही पूर्वक खतरनाक ढंग से बस को चलाकर छोटी पुलिया पाण्डव फाल के पास बस को पलटा दिया तथा बस को नियंत्रण में नहीं कर पाया। बस पलटने से बस में आग लग गयी। आग से झुलस जाने से उसके शरीर में चोटें आ गई तथा बस में करीबन 20-21 व्यक्ति आग से जल गये हैं बाहर नहीं निकल पाये है। घटना के तुरंत बाद वन विभाग के कर्मचारी पाण्डव फाल से मौके पर आ गये थे। उपरोक्त सूचना के आधार पर देहाती नालसी क्रमांक 0@15 धारा 279, 337, 304ए भा.दं.वि. एव धारा 184 मोटरयान अधिनियम का अपराध पंजीबद्ध कर थाना मडला में मूल अपराध कमांक 06@2015, धारा 279, 337, 304ए भा.दं.वि. एवं धारा 184 मोटरयान अधिनियम का पंजीबद्ध कर अपराध विवेचना में लिया गया। अन्वेषण उपरांत अभियुक्त ड्राईवर मोहम्मद समसुद्दीन को धारा 279, 337. 304ए 338. 304 (भाग-दो). 34. 287 भा.द.वि एवं धारा 182, 183, 184 एवं धारा 191 मोटरयान अधिनियम के अपराध में तथा अभियुक्त बस मालिक ज्ञानेन्द्र पाण्डेय को धारा 279, 337, 304ए. 338. 304 (भाग-दो) 34. 287 भा.द.वि. एवं धारा 182 183, 184 एवं धारा 191 मोटरयान अधिनियम में गिरफ्तार कर अन्य अन्वेषण कार्यवाही उपरांत अभियोग-पत्र  न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया। प्रकरण का विचारण  न्यायालय विशेष न्यायाधीश, पन्ना आर.पी.सोनकर के न्यायालय में हुआ। शासन की ओर से प्रकरण की पैरवी विेशेष लोक अभियोजक द्वारा करते हुये न्यायालय के समक्ष साक्षियों को बिन्दुवार तरीके से न्यायालय के समक्ष अभिलिखित कराकर आरोपीगण के विरूद्ध अपराध संदेह से परे प्रमाणित किया गया, तथा आरोपीगण के किए गए कृत्य को गंभीर श्रेणी का अपराध मानते हुये अधिक से अधिक दंड से दंडित किये जाने का निवेदन किया गया,

पन्ना – बर्निंग बस हादसे के दोषी ड्राइवर को 190 वर्ष की सजा मालिक 10 वर्ष रहेंगे सलाखों में

बस में 22 यात्रियों के जिंदा जलने की घटना में दोषी ड्राइवर को 190 और बस मालिक को कोर्ट ने दस साल की सजा सुनाई है

विशेष न्यायाधीश आर.पी.सोनकर के न्यायालय का फैसला


(शिवकुमार त्रिपाठी) पन्ना जिले की बहुचर्चित मॉर्निंग बस हादसे की आरोपी ड्राइवर सर उद्दीन को 19 यात्रियों की मौत के मामले में 190 वर्ष की सजा सुनाई गई है ड्राइवर को प्रत्येक अकाउंट पर 10-10 की प्रथक प्रथक सजा तथा बस मालिक ज्ञानेंद्र पांडे को लापरवाही का दोष सिद्ध होने पर 10 वर्ष की कठोर कैद का फैसला पन्ना की विशेष न्यायालय से आया है इस बहुचर्चित बस कांड में 22 लोग जिंदा जल कर मर गए थे जिसकी पहचान कर पाना भी मुमकिन नहीं था इस हादसे में पूरे देश को हिला कर रख दिया था

 

डीएनए से हुई पहचान

इस बस हादसे में रजनीश अहिरवार रानी गुप्ता अरविंद गुप्ता दिनेश गुप्ता कुमारी सौम्या उर्फ सैनी अंजू उर्फ अर्चना रैकवार नारायण यादव पुष्पेंद्र पाल बद्री सोनी मोना सोनी शशि सोनी मायागंज नेहा आदिवासी ब्लू कलर किस कलर बार हरी लाल अहिरवार मालती अहिरवार आसिफ गजराज सिंह गीता मंगल दिन और पानबाई की दर्दनाक मौत हो गई थी जिसकी पहचान के लिए सभी मृतकों के डीएनए कराए गए और डीएनए से ही इनकी पहचान हो सकी

 

फैसले की विस्तृत जानकारी

पन्ना जिला लोक अभियोजन अधिकारी पन्ना के सहायक मीडिया सेल प्रभारी सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी, कपिल व्यास ने बताया कि, फरियादी रामेश्वर अहिरवार, पाण्डव फाल के पास, छोटी पुलिया छतरपुर-पन्ना आमरोड एन.एच.75 पर दिनांक 04.05.2015 के 14.30 बजे ने सूचना दी कि, वह ग्राम सिंहपुर थाना-अजयगढ रहने वाला है। दिनांक 04.05.2015 को दिल्ली से सुबह खजुराहों अपने भाईयो व रिेश्तेेदारों के साथ मजदूरी करके वापस आया तथा बमीठा से पन्ना जाने के लिए अनूप बस सर्विस क्र एम.पी.19 पी 0533 में सभी लोग बैठकर पन्ना जा रहे थे बस जैसे ही मडला के आगे पहुंची चालक समसुद्दीन मुसलमान बस को तेज रफ्तार लापरवाही पूर्वक चला रहा जो उसने एवं साथ बैठी सवारियों ने धीमी गति से बस को चलाने को कहा, लेकिन वह नहीं माना और बस को बड़ी तेज रफ्तार व लापरवाही पूर्वक खतरनाक ढंग से बस को चलाकर छोटी पुलिया पाण्डव फाल के पास बस को पलटा दिया तथा बस को नियंत्रण में नहीं कर पाया। बस पलटने से बस में आग लग गयी। आग से झुलस जाने से उसके शरीर में चोटें आ गई तथा बस में करीबन 20-21 व्यक्ति आग से जल गये हैं बाहर नहीं निकल पाये है। घटना के तुरंत बाद वन विभाग के कर्मचारी पाण्डव फाल से मौके पर आ गये थे। उपरोक्त सूचना के आधार पर देहाती नालसी क्रमांक 0@15 धारा 279, 337, 304ए भा.दं.वि. एव धारा 184 मोटरयान अधिनियम का अपराध पंजीबद्ध कर थाना मडला में मूल अपराध कमांक 06@2015, धारा 279, 337, 304ए भा.दं.वि. एवं धारा 184 मोटरयान अधिनियम का पंजीबद्ध कर अपराध विवेचना में लिया गया। अन्वेषण उपरांत अभियुक्त ड्राईवर मोहम्मद समसुद्दीन को धारा 279, 337. 304ए 338. 304 (भाग-दो). 34. 287 भा.द.वि एवं धारा 182, 183, 184 एवं धारा 191 मोटरयान अधिनियम के अपराध में तथा अभियुक्त बस मालिक ज्ञानेन्द्र पाण्डेय को धारा 279, 337, 304ए. 338. 304 (भाग-दो) 34. 287 भा.द.वि. एवं धारा 182 183, 184 एवं धारा 191 मोटरयान अधिनियम में गिरफ्तार कर अन्य अन्वेषण कार्यवाही उपरांत अभियोग-पत्र  न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया। प्रकरण का विचारण  न्यायालय विशेष न्यायाधीश, पन्ना आर.पी.सोनकर के न्यायालय में हुआ। शासन की ओर से प्रकरण की पैरवी विेशेष लोक अभियोजक द्वारा करते हुये न्यायालय के समक्ष साक्षियों को बिन्दुवार तरीके से न्यायालय के समक्ष अभिलिखित कराकर आरोपीगण के विरूद्ध अपराध संदेह से परे प्रमाणित किया गया, तथा आरोपीगण के किए गए कृत्य को गंभीर श्रेणी का अपराध मानते हुये अधिक से अधिक दंड से दंडित किये जाने का निवेदन किया गया,

ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह ने भरा जिला पंचायत सदस्य का नामांकन
वार्ड नंबर 3 से होंगे प्रत्याशी

त्रिस्तरीय पंचायती राज व्यवस्था के तहत जिला पंचायत,

जनपद और ग्राम पंचायतों की निर्वाचन प्रक्रिया निरंतर जारी

नामांकन दाखिल करने जाती है ज्ञानेंद्र सिंह

(शिवकुमार त्रिपाठी)  सुप्रीम कोर्ट से आए के फैसले के बाद भले ही दुविधा की स्थिति निर्मित हो गई हो लेकिन अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित वर्गों को छोड़ कर सभी वार्डो और पंचायतों के लिए नामांकन फार्म भरे जा रहे हैं आज छगे राजा परिवार के सदस्य एवं विश्रामगंज हाउस के बरिष्ठ सदस्य कांग्रेस नेता ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह ने आज परिवार और अपने समर्थकों के साथ पहुंच कर अजयगढ़ क्षेत्र में लगने वाले वार्ड क्रमांक 3 से नामांकन दाखिल किया है उनकी दावेदारी सबसे सशक्त मानी जा रही है इस बीच मीडिया से बात करते हुए ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि मैंने अजयगढ़ छेत्र के लिए बहु उपयोगी रूझ डैम के निर्माण की लड़ाई लड़ी है अब यह बहुउद्देशीय तालाब निर्माणाधीन है इसके बन जाने से हमारे सिंहपुर धरमपुर क्षेत्र में पर्याप्त मात्रा में जल उपलब्ध होगा इस क्षेत्र में गन्ना की खेती हो रही है जिसको बढ़ावा मिलेगा गन्ना की खेती बढ़ने से इलाके में एक चीनी मिल लगाई जाएगी जिससे किसानों को फायदा होगा इसी तरह ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह ने यह भी कहा की गाजर और टमाटर की खेती इस क्षेत्र में तेजी से बढ़ी है और जैसे ही रुंझ डैम का पानी मिलने लगेगा किसान गाजर टमाटर की खेती की ओर अत्यधिक आकर्षित होंगे जिससे केचप फैक्ट्रियों का लग्न है जिससे इलाके में रोजगार मिलेगा मैं प्रयास करूंगा कि हर आदमी को खेती के साथ पर्याप्त कमाई के अवसर मिले और उनका विकास हो यही मेरी पहली प्राथमिकता है

(more…)

सुप्रीम कोर्ट से आया फैसला,

पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित सीटों पर जनरल केटेगरी में होंगे चुनाव

चुनाव प्रक्रिया यथावत संपन्न होगी,

कुछ माध्यमों ने चुनाव स्थगित की बातें की

(शिवकुमार त्रिपाठी) मध्यप्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायती राज की चुनाव प्रक्रिया संपन्न हो रही है इसे रोकने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाया जा रहा है सरकार जहां चुनाव कराने में आमादा है वही कुछ लोग आरक्षण रोटेशन लागू करने की दबाव बना रहे हैं इसके लिए सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट में जोर अजमाये से चल रही है बीते 10 दिन से पूरी चुनाव प्रक्रिया चुनाव की वजह न्यायालय की दरवाजे पर है कल जब हाईकोर्ट ने जब तुरंत सुनवाई से मना कर दिया तो आज फिर सुप्रीम कोर्ट मामला पहुंचा और 2020 में पिछड़ा वर्ग आरक्षण मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लागू नहीं किए जाने का मामला उठाकर चुनाव प्रक्रिया को उलझा दिया आज फ्रंट फुट पर थे कांग्रेस नेता एवं कद्दावर वकील विवेक तंखा और उन्होंने पिछड़ा वर्ग की सीटों की निर्वाचन प्रक्रिया पर बहस की और अंततः सुप्रीम कोर्ट ने पिछड़ा वर्ग यानी ओबीसी के लिए आरक्षित सीटों जनरल कैटेगरी में चुनाव कराने की सहमति दे दी सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार चुनाव प्रक्रिया यथावत संपन्न होगी पर पिछड़ा वर्ग के लिए जो भी सीटें आरक्षित होंगी उन्हें जनरल कैटेगरी मानकर चुनाव कराया जाएगा यानी इन सीटों पर सभी वर्ग के लोग चुनाव लड़ सकते हैं जबकि कुछ अन्य समाचार माध्यम पूरी चुनाव प्रक्रिया को स्थगित करने की समाचार प्रसारित कर रहे हैं जिससे भ्रम की स्थिति निर्मित हो गई है और चुनाव लड़ने वाले लोग सच्चाई  जानने की कोशिश में जगह-जगह फोन टनटना रहे हैं

 

कई माध्यमों ने चुनाव स्थगित होने के समाचार चलाएं

अन्य समाचार माध्यमों के अंश

मध्य प्रदेश पंचायत चुनाव से जुड़ी बड़ी खबर सामने आई है. सुप्रीम कोर्ट ने पंचायत चुनाव पर स्टे लगा दिया है. ओबीसी आरक्षण को आधार बनाकर फैसला लिया है. महाराष्ट्र केस को बेस बनाकर रोक लगाई है. सुप्रीम कोर्ट ने सूचना आयोग को कड़ी फटकार भी लगाई. आज विवेक तन्खा ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई थी.

महाराष्ट्र में भी ओबीसी आरक्षण के मुद्दे पर ही निकाय चुनाव पर रोक लगी है. सुप्रीम कोर्ट में दलील महाराष्ट्र में लोकल बॉडी चुनाव  में ओबीसी को आरक्षण नहीं है. इसी मुद्दे को लेकर मध्यप्रदेश पंचायत चुनाव पर रोक लगी है. आज रोटेशन को मुद्दा ही नहीं बनाया गया, यानी आज सिर्फ महाराष्ट्र के ओबीसी आरक्षण का पेंच फंसाकर MP पंचायत चुनाव पर रोक लगवाई गई है. आज से पहले रोटेशन को लेकर बहस हो रही थी.

मध्य प्रदेश पंचायत चुनाव को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने आखिरकार फैसला सुना दिया है. शुक्रवार को हुई सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने पंचायत चुनाव पर रोक लगा दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग और सरकार से जवाब लिया है. कोर्ट में पंचायत चुनाव को लेकर कड़ा रुख अपनाया. विवेक तन्खा ने याचिका लगाई और खुद पैरवी की.

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने जबलपुर हाईकोर्ट को पूरे मामले की फिर से सुनवाई करने का निर्देश दिए था. लेकिन अचानक लगी याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने ही सुनवाई कर दी. बता दें कि इससे पहले हाईकोर्ट ने पंचायत चुनाव पर रोक लगाने से इनकार कर दिया था.

मध्य प्रदेश पंचायत चुनाव में रोटेशन के आधार पर आरक्षण न देने के खिलाफ कांग्रेस नेता सैयद जाफर और जया ठाकुर द्वारा पंचायत चुनाव को लेकर दायर रिट याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट में दायर की थी. उसके बाद आज विवेक तन्खा ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई थी.

तब तक यथावत होते रहेंगे चुनाव

3 जनवरी को सुनवाई के बाद होगा फैसला

तब तक आधी चुनाव प्रक्रिया संपन्न हो चुकी होगी

(शिवकुमार त्रिपाठी) पंचायत चुनाव मामले  मैंं मध्य प्रदेश हाईकोर्ट का अर्जेंट हियरिंग से इंकार कर दिया है चीफ जस्टिस कीीी बेंच में आज याचिकाकर्ता मध्य प्रदेश में चुनाव प्रक्रििया रोकने के लिए पहुंचे पर हाईकोर्ट ने याचिकाकर्ताओं को मामूलीी सा कहां इस मामले में हम त्वरित सुनवाई नहीं कर सकतेेेे इस कारण आप अगली तारीख दी जाती है और सुनवाई के लिए 3 जनवरी की अगली तारीख निर्धारित कर दी गई तब तक चुनाव प्रक्रिया रोकने से भी इनकार किया है लिहाजा मध्य प्रदेश के पंचायत चुनाव में जो त्रिस्तरीय पंचायती राज चुनाव हो रहे हैं उसकी प्रक्रिया यथावत जारी रखें रहेगी और जब तक हाई कोर्ट में सुनवाई होगी तब तक आधी से अधिक चुनाव प्रक्रिया संपन्न हो चुकी होगी लिहाजा अब उम्मीद जताई जा रही हैै जो  कि जो 2014 की पुरानी आरक्षण के तहत चुनाव कराए जा रहे हैं उसी तरह चुनाव संपन्न हो जाएंगे 

ज्ञात हो कि कल सुप्रीम कोर्ट ने पंचायत चुनाव नोटिफिकेशन में इंटरफेयर करने से मना कर दिया था और कहा था कि हाईकोर्ट जाए और हाईकर्ट ही इन याचिकाओं को सुनकर फैसला लेगा

 

चीफ जस्टिस की बेंच ने याचिकाओं पर त्वरित सुनवाई से किया इंकार…

HC ने 3 जनवरी को तय की याचिकाओं पर सुनवाई..

याचिकाओं में पंचायत चुनाव आरक्षण को दी गई है चुनौती..

SC के आदेश के बाद फिर HC की शरण मे हैं याचिकाकर्ता

 

प्रोफेसर भरत मिश्रा ग्रामोदय विश्वविद्यालय के कुलपति बने

नवनियुक्त वाइस चांसलर भरत मिश्रा

(शिवकुमार त्रिपाठी) चित्रकूट ग्रामोदय विश्वविद्यालय की स्थापना के समय से ही अपनी सेवाएं दे रहे प्रोफेसर भरत मिश्रा को आज राज्यपाल मंगू भाई पटेल ने महात्मा गांधी ग्रामोदय विश्वविद्यालय का कुलपति नियुक्त किया है मूलतः सतना जिले के रहने वाले भरत मिश्रा ग्रामोदय विश्वविद्यालय की स्थापना के समय से ही साइंस फैकल्टी में अपनी सेवाएं दे रहे हैं भरत मिश्रा भौतिक विज्ञान के योग्य प्रोफ़ेसर हैं उन्हें राज्यपाल मंगू भाई पटेल ने 4 वर्ष के लिए विश्वविद्यालय का कुलपति नियुक्त किया है

11 अक्टूबर 1966 में जन्मे भरत मिश्रा शुरुआत से ही होनहार रहे हैं इनकी प्रारंभिक शिक्षा हर सेकेंडरी स्कूल बिजुरी से हुई 1993 से ही ग्रामोदय विश्वविद्यालय से जुड़ गए उन्होंने भारत रत्न  प्रसिद्ध समाजसेवी नानाजी देशमुख के सानिध्य में रहकर समाज एवं ग्रामोत्थान के काम में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया संघ पृष्ठभूमि के भरत मिश्रा कर्मठ स्वयंसेवक है वर्तमान में चित्रकूट मध्य प्रदेश की स्थाई निवासी है भरत मिश्रा ग्रामोदय विश्वविद्यालय की कई प्रशासनिक पदों पर रह चुके हैं

नियुक्ति के बाद से ही भरत मिश्रा को उनके चाहने वालों ग्रामोदय विश्वविद्यालय से जुड़े लोगों एवं उनके संबंधियों ने बधाई दी है उम्मीद जताई है भरत मिश्रा के वाइस चांसलर बनने के बाद से ग्रामोदय विश्वविद्यालय नित नई ऊंचाइयों छुए गा उनकी कार्यकाल में विश्वविद्यालय की प्रगति होगी भरत मिश्रा को वाइस चांसलर नियुक्त होने पर हार्दिक शुभकामनाएं बधाई

 

भानपुर के अवैध खनन की जानकारी भ्रामक – करुणेंद्र सिंह

(शिवकुमार त्रिपाठी) कांग्रेस पार्टी के द्वारा चलाए गए जन जागरण अभियान के तहत दिग्विजय सिंह ने जो रेट जागरण यात्रा की है उससे सियासी गर्ग सरगर्मियां तेज है और आज दिन भर आरोप और प्रत्यारोप का दौर रहा इस बीच कांग्रेस नेताओं की भी प्रतिक्रियाएं आई हैं जिसमें कांग्रेश नेता ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह के पुत्र ने एक प्रेस नोट जारी कर रेत खनन की सच्चाई बताई है कुछ आरोपों का जवाब दिया है

पूर्व मुख्यमंत्री राजा साहब दिग्विजय सिंह जी कल हमारे अजयगढ़ क्षेत्र भानपुर गांव में भ्रमण के लिए आए थे जन जागरण यात्रा के तहत उन्होंने आम ग्रामीण जनों की समस्याएं सुनी और गरीबों की मदद का भरोसा दिलाया इस दौरान भानपुर गांव में रेत की अवैध खनन या रेत के उतखनन की किसी तरह की कोई शिकायत स्थानीय नागरिकों एवं प्रबुद्ध जनों ने नहीं की पर कुछ लोग झूठी भ्रामक जानकारी फैला रहे हैं जो उचित नहीं है इस आशय के विचार प्रेस नोट के माध्यम से करुणेंद्र प्रताप सिंह ने जारी किए हैं उन्होंने कहा भ्रामक जानकारियां देने से गांव के लोग में असंतोष व्याप्त हो रहा है जो उचित नहीं है करुणेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि राजा साहब दिग्विजय सिंह जी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान खनिज मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह जो खनन में शामिल होने के आरोप लगाए थे जबकि इस मामले से उनका कोई लेना देना नहीं है वह जानकारी भ्रामक है इस सही संपूर्ण जानकारी राजा साहब को दी जानी चाहिए थी पर कुछ लोग गलत जानकारियां दे रहे हैं
जबकि सच्चाई यह है कि मेरे नाम से भानपुर गांव में खसरा क्रमांक 81 एवं 83/2 रकबा 1.250 हेक्टेयर मुरम की खदान स्वीकृत हुई थी जिसका मैंने खनिज नियमों के अनुसार उत्खनन किया सभी राजस्व की अदायगी की यह खदान 30 सितंबर 2015 को मध्यप्रदेश गौण खनिज अधिनियम के तहत 10 वर्ष के लिए स्वीकृति हुई थी पर एकल खनिज नीति के कारण निजी भूमि की खदानें संबंधित ठेकेदार की आधीन रहेंगी इस शर्त के कारण मैंने यह खदान बंद कर दी है जो 1 जून 2020 के बाद से बंद है और यहां पर कोई भी उत्खनन या परिवहन नहीं किया जा रहा है पर्यावरण सहित समस्त नियमों का पालन किया गया पर कुछ लोग भ्रामक जानकारी दें पूर्व में हुए इस सही खनन को अवैध बताकर हमारे रिश्तेदार मंत्री परिवार को बदनाम करना चाहते हैं उनकी मंशा पूरी नहीं होगी,
उन्होंने आगे कहा कि मैं और मेरे पिता ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह कांग्रेश समर्थक है मेरी ही पार्टी के नेता जो मेरे राजनीतिक विरोधी हैं वह राजा साहब को गुमराह कर रहे हैं इस खदान से मंत्री जी का कोई संबंध नहीं है जबकि मेरे सगे परिवार की काकी साहब को 2008 कांग्रेस से टिकट मिली थी और पवई से मंत्री जी के खिलाफ चुनाव लड़ चुकी है