ताज़ा खबर
पन्ना टाइगर रिजर्व में टाइगर की मौत,, क्षत-विक्षत हालत में रोड के किनारे मिला 10 दिन पुराना कंकाल, मामला संदिग्ध पंचतत्व में विलीन हुए पन्ना महाराज राघवेंद्र,,, छत्रसाल द्वितीय का हुआ राजतिलक, पन्ना के कपड़ा व्यापारी संजय सेठ दंपति की गोली लगने से मौत,,, सीने में गोली मारकर आत्महत्या SJS पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव 29 जनवरी को,,, प्रभारी मंत्री रामकिशोर कावरे, मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह होंगे शामिल

3 फरवरी को होंगे झलारिया महादेव के दर्शन,,, वर्ष में एक बार मिलती है टाइगर रिजर्व से विशेष अनुमति

शंकर जी का अद्भुत और विलक्षण स्थान 

पन्ना टाइगर रिजर्व के कोर जोन में स्थित है

24 घंटे जलधारा न बढ़ती न कभी सूखती

 (शिवकुमार त्रिपाठी) पन्ना टाइगर रिजर्व के हिनौता रेंज अंतर्गत घनघोर जंगल के बीच एक अद्भुत और विलक्षण स्थान है जहाँ भगवान शिव की विलक्षण प्रतिमा मौजूद है इस स्थान में एक जलधारा प्रकट हुईं है जो शंकर जी का अभिषेक करती विशाल कंग्लोमेरेट चट्टान के बीच पानी की जलधारा कहां से आ रही और कहां जाती किसी को नहीं पता शंकर जी के ऊपर 24 घंटे गिरने वाली यह जलधारा ही इस स्थान का आश्चर्य है

क्योंकि ऊपर कहीं भी पानी का स्रोत नहीं है और विशाल कई मीटर की एक चट्टान है उसके बीचो-बीच से पानी आ रहा है ऐसा लगता जैसे किसी ने शंकर जी के ऊपर फुबारा लगा दिया है और यह जलधारा 24 घंटे झलारिया महादेव  का अभिषेक करती है इस अद्भुत और विलक्षण स्थान में वर्ष भर आने जाने की अनुमति नहीं होती पन्ना टाइगर रिजर्व प्रबंधन श्रद्धालुओं की आस्था और क्षेत्रीय लोगों की मांग और आस्था के कारण  एक बार भंडारे के लिए विशेष अनुमति देता है जो 3 फरवरी 2023 को दी गई है इस दिन भंडारे में श्रद्धालु और आम नागरिक शामिल हो सकते हैं

 दुर्गम है स्थान

पन्ना टाइगर रिजर्व के अंदर  दुर्गम जंगल के बीच यह स्थान स्थित है पहाड़ के किनारे कुछ सीढ़ियों से नीचे उतर कर जाया जाता है और चट्टान के बीच छोटी सी जगह है जहां बैठकर किसी तरीके से शंकर जी के दर तक पहुंचते हैं  जब देखते हैं तो लोगों की आंखें फटी की फटी रह जाती है क्योंकि जिस स्थान में पानी का स्रोत न हो किसी के आने जाने की जगह न हो और विशाल चट्टान से जलधारा कैसे आ रही है लोग अचंभित रह जाते हैं यही झलारिया महादेव  की कृपा है इस दुर्गम और प्राचीन स्थान को देखने के लिए बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचेंगे

 दिन भर के लिए दी गई विशेष अनुमति 

 क्षेत्रवासियों की आस्था के चलते एक दिन भंडारे के लिए श्रद्धालुओं के आवागमन के लिए खोला जाता है जिसकी विशेष अनुमति टाइगर रिजर्व प्रबंधन ने दी है सूर्योदय से सूर्यास्त के मध्य ही कोई आदमी हिनौता गेट से अपने चार पहिया वाहन के साथ अंदर तक जा सकता है और भंडारे में शामिल हो सकता है यह वर्ष में एक बार ही अनुमति दी जाती है

 सबकी होती है आस्था पूर्ण

यह शिव जी की प्रतिमा स्वयंभू बताई गई है और गंगा मैया उन्हीं की कारण प्रकट हुई है और 24 घंटे अभिषेक करती है जो भी श्रद्धालु यहां आता है जो भी मांाान्यता मांगता सभी पूर्ण होती है ऐसी क्षेत्रवासियों की आस्था और बुजुर्ग लोगों की बताई हुई दंत कथाएं हैं

 टाइगर भी करता है अभिषेक

(more…)

पन्ना टाइगर रिजर्व फिर टाइगर T-1 की मौत

संदिग्ध परिस्थितियों में छत विछद मिला कंकाल

(शिवकुमार त्रिपाठी)  पन्ना टाइगर रिजर्व में फिर एक टाइग्रेस की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है  10 दिन पूर्व हुई टाइगर T-1 की मौत ने मामले को संदिग्ध बना दिया है क्योंकि  नेशनल हाईवे 39 लगे जंगल छेत्र के 30 मीटर अंदर मनोर गांव के पास टाइगर का कंकाल मिला है  इस घटना से पन्ना टाइगर रिजर्व  रिजर्व प्रबंधन की बड़ी लापरवाही  उजागर हो रही है क्योंकि नेशनल हाईवे के नजदीक टाइगर की मौत हो गई और मैदानी अमले को पता ही नहीं चला  पन्ना टाइगर रिजर्व के फील्ड डायरेक्टर बृजेंद्र झा ने की मौत की पुष्टि हैं 

 

पन्ना में फिर से लायी गयी बांधवगढ़ की पहली बाघिन का निधन हो गया। उसकी उम्र 14-15 साल के आसपास रही होगी। जितनी भी बाघिनें देखीं उनमें से बहुत शांत और सबसे शांत। जब टीम पन्ना मायूस थी तब वह खुशियां लेकर आई थी। इसी की संतानों ने ही पन्ना को आबाद किया है यह टाइगर फाउंडर मेंबर है इसे बांधवगढ़ नेशनल पार्क से लाकर पन्ना में छोड़ा गया था 

 इस अति महत्वपूर्ण टाइगर के गले में रेडियो कलर होने के बाद भी पार्क प्रबंधन को मौत का पता नहीं चलाना बड़ी लापरवाही को उजागर कर रहा है टाइगर की मौत की जानकारी लकड़ी बीनने गए मजदूरों ने दी जानकारी दी जबकि मैदानी अमला बड़ी संख्या में इस क्षेत्र में तैनात है 

 एक जमाने में बाघ विहीन हो चुकी पन्ना लैंडस्केप में 2 माह में पन्ना के तीन टाइगर की मौत गंभीर चिंता का विषय इस घटना ने वन्यजीव प्रेमियों को हल हिला कर रख दिया है

 हालांकि पन्ना टाइगर रिजर्व फील्ड डायरेक्टर बृजेंद्र झा इस घटना को नेचुरल मौत का अमलीजामा  पहनाने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन करीब 10 दिन पूर्व टाइगर की मौत हो जाने और प्रबंधन को पता ना चलने पर उनके पास कोई जवाब नहीं है 

 ज्ञात हो कि 2009 में बाघ विहीन होने के बाद पन्ना टाइगर रिजर्व में बाहर से बाघ लाकर बस आने पर पन्ना टाइगर रिजर्व को आबाद करने में अहम भूमिका निभाने वाली तथा पन्ना में सबसे पहले बाघ शावक को जन्म देकर खुशियां मनाने का अवसर देने वाली बुजुर्ग बाघिन टी 1 नहीं रही। हम इस बाघिन के अभूतपूर्व योगदान को पूरे सम्मान के साथ याद करते हैं

पन्ना महाराज राघवेंद्र सिंह का निधन

अंत्येष्टि में शामिल होने से लौट रहे परिवार का एक्सीडेंट
पुत्र पुत्रीया घायल

छत्रसाल पार्क में अंत्येष्टि

बड़ी बेटी को आई गंभीर चोटें एम्बुलेंस से किये अंतिम दर्शन…..

(शिवकुमार त्रिपाठी) कभी डायमंड किंग के नाम से मशहूर पन्ना राज परिवार के महाराज राघवेंद्र सिंह का निधन हो गया है अंत्येष्टि पन्ना के छत्रसाल पार्क में नगर के गणमान्य नागरिकों की मौजूदगी में हुई, लोगों ने नम आंखों से अपने प्रिय महाराज राघवेंद्र को अंतिम विदाई दी, वहीं एक अन्य घटना में  बेटी को अपने पिता के अंतिम दर्शन एम्बुलैंस से करने पड़े जानकारी के अनुशार अंत्येष्टि में शामिल होने के लिए राजिस्थान से घर लौट रहे उनके पुत्र छत्रसाल द्वितीय एवं पुत्रियों,साले और उनके परिजन एक्सीडेंट में घायल हो गए हैं जिसमें उनकी बड़ी बेटी को गंभीर चोटें आई 


परंपरा के अनुशार वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच उनके पुत्र छत्रसाल द्वितीय का क्षत्रीय एवं राजशाही परंपरा के अनुसार राजतिलक किया गया पहले मुख्य दरबार हाल में महाराज राघवेंद्र सिंह जूदेव के शव को रखा गया इसके बाद सभी लोगों की मौजूदगी में पंडितों परिजनों और क्षत्रियों ने उनके पुत्र का राजतिलक कर राजा घोषित किया राजशाही परंपरा है कि जब तक उत्तराधिकारी को राजा घोषित नहीं किया जाता तबतक अंतिम संस्कार नहीं होता इस कारण उस राजशाही परंपरा के अनुसार पूरी प्रक्रियाओं का पालन कऱ राजतिलक किया गया जिसमे छत्रसाल द्वितीय को राजा घोषित किया गया है, मृत राजा को रंगीन पगड़ी बांधी गई, नए घोषित किए गए महाराज को सफेद पगड़ी पहनाई गई

  1. संस्कार

-पन्ना के इस प्रतिष्ठित परिवार पर दोहरी मार पड़ी है अंतिम संस्कार में शामिल होने लौट रहे उनके परिजन एक्सीडेंट में घायल हो गए उनकी बड़ी पुत्री को अपने पिता की अंतिम दर्शन एंबुलेंस से ही करने पड़े, जैसे ही घर से शव यात्रा बाहर निकली उन्हें तत्काल इलाज के लिए रेफर कर दिया गया, इस घटना में उनकी साले, साली की पुत्री पत्नी बड़ी पुत्री को ज्यादा चोटें आई हैं

इस तरह हुआ भीषण एक्सीडेंट जिसमें राज परिवार की सदस्य बाल-बाल बचे बड़ी बेटी गंभीर घायल है

इनकी अंत्येष्टि में पन्ना राज परिवार के सभी सदस्य, मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह, खजुराहो विधायक एवं इनके रिश्ते की भाई विक्रम सिंह नातीराजा, आसपास की रियासतों के प्रतिनिधि, नगर के गणमान्य नागरिक और बड़ी संख्या में पन्ना निवासी शामिल हुए और उन्होंने अपने महाराजा को श्रद्धांजलि दी पन्ना के छत्रसाल पार्क में उनका अंतिम संस्कार किया गया अपना राज परिवार के राजा का नाम महेंद्र महाराजा छत्रसाल द्वितीय होगा जिन्हें पन्ना का महाराज घोषित किया गया और राजतिलक किया गया है, 

राजतिलक कैसे हुआ

राज तिलक कर राजा घोषित करते हुए

महाराज राघवेंद्र सिंह का शव राज मंदिर पैलेस के प्रमुख दरबार हाल में रखा गया था करीब 11:00 बजे क्षत्रिय परिवारो के सभी सदस्य, पुरोहित ,गणमान्य नागरिक और बड़ी संख्या में लोगों की मौजूदगी मैं पुरोहितों ने स्वस्तिवाचन कर वैदिक मंत्रों के बीच राजतिलक की प्रक्रिया प्रारंभ की सर्वप्रथम इस परिवार के वरिष्ठ सदस्यों में एक खजुराहो विधायक विक्रम सिंह नातीराजा ने महाराज राघवेंद्र सिंह के शव का तिलक किया तदोपरांत राजमाता दिलहर कुमारी, बहन कृष्णा कुमारी, पत्नी महारानी जीतेश्वरी  कुमारी उनकी पुत्रीरियां, बुआ अन्य रिश्तेदारों ने महाराज राघवेंद्र सिंह केे शव को तिलक किया और माला पहना मौजूद पंडितों ने माल्यार्पण किया वही प्राणनाथ मंदिर से आए पुजारियों ने छत्रसाल के वंशज का तिलक कर माल्यार्पण किया तदुपरांत छत्रसाल दुतीय का राजतिलक प्रारंभ किया गया राघवेंद्र सिंह के चरण सर पर रखे गए इसके बाद सभी लोगों ने छत्रसाल दुतीय का राजतिलक किया और माला पहनाई गई रंगीन पगड़ी सर पर धारण कराई गई यहीं से छत्रसाल द्वितीय को पन्ना राजपरिवार का महाराज घोषित कर दिया गया पंडितों ने कहा यादवेंद्र सिंह के वंश के बारिश के अब छत्रसाल दुतीय होंगे , राजतिलक के दौरान परिवार की सभी महिला सदस्य भी शामिल हुए

घर में तेज चल रही थी टीवी, दूधवाला पहुंचा तब पता चला 

व्यापारी दंपति ने गोली मारकर आत्महत्या की

 पड़ोसियों ने कहा नहीं सुनाई दी गोली की आवाज

  (शिवकुमार त्रिपाठी) पन्ना शहर के प्रतिष्ठित कपड़ा व्यापारी संजय सेठ एवं उनकी पत्नी मीनू सेठ की सीने में गोली लगने से दर्दनाक मौत हो गई है दोनों घर में अकेले थे और दोनों की हृदय के पास सीने में गोली लगी है माना जा रहा है कि संजय सेठ ने पहले पत्नी को गोली मारी फिर स्वयं गोली मारकर आत्महत्या कर ली घटना के बाद से बड़ा बाजार स्थित व्यापारियों शोक का माहौल है और बड़ी बड़ी संख्या में लोग उनके घर के पास जमा हो गए संजय सेठ की पत्नी मीनू सेठ की तबीयत खराब रहा करती थी फिलहाल अज्ञात कारणों के चलते आत्महत्या करने का मामला सामने आ रहा है इनकी दो संताने है इनकी पुत्री राशि सेठ भोपाल में पड़ती है पुत्र का नाम अथर्व उर्फ कुछ सेठ है जो कक्षा 11 का छात्र है एसपी धर्मराज मीणा ने कहा कि अभी कारण अज्ञात है पर पारिवारिक मामला नजर आता है पुलिस जांच कर रही है एसपी ने कहा कि प्रथम दृष्टया आत्महत्या का मामला नजर आता है पर हर पहलुओं पर पुलिस जांच कर विवेचना कर रही है जो भी तथ्य सामने आएंगे वैसी कार्यवाही की जाएगी

कोतवाली में मर्ग कायम कर विवेचना की जा रही है


संजय मिलनसार हंसमुख स्वभाव की कपड़ा व्यापारी संजय सेठ की इस घटना पूरे नगर में दुख व्याप्त हो गया है बड़ी संख्या में लोग एकत्र हो गए अस्पताल में परीक्षण किया गया अब कुछ देर बाद पोस्टमार्टम होगा पुलिस कारणों का पता लगाने घर में सुसाइड नोट भी तलाश रही है पारिवारिक सूत्रों के अनुसार उनकी पत्नी की तबीयत खराब रहती थी

घटनाक्रम

संजय सेठ अपने मकान के ऊपरी फ्लोर में स्वयं रहते थे 28 जनवरी 2023 के करीब 1:00 बजे दोपहर को जब दूधवाला आया और दरवाजा नहीं खुला तब दूधवाले ने उनके भाई को सूचना दी घर कि टीवी तेज आवाज में चल रही है और अंदर से आवाज नहीं आ रही थी परिजन मौके पर पहुंचे तो टीवी चल रही थी और दोनों पड़े हुए थे  मीनू की लाश पलंग पर पड़ी हुई थी संजय की लाश फर्श में पड़ी  थी तत्काल मोहल्ले के लोग और परिजन दोनों को अस्पताल लेकर पहुंचे पर पहले दोनों की मौत हो चुकी थी अस्पताल में डॉक्टरों ने परीक्षण किया और मृत घोषित कर दिया दोनों की सीने में एक एक गोली लगी है मीनू सेठ के सीने में गोली लगी उसी तरह संजय सेठ के सीने में भी गोली लगी हुई है घटना की सूचना के बाद तत्काल पन्ना कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और घर में घटनाक्रम की जानकारी और परिजनों से पूछताछ कर शव को रिकवर कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा

एसडीएम मौके पर पहुंचे

नगर की प्रतिष्ठित कपड़ा व्यापारी संजय सेठ दंपति की गोली लगने से मौत की सूचना जैसे ही जिला प्रशासन को लगी एसडीएम सत्यनारायण दर्रो मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली तहसीलदार अखिलेश प्रजापति भी परिजनों से मिले परिजन जब दोनों को अस्पताल लेकर पहुंचे तो तत्काल सूचना मिलते ही सिविल सर्जन डॉ आलोक गुप्ता ने ऑपरेशन थिएटर  ले जाकर जांच परीक्षण किया तत्काल सर्जन डॉ चौधरी एवं डॉ स्वर्णिमा उपाध्याय पहुंची एवं डॉ सौरव त्रिपाठी ने परीक्षण किया चारों डॉक्टरों ने संयुक्त परीक्षण किया तब मृत घोषित किया इसके बाद दोनों को मृत घोषित कर दिया गया

नहीं सुनाई दी गोली की आवाज

 कमरे के अंदर दो राउंड गोली चली और दोनों की मौत हो गई पर परिजनों और आसपास के रहने वालों का कहना है कि गोली की आवाज सुनाई नहीं दी, कमरा अंदर से बंद था जबकि मोहल्ले में सब घर आसपास जुड़े हुए हैं

 सुसाइड नोट मिला

विश्वसनीय सूत्रों से जानकारी प्राप्त हुई है कि संजय सेठ ने एक सुसाइड नोट लिखा है जिसमें स्वेच्छा से अपना जीवन खत्म करने की बात कही गई है इतना ही नहीं उन्होंने एक लिस्ट तैयार की है जिसमें सभी के लेनदेन की जानकारी लिखी है जिन लोगों से भी पैसे प्राप्त होने है उसका डिटेल किया गया है

(more…)

  1. एसजेएस पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव 29 जनवरी को

प्रभारी मंत्री रामकिशोर कावरे, मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह, कलेक्टर पन्ना , एसपी और नगर पालिका अध्यक्ष होंगी शामिल

 

 (शिवकुमार त्रिपाठी)  पन्ना नगर की प्रतिष्ठित शैक्षणिक संस्था एसजेएस पब्लिक स्कूल का 29 दिसंबर रविवार को नगर के टाउन हॉल में आयोजित किया गया है, जिसमें स्कूल में अध्ययनरत छात्र रंगारंग प्रस्तुतियों के साथ अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे इस आयोजन की अध्यक्षता प्रभारी मंत्री रामकिशोर नानो काँवरे करेंगे तथा मुख्य अतिथि के रूप में खनिज मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह, पन्ना कलेक्टर संजय कुमार मिश्रा, एसपी धर्मराज मीणा एवं नगर पालिका अध्यक्ष मीना पांडे उपस्थित रहेंगी

इस संबंध में जानकारी देते हुए एसजेएस पब्लिक स्कूल के संचालक नरेंद्र शुक्ला ने बताया कि केरल के प्रशिक्षित अध्यापकों के अध्यापन से संचालित इस विद्यालय का प्रथम वार्षिकोत्सव 29 जनवरी को श्री जगदीश स्वामी टाउन हॉल में किया गया है, अंग्रेजी माध्यम के इस स्कूल में शैक्षणिक कार्य के साथ विभिन्न तरीकों से छात्रों की प्रतिभाओं को निखारने का कार्य किया जाता है

 नरेंद्र शुक्ला ने आगे कहा कि आवासीय एवं प्रतिदिन की शैक्षणिक गतिविधियों के साथ खेल एवं तकनीकी एक्टिविटी के से छात्रों के अध्ययन का कार्य किया जाता है जिसमें संपूर्ण एक्टिविटी अंग्रेजी बोल कर ही कराई जाती है जिससे तेजी से छात्रों में अध्ययन की रुचि बढ़ी है

 नरेंद्र शुक्ला ने आगे कहा कि जो हमारे अतिथि आ रहे हैं छात्रों का उत्साहवर्धन करेंगे हमें उम्मीद है कि अभिभावक और छात्र हमारी एक्टिविटी से संतुष्ट होंगे और हमारी संस्था नगर की सबसे प्रतिष्ठित शैक्षणिक संस्था बनेगी

एनीडेस्क ऐप्स से बैंक खाते से पैसा हड़पने वाला गिरोह पकड़ा गया

सेक्सटॉर्शन का गिरोह भी पुलिस के हत्थे चढ़ा

पुलिस की बड़ी सफलता पर एसपी ने PC

 

(शिवकुमार त्रिपाठी ) – पन्ना में सेक्सटॉर्शन एक सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है जिसमें लोगों का अश्लील वीडियो बनाकर सोशल मीडिया में वायरल कर पैसा हड़पने वाला अंतर्राज्जिय मेवाती गैंग पुलिस के हत्थे चढ़ा है जिसमें दो सदस्यों को गिरफ्तार करने में सफलता मिली इसी तरह एक अन्य मामले में एक सॉफ्टवेयर इंस्टॉल कराकर पैसा हड़प करने का गिरोह पकड़ने में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है

– मोबाइल में एक लिंक भेज कर हिडन कैमरे से आपत्तिजनक वीडियो बनाकर सोशल मीडिया में वायरल कर पैसे हड़पने का बड़ा मामला प्रकाश में आया है सेक्स स्टेशन कि इसमें मामले में पुलिस ने सूचना के आधार पर एक आदमी के ब्लैक मेलिंग की जानकारी प्राप्त की जिसमें एक संभ्रांत आदमी से 11लाख रुपए हड़पने की जानकारी प्राप्त हुई इस पर पन्ना पुलिस ने कार्यवाही करते हुए 2 लोगों को गिरफ्तार किया है दो मोबाइल फोन एटीएम कार्ड लैपटॉप और ₹15000 की जब्ती की है इस बड़ी सफलता की जानकारी एसपी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से दी 

पन्ना में लोगों के बैंक खातों मैं भी पैसा सुरक्षित नहीं है ऐसा ही एक जालसाज गिरोह पुलिस के हत्थे चढ़ा है जो लोगों के मोबाइल पर एनीडेस्क नामक सॉफ्टवेयर इंस्टॉल करा कर खाते से पैसे हड़प लेता था इस मामले में 8 लाख 25 हजार की धोखाधड़ी करने वाले दो गिरोह पुलिस के हत्थे चढ़े हैं

एसपी धर्मराज मीणा  ने कहा कि अनजान ऐप को को मोबाइल पर स्टाल न करे आजकल एंड्राइड फोन हर कोई यूज़ करता है अपने पासवर्ड गोपनीय जानकारी बैंक खातों का डिटेल परिचय पत्र सभी मोबाइल पर होते है इसी का फायदा उठाकर आपसे दूर बैठा गिरोह आपके बैंक खातों में भी सेंध लगा रहे हैं ऐसे में जानकार बनते हुए अनजान सॉफ्टवेयर, वीडियो लिंक से छेड़खानी न करें पुलिस ने भी जानकार वन सुरक्षित रहने की अपील की है

 

 पन्ना पुलिस ने दी डिटेल जानकारी इस प्रकार है 

पुलिस अधीक्षक पन्ना के प्रयास से गुमे हुये कुल 115 मोबाइल कीमती करीब 13 लाख 20 हजार रूपये के खोजे जाकर पुलिस सायबर सेल टीम पन्ना के सहयोग से मोबाइल के वास्तविक स्वामियों को किये जा रहे वापस

• गुमे हुये मोबाइलो को पाकर मोबाइल स्वामियों के चेहरे खिले, पुलिस अधीक्षक पन्ना एवं पुलिस सायबर सेल टीम को दिया धन्यवाद

  पन्ना पुलिस अधीक्षक श्री धर्मराज मीना को लगातार मोबाइल गुमने संबंधी आवेदन पत्र प्राप्त हुये है । जिन पर कार्यवाही करते हुये पुलिस अधीक्षक पन्ना द्वारा सायबर सेल पन्ना को गुमे हुये मोबाइलो को खोजने हेतु निर्देशित किया गया पुलिस अधीक्षक पन्ना के निर्देशानुसार सायबर सेल पन्ना द्वारा गुमे हुये कुल 115 मोबाइल कीमती करीब 13 लाख 20 हजार रूपये के खोजे गये हैं । सभी मोबाइल पुलिस सायबर सेल टीम द्वारा संबंधित मोबाइल स्वामियों को वितरित किये जायेंगें । पूर्व में भी सायबर सेल पन्ना द्वारा मोबाइल खोजकर संबंधित मोबाइल स्वामियों को वितरित किये जा चुके है । सायबर सेल पन्ना द्वारा लगातार गुमे हुये मोबाइलो को खोजा जाकर वास्तविक स्वामियों को पहुँचाये जाते है । गुमे हुये मोबाइलो को खोजने में पुलिस सायबर सेल टीम पन्ना से प्र.आर. नीरज रैकवार, राहुल सिंह बघेल, आर. आशीष अवस्थी, धर्मेन्द्र सिंह राजावत, राहुल पाण्डेय एवं पन्ना जिले के थानो में पदस्थ पुलिस अधिकारी / कर्मचारियों का विशेष योगदान रहा । 

115 मोबाइल खोजे जाने पर पुलिस अधीक्षक पन्ना द्वारा पुलिस सायबर सेल टीम की प्रशंसा की गई है । 

 

खोजे गये मोबाइलो के वास्तविक उपयोगकर्ताओ की सूची निम्न अनुसार है – 

क्र0 नाम पता क्र0 नाम पता

01. मनीष चौरसिया सिमरिया 02. भोला अहिरवार बरियारपुर अजयगढ़

03. कमला राजापुर अजयगढ़ 04. शैलेन्द्र बाल्मीकि देवेन्द्रनगर 

05. अभयराज सिंह यादव भापतपुर अजयगढ़ 06. जीवनलाल पटेल गुनौर

07. तेज प्रताप प्रजापति देवेन्द्रनगर 08. राजकुमार आदिवासी अमानगंज

09. श्रीपाल अहिरवार किशनगढ़ छतरपुर 10. आरती साहू देवेन्द्रनगर

11. बबलू प्रजापति बृजपुर 12. सियाराम लोधी रीठी कटनी

13. प्रमोद पाल शाहनगर 14. आनन्द आदिवासी राजापुर देवेन्द्रनगर

15. अंकित पटेल गुनौर 16. विकास जगवानी पन्ना

17. कमलेश मिश्रा तिंदुनी शाहनगर 18. विकास रैकवार पन्ना

19. उजियार सिंह लोधी रैपुरा 20. पुष्पेन्द्र पटेल पन्ना

21. बृजेश कुमार तिवारी देवेन्द्रनगर 22. आशाराम पटेल अजयगढ़

23. रिजवान अली इन्द्रा कॉलोनी अमानगंज 24. कल्ला अहिरवार भटारी अमानगंज

25. गायत्री प्रजापति अजयगढ़ 26. प्रार्थना कुमारी अहिरवार मोहन्द्रा सिमरिया

27. पुष्पेन्द्र खरे द्वारी अमानगंज 28. करन्जू प्रजापति पन्ना

29. अमन वर्मा ककरहटी 30. गनेश अग्रवाल पन्ना

31. रामान्द केवट धरमपुर 32. अंजीत गोंड बृजपुर

33. बलदाऊ यादव पन्ना 34. बिजयकान्त पन्ना

35. दीपक कुशवाहा कामनाथ मन्दिर के पास पन्ना 36. प्रसंग मिश्रा पन्ना

37. रामसजीवन ढीमर कऊवासेहा पन्ना 38. मुकेश सेन शाहनगर

39. इन्द्रेश पटेल जगात चौकी पन्ना 40 बृजेश पीड़िहा अजयगढ

41. परमलाल चौधरी देवेन्द्रनगर 42 सुमन्ती बाई चौधरी अमानगंज

43 हीरालाल विश्वकर्मा पन्ना 44. अरविन्द कुमार पाल अजयगढ़

45. मनोज कुमार कस्तरे शाहनगर 46. राजेश विश्वकर्मा मुटमुरू सलेहा

47. अमित रिछारिया पन्ना 48. जागेश्वरी पटेल देवेन्द्रनगर

49. सुरेन्द्र यादव पन्ना 50. भागीरथ अहिरवार पन्ना

51. गनपत यादव अजयगढ़ 52. रामकेश सिंगरौल सलेहा

53. प्रदीप नामदेव गुनौर 54. चन्द्रपाल आदिवासी विश्रामगंज अजयगढ

55. रावेन्द्र सिंगरौल छपरवारा सलेहा 56. अन्नू गुप्ता देवेन्द्रनगर

57. राजेन्द्र वर्मा रानीबाग पन्ना 58. नीतेश प्रजापति पन्ना

59. संध्या पटेल पवई 60. देशराज प्रजापति सीरी चाका अमानगंज

61. पुष्पेन्द्र सिंह पन्ना 62 अशोक पटेल चन्दला

63. असगर खान गुलायची पन्ना 64. शिवकान्त खरे पन्ना

65. रामनरेश हरिजन कीरतपुर खोरा 66. शिवकपूर अमानगंज

67. पवन कुशवाहा पन्ना 68. विश्वनाथ ठाकुर जे के प्लांट

69. आलोक सिंह बागरी पवई 70. उमेश कुमार विश्वकर्मा सिमरिया

71. कौशल किशोर लखेरा पन्ना 72. महेन्द्र तिवारी पन्ना

73. राजेन्द्र कुमार मिश्रा सलेहा 74. संतू यादव मझगांय अजयगढ़

75. प्रबल पटेल पन्ना 76. रामअवतार रैकवार अजयगढ़

77. विक्रम रे मडला 78. दीपक प्रजापति पन्ना

79. धर्मेन्द्र सिंह गुनौर 80. दीपक वर्मन महेबा अमानगंज

81. शरीफ मोहम्मद पन्ना 82. औसाब सिंह तिघरा सिमरिया

83. ओमप्रकाश पन्ना 84. संजय साहू शाहनगर

85. आशीष शर्मा पन्ना 86. भूपेन्द्र सिंह यादव देवेन्द्रनगर

87. मुकेश सेन पवई 88. जाहरलाल प्रजापति धरमपुर

89. शिवम यादव खमरिया अमानगंज 90. ललिता बाई पन्ना

91. चंचल साहू पन्ना 92. केशव कुशवाहा PL पन्ना

93. रामगोपाल लोधी PL पन्ना 94. आशीष मिश्रा पन्ना

95. रोहित अनुरागी छतरपुर 96. धिन्नू श्रीवास अजयगढ़

97. विपिन तिवारी पहरा छतरपुर 98 जीवन बंशकार देवेन्द्रनगर

99. प्रतिपाल सिंह यादव बृजपुर 100 पुष्पेन्द्र यादव पन्ना

101 भानुप्रकाश मिश्रा सलेहा 102 कृष्ण कुमार चौबे गुनौर

103 राधा वर्मन पन्ना 104 नीरज श्रीवास्तव पन्ना

105 साकेत वर्मा पन्ना 106 निरंजन सिंह शाहनगर

107 शैलेन्द्र अहिरवार देवेन्द्रनगर 108 अवनीश अरजरिया पन्ना

109 आशीष सेन सतना 110 देवीदीन सिंह परमार सलेहा

111 भीरू यादव सिमरिया 112 कैलाश किशोर शुक्ला पन्ना

113 रमेश साहू पन्ना 114 सतेन्द्र खरे रैपुरा

115 राजीव कुर्मी पन्ना

पन्ना से उठी विरोध की चिंगारी बुंदेलखंड की आवाज बनेगी

श्रीकांत पप्पू दीक्षित ने आयोजित की हल्ला बोल रैली

उमड़ा भारी जन सैलाब शहर में कोने कोने में दिखे कांग्रेसी

 प्रदेश कांग्रेश कार्यकारिणी सदस्य श्रीकांत दीक्षित की अगुवाई में आज कांग्रेस पार्टी ने शहर में 21 सूत्रीय मांगों को लेकर हल्ला बोल रैली का आयोजन किया जिसमें भारी संख्या में कांग्रेसी कार्यकर्ता पन्ना पहुंचे और भाजपा सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ हल्ला बोला, पन्ना शहर में इतनी भीड़ थी कि शहर के कोने-कोने में कांग्रेसी कार्यकर्ता दिखाई दे रहे थे इस हल्ला बोल रैली में कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर कांग्रेश की के तहत नई ऊर्जा का संचार किया है

  1. श्रीकांत दीक्षित द्वारा आयोजित हल्ला बोल रैली का दृश्य

 जिला कांग्रेस कमेटी एवं पीसीसी मेंबर श्रीकांत पप्पू दीक्षित द्वारा हल्ला बोल रैली का आयोजन किया गया जिसमें बिजली, पानी, सड़क, स्वास्थ्य, जले ट्रांसफार्मर बदलने, किशोर जी मंदिर कॉरिडोर का निर्माण ,पॉलिटेक्निक कॉलेज, एग्रीकल्चर कॉलेज , डायमंड पार्क , राजस्व वन सीमा विवाद सहित तमाम मुद्दों को लेकर हल्ला बोल रैली का आयोजन किया गया जिसमें भारी संख्या में जनसमुदाय उमड़ पड़ा

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा एवं मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह के खिलाफ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी की पन्ना जिला कांग्रेश प्रभारी ने कहा कि पन्ना से जो आवाज उठी है वह बुंदेलखंड की आवाज बनेगी और प्रदेश में होने वाले चुनाव में कमलनाथ की सरकार बनेगी


जिला कांग्रेस प्रभारी-सन्मत सैनी सफल हल्ला बोल रैली के आयोजन के लिए पप्पू दीक्षित की तारीफ की

ज्ञापन देने भारी जन समुदाय के साथ कांग्रेसी कलेक्ट्रेट पहुंची जहां राज्यपाल के नाम 21 सूत्री ज्ञापन सौंपा गया एसडीएम सत्यनारायण दरों कहा ज्ञापन ले लिया गया है एसडीएम ने कहा ज्ञापन लेकर नियमानुसार राजभवन भेजा जा रहा है लंबे अरसे बाद यह पहला मौका है जब इतनी तादाद में कांग्रेस के लोग पन्ना पहुंचे और भाजपा की नीतियों के खिलाफ आवाज उठाई और अपनी समस्याओं का समर्थन कर ज्ञापन सौंपा 

 

पन्ना विधानसभा क्षेत्र में ज्वलंत समस्याएं व्याप्त हैं। जिसके निराकरण न होने के कारण लोगों को असुविधाओं का जहां सामना करना पड़ रहा है, वहीं परेशान होना पड़ रहा है। आज दिनांक 12 जनवरी 2023 को पन्ना विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों से शामिल हुए कांग्रेस कार्यकर्त्ता व स्थानीय लोग पैदल मार्च कर कलेक्ट्रेट में हल्ला बोल प्रदर्शन के माध्यम से निम्नानुसार समस्याओं के निराकरण कराये जाने के लिए ज्ञापन प्रेषित कर रहे हैं, जो कि निम्न हैं:-

1. बिजली की समस्या : वर्तमान समय किसानों के लिए खेतों में पानी लगाने का है और ऐसे समय में सैकड़ों ग्रामों में ट्रांसफार्मर खराब पड़े हुए हैं। जिसके चलते लोगों को बिजली की उपलब्धता न होने के कारण उनके खेत सूख रहे हैं। कई ग्रामों में पहुंचने पर ज्ञात हुआ है कि बिजली के बिल की राशि जमा होने के बाद भी ट्रांसफार्मर नहीं बदले जा रहे हैं। जैसे अजयगढ़ जनपद के बिलाही, कीरतपुर, परगवापुरबा व रमजूपुर तथा पन्ना जनपद के लक्ष्मीपुर पंचायत में किसानों व ग्राम वासियों की इस ज्वलंत समस्या के लिए बिजली विभाग को निर्देश दिये जाएं कि वह इस पर उन गांवों को चिन्हांकित करते हुए शीघ्र जले / बिगड़े ट्रांसफार्मर बदले जाने की कार्यवाही करते हुए किसानों को राहत प्रदान करे।

बंगाली समाज की समस्याओं का निराकरण : पन्ना विधानसभा क्षेत्र के ग्राम रक्सेहा, जमुनहाई, उड़की, अहिरगुवा कैम्प, कुंजवन, जरूआपुर आदि ग्रामों में बंगाली समाज को पांच दशक पूर्व विस्थापित किया गया था। लेकिन इस समाज के लोगों के जहां जाति प्रमाण पत्र नहीं बनाये जा रहे हैं, वहीं इनके जमीन व आवासीय के पट्टे संबंधित कठिनाईयों को दूर नहीं किया जा रहा है, जिसके कारण बंगाली समाज के लोग शासन-प्रशासन के चक्कर लगाकर परेशान हो रहा है। इस संबंध में प्रशासनिक स्तर से एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया जाये, जो इस समाज की समस्याओं का निराकरण करने के लिए कार्यवाही करे।

3. रूंझ डेम के प्रभावितों को मुआवजा मिले : जल संसाधन विभाग पन्ना के द्वारा वन परिक्षेत्र विश्रामगंज के अंतर्गत करोड़ों रूपये की लागत से रूझ डेम परियोजना का निर्माण किया जा रहा है। जिसमें ऐसी जानकारी निकलकर सामने आ रही है कि काफी गरीब लोगों जिनकी जमीन इस डेम के डूब क्षेत्र में आ रही है, उन लोगों को मुआवजा दिये जाने की कार्यवाही अभी तक नहीं की गयी है। जिनकी जांच करवाई जाकर उसमें प्रभावित होने वाले किसानों को मुआवजे की राशि प्रदान किए जाने की कार्यवाही की जाये।

4. पुलिस में फर्जी आपराधिक प्रकरण में रोक लगे प्रायः यह देखने में आ रहा है कि पन्ना विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस कार्यकर्त्ताओं व ग्रामीणों के ऊपर भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के इशारे पर पुलिस में फर्जी आपराधिक प्रकरण दर्ज करते हुए उनके ऊपर दबाव बनाये जाने का काम किया जा रहा है। इस प्रकार की सत्ताधारी दल के लोगों की कार्यवाही से आम जन मानस में आक्रोष व्याप्त है। इस ज्ञापन के माध्यम से यह मांग की जाती है कि फर्जी आपराधिक प्रकरण दर्ज किये जाने की कार्यवाही में रोक लगाई जाये।

5. स्वास्थ्य सुविधाएं बदहाल पन्ना विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत विभिन्न ग्रामों में स्वास्थ्य विभाग की बिल्डिंग उपलब्ध है, लेकिन वहां न तो डॉक्टर है और न ही नर्स है। ऐसी स्थिति में बीमार लोगों को जिला मुख्यालय या बाहर जाकर इलाज कराना पड़ रहा है। उदाहरण बतौर पन्ना टाइगर रिजर्व से लगे हुए पन्ना विधानसभा के अंतिम छोर के ग्राम ललार जहां की आबादी लगभग पन्द्रह सौ से दो हजार है, लेकिन वहां पर एक भी नर्स नहीं है। यदि गांव का कोई व्यक्ति बीमार पड़ता है तो उसे केन नदी पार करते हुए इलाज के लिए छतरपुर या पन्ना जाना पड़ता है। एक तरफ सरकार स्वास्थ्य सुविधाओं पर करोड़ों रूपये खर्च करने की बात करती है, वहीं स्वास्थ्य सुविधाएं यहां के लोगों को नहीं मिल रहीं हैं। जो कि अत्यंत चिंताजनक है। जिला मुख्यालय स्थित जिला अस्पताल तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अजयगढ़ में स्त्री रोग चिकित्सक सहित महत्वपूर्ण चिकित्सकों के पद रिक्त पड़े हुए हैं। जिससे महिला मरीजों सहित अन्य गम्भीर बीमारियों से पीड़ित मरीजों को अस्पताल में उचित उपचार की व्यवस्था नहीं है। इसके साथ ही साथ जिला मुख्यालय स्थित जिला अस्पताल में जो निर्धारित दवाएं हैं, उनमें से कई बीमारियों की दवाएं जिला अस्पताल में उपलब्ध नहीं हैं। सिविल सर्जन पन्ना द्वारा डिमांड किये जाने के बाद भी दवाएं, इंजेक्शन तथा उपचार में उपयोग की जाने वाली सामग्री की आपूर्ति नहीं हुई है। जिससे जिला अस्पताल में उपचार के लिए पहुंचे मरीजों एवं भर्ती मरीजों का उचित उपचार अस्पताल में नहीं हो पा रहा है। शासन द्वारा दवाओं की जो सूची निर्धारित की गयी है, उसकी उपलब्धता नियमित रूप से सुनिश्चित की जाये। जिला अस्पताल में नियमित रूप से सोनोग्राफी नहीं हो रही है। जिससे मरीजों को परेशानी हो रही है। सोनोग्राफी की नियमित व्यवस्था के लिए जांचकर्त्ता की व्यवस्था की जाये। पन्ना विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में चिकित्सकों की पदस्थापना की जाये।

6. उथली हीरा खदानें चालू हों पन्ना अत्यंत ही पिछड़ा व गरीब जिला है यहां पर कोई भी औद्योगिक धंधे नहीं हैं, ऐसी स्थिति में उथली हीरा खदान जो पूरी तरह से बंद पड़ी हुई हैं, उसको चालू कराये जाने की कार्यवाही की जाये, ताकि यहां के लोग काम के तलाश में बाहर न जायें और खदान लगाकर अपने भरण-पोषण कर सकें।

7. जंगली जानवरों से बचाई जाएं फसलें पन्ना टाइगर रिजर्व या सामान्य वन मंडल अपने वन्य प्राणियों को सुरक्षित रखने के लिए विभागीय स्तर पर बाउण्ड्रीबाल / खखरी / फेंसिंग करवाये, जिससे किसानों की फसलों को बचाया जा सके। क्योंकि यहां की अधिकांश आबादी कृषि पर निर्भर है और उनकी मेहनत से लगाई गयी फसल को जंगली जानवर बर्बाद कर देते हैं, जिसके चलते उनके

सामने परिवार के भरण-पोषण की समस्या उत्पन्न हो जाती है। यह जनहित में अत्यंत ही जरूरी मुद्दा है, जिस पर गम्भीरता से कार्यवाही की हम मांग करते हैं।

8. वन्य जीवों से हुए नुकसान की क्षतिपूर्ति पन्ना टाइगर रिजर्व एवं उत्तर व दक्षिण वन मण्डल से निकलकर वन्य जीव पालतू जानवर जैसे गाय, भैंस, बकरी इत्यादि को मार देते हैं। सर्वे और निरीक्षण के बावजूद वन विभाग से क्षतिपूर्ति, मुआवजा नहीं दिया जाता। जबकि शासन से देने का प्रावधान है। कई प्रकरण लंबित पड़े हैं। अतः मांग की जाती है कि फसलों एवं पालतु जानवरों का हुए नुकसान का मुआवजा प्रत्येक घटना के एक सप्ताह के अंदर दिया जाये।

9. राजस्व – वन भूमि विवाद का निराकरण पन्ना जिले में खासकर पन्ना सीमा से सटे गांवों में राजस्व की जमीन पर हरी लाइन डाल दी गयी है। जबकि यह जमीन भूमि स्वामी या शासकीय राजस्व की है। ग्रामीण कई वर्षों एवं पुस्तैनी तरीके से खेती एवं अन्य कार्य करते आ रहे हैं। वन विभाग द्वारा जबरजस्ती ट्रेक्टर एवं अन्य कृषि उपकरण जब्त कर खेती से रोका जा रहा है। जिससे ग्रामीणों को भारी नुकसान हो रहा है। इसलिए अलग से वन व्यवस्थापन अधिकारी नियुक्त कर एक सीमा विवाद निस्तारण के लिए टीम का गठन कर 6 माह के अंदर वन-राजस्व सीमा विवाद का निराकरण कराया जाये।

10. इंजीनियरिंग कॉलेज एवं कृषि महाविद्यालय संचालित हों बीते पांच वर्ष पूर्व भाजपा सरकार द्वारा पन्ना में इंजीनियरिंग कॉलेज एवं कृषि महाविद्यालय की घोषणा / स्वीकृति की गयी थी। कहा जा रहा था कि राशि का आवंटन हो चुका है। इसके बावजूद अब तक कृषि महाविद्यालय एवं इंजीनियरिंग कॉलेज का संचालन नहीं किया जा रहा है। शासन-प्रशासन की ओर से एग्रीकल्चर कॉलेज खोला जाना और इस सत्र में प्रवेश प्रक्रिया की जानकारी दी जा रही है, किन्तु जबलपुर कृषि विश्वविद्यालय की वेबसाइट में विश्वविद्यालय क्षेत्रांतर्गत जिन कृषि महाविद्यालयों के नाम दर्ज हैं, उसमें पन्ना का नाम ही नहीं है। जिसको लेकर तत्काल कार्यवाही करते हुए एग्रीकल्चर कॉलेज की ओपनिंग पन्ना में कराई जाये। इसके साथ ही प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा पन्ना में इंजीनियरिंग

कॉलेज खोले जाने की घोषणा 5 वर्ष पूर्व और उसके पहले भी की गयी थी, किन्तु अभी तक इंजीनियरिंग कॉलेज न तो स्वीकृत हुआ है और न ही कोई कार्यवाही हुई है, जो कि इस क्षेत्र के साथ धोखा एवं वादा खिलाफी है।

11. जुगल किशोर मंदिर कॉरीडोर का निर्माण पन्ना की पहचान यहां के प्राचीन मंदिरों से है। बुन्देलखण्ड ही नहीं पूरे देश के करोड़ों लोगों की आस्था यहां के मंदिरों से जुड़ी है। धार्मिक पर्यटक बड़ी संख्या में आते हैं। खासकर किशोर जी मंदिर में श्रद्धालुओं को असुविधा का सामना करना पड़ता है। इस कारण से किशोर जी मंदिर कॉरीडोर का निर्माण कराया जाये, जिससे व्यवस्थित दुकानों का निर्माण, सुविधाजनक आवागमन, पार्किंग, धर्मशाला एवं यात्रियों की अन्य सुविधाएं हो सकें और लोगों की आस्था प्रभावित न हो। कॉरीडोर निर्माण हो जाने से श्रद्धालुओं को सुविधा होगी और पन्ना के लोगों को रोजगार मिलेगा।

12. पेयजल समस्या का स्थाई समाधान पन्ना शहर की आबादी तेजी से बढ़ी है। प्राचीन तालाबों में पानी का भराव कम हुआ है। पेयजल आपूर्ति के एकमात्र साधन यहां के तालाबों में पानी का प्रवाह कम हुआ है। जिससे प्रति वर्ष गर्मियों में शहर वासियों को भीषण जल संकट का सामना करना पड़ता है। स्थाई समाधान के वगैर पन्ना में पानी की समस्या का निराकरण नहीं हो सकता। इस कारण से कुंजवन में कुड़िया डेम का निर्माण शीघ्र कराया जाये, जिससे पन्ना के लोगों को पीने का पानी मिल सके। रूझ डेम से पाइप लाइन के द्वारा पीने का पानी लाये जाने की योजना बनाई जाये, जिससे शहर को शुद्ध पीने का पानी मिल सके।

13. डायमंड पार्क का निर्माण पन्ना में सर्वोत्तम क्वालिटी का हीरा मिलता है। पन्ना में हीरा व्यापार से

बड़ा रोजगार सृजित हो सकता है। कई दशकों से डायमंड पार्क के झूठे वादे और आश्वासन किये

जाते हैं। लेकिन आज तक डायमंड पार्क का निर्माण नहीं हो सका है। इसलिए शहर के अंदर एक

डायमंड पार्क का निर्माण कराया जाये, जहां हीरे का व्यापार सुरक्षित तरीके से हो सके और लोगों को

रोजगार मिल सके।

14. लोकपाल सागर से किसानों को मिले सिंचाई का पानी लोकपाल सागर सिंचाई विभाग का तालाब है। वर्षों से यहां से कई गांवों को नहर के माध्यम से सिंचाई का पानी मिलता रहा है। बीते कुछ वर्षों से किसानों को सिंचाई के लिए पानी नहीं दिया जा रहा, जिससे किसानों की फसलें सूख जाती हैं। इस कारण से किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ता है। इसलिए हमारी मांग है कि लोकपाल सागर से स्थाई रूप से किसानों को सिंचाई का पानी प्रदान किया जाये।

15. 132 केवी लाइन के खम्मे अनाधिकृत रूप से लगाये जाने के संबंध में पन्ना जिला अंतर्गत अजयगढ़ से पन्ना तक 132 केवी लाइन का कार्य बिना किसी सक्षम अधिकारी की स्वीकृति के खम्भे लगाते हुए लाइन निकाली जा रही है। जबकि शासन की गाइन लाइन की कंडिका 6 अनुसार कम्पनी को गांवों / शहरों के उन भूमि मालिकों से अनापत्ति प्रमाण पत्र करना आवश्यक है, जिनकी भूमि पर लाइन के टावरों को खड़ा किया जा रहा है। साथ ही लाइन निर्माण के लिए पेड़ों की कटाई एवं राष्ट्रीय / राज्य राजमार्ग, नदी, रेल्वे ट्रेक आदि के साथ क्रासिंग के मामले में आवेदक कम्पनी को सक्षम प्राधिकारी की मंजूरी प्राप्त करना चाहिए। इसके अतिरिक्त वन भूमि, दूरसंचार के पास से गुजरती लाइन में सक्षम प्राधिकारी की अनुमति लेनी अनिवार्य है। नगर पालिका क्षेत्र से लगा हुआ ग्राम राजापुर सुनहरा से 132 केवी लाइन के टावर गाड़ने हेतु गड्ढों का निर्माण किया जा रहा है, उसी के पास रेल्वे स्टेशन प्रस्तावित है एवं ग्राम की बसाहट है। भूमि स्वामियों की बिना किसी अनापत्ति प्रमाण पत्र एवं बिना किसी सक्षम न्यायालय / अधिकारी की अनुमति बिना ही जोर जबरजस्ती एवं ताकत के बल पर निर्माण कार्य किया जा रहा है जो जनहित एवं प्रस्तावित रेल्वे लाइन एवं ग्राम की बसाहट होने के कारण तत्काल बंद कराया जाये एवं अन्यत्र से लाइन निकाली जाये। साथ ही जिले के विभिन्न ग्रामीण व कस्बाई इलाकों में विद्युत विभाग द्वारा की जाने वाली अघोषित बिजली कटौती बंद की जाये।

16. वन व्यवस्थापन के अंतर्गत दिये गये पट्टों को कम्प्यूटर में कराया जाये दर्ज वन व्यवस्थापन अंतर्गत ग्रामीणों को जो पट्टे दिये गये हैं, उनमें वे अपना कृषि कार्य नहीं कर पा रहे हैं। ग्रामीणों को दिये गये पट्टे कम्प्यूटर में दर्ज नहीं किये जा रहे हैं। उदाहरण के तौर पर अजयगढ़

विकासखण्ड के ग्राम बिलाही में ग्रामीणों को वन व्यवस्था के तहत दिये गये पट्टे कम्प्यूटर में दर्ज न किये जाने से ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। ज्ञापन के माध्यम से मांग की जाती है कि वन व्यवस्थापन अंतर्गत ग्रामीणों को प्रदान किये गये पट्टे कम्प्यूटर में दर्ज कराये जाएं।

17. मतदाता सूची में बीएलओ द्वारा नाम न जोड़ने के संबंध में जनपद पंचायत पन्ना के ललार ग्राम में 25 दिसम्बर को आयोजित की गयी गांधी चौपाल के दौरान ग्राम वासियों यह बात प्रमुखता से उठाई गयी कि पात्र मतदाताओं के यहां पर तैनात बीएलओ द्वारा नाम मतदाता सूची में नहीं जोड़े जा रहे हैं। इस संबंध में मांग की जाती है कि इसकी जांच कराई जाये, पात्र मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में जोड़े जाने के निर्देश प्रसारित किये जायें।

18. नहरों के निर्माण की मांग जल संसाधन विभाग द्वारा जिले के विभिन्न क्षेत्रों में करोड़ों रुपये की लागत से बांध के निर्माण तो किये गये, परंतु इन बांधों के तहत नहर निर्माण न किये जाने से किसानों को इन बांधों का लाभ किसानों को नहीं मिल पा रहा है। ज्ञापन के माध्यम से मांग की जाती है कि निर्मित हुये बांधों अंतर्गत जल्द से जल्द नहर निर्माण कराया जाये।

19. किसानों को सुलभ हो खाद-बीज जिले में किसान खाद-बीज की समस्या को लेकर परेशानी का सामना कर रहे हैं। जिले के विभिन्न क्षेत्रों खाद-बीज की कालाबाजारी की खबरें सामने आ रही हैं। किसानों को आसानी से खाद-बीज उपलब्ध हो सके, इस दिशा में प्रभावी कार्यवाही की जाये।

20. जल जीवन मिशन के तहत हुए कार्यों की जांच हो: पन्ना जिले में जल जीवन मिशन अंतर्गत करोड़ों रूपये खर्च करके नल-जल योजना के तहत पानी पहुंचाये जाने के लिए पाईप लाइन डाली गयी, बोर कराये गये, लेकिन अधिकांश नल-जल योजनाएं ठप्प पड़ी हुई हैं। ग्रामीण क्षेत्र के स्कूलों में पानी पहुंचाये जाने के लिए टंकी में जो पाइन लाइन डाली गयी हैं वह भी बंद पड़ी हुई हैं। समाचार पत्रों में जल जीवन मिशन के तहत कराये गये कार्यों में हुई अनियमितताओं को प्रमुखता से प्रकाशित करने के बाद भी जिला प्रशासन / लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा कोई भी कार्यवाही नहीं की गयी। इससे यह प्रदर्शित होता है कि इस पूरे मामले में कहीं न कहीं ठेकेदारों के

ऊपर विभागीय संरक्षण है। इसको गम्भीरता से लेते हुए इसकी उच्च स्तरीय जांच कराई जाये, बंद

नल-जल योजनाओं को शुरू किया जाये तथा दोषियों पर कार्यवाही की जाये।

21. रेत के अवैध उत्खनन पर रोक लगे पन्ना की केन नदी में रेत का अवैध उत्खनन अनवरत रूप से होने से केन नदी का स्वरूप बिगड़ता जा रहा है। केन नदी में दिन-रात होने वाले रेत के अवैध उत्खनन को सख्ती के साथ रोका जाये।


केंद्रीय सड़क निधि से सड़क निर्माण की स्वीकृति

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को लिखा था सांसद बीडी शर्मा ने पत्र

(शिवकुमार त्रिपाठी)  सांसद विष्णु दत्त शर्मा खजुराहो लोकसभा के अब तक की सबसे सक्रिय सांसद है हमेशा ही यहां के निर्माण , विकास एवं रोजगार कार्यों के लिए सक्रिय रहते हैं अभी हाल में वालीबॉल की राष्ट्रीय चैंपियनशिप के सफल आयोजन के बाद उनके प्रयास से नए वर्ष 2023 की बड़ी सौगात मिली है गुनौर विधानसभा मैं 63 करोड़ 33 लाख से सकरिया, ककरहटी, गुनौर, डिघोरा रोड की स्वीकृति केंद्रीय सड़क निधि से मिली है केंद्रीय सड़क परिवहन राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी को उन्होंने पत्र लिखा था कि nh39 के इस क्षेत्र के 29 किलोमीटर मैं सड़क का उन्नयन किया जाना अति आवश्यक है लिहाजा केंद्रीय सड़क परिवहन राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने केंद्रीय सड़क निधि से खजुराहो लोकसभा क्षेत्र के विधानसभा गुनौर में 63 करोड़ 33 लाख रुपए की स्वीकृति का पत्र जारी किया है

सांसद विष्णु दत्त शर्मा ने 20 नवंबर 2022 को मांग करते हुए केंद्रीय मंत्री को पत्र लिखा था स्वीकृति मिलने के बाद सांसद विष्णु दत्त शर्मा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं केंद्रीय परिवहन राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी का आभार प्रकट किया है अब सकरिया, ककरहटी , गुनौर होते हुए डिघोरा तक अच्छी चौड़ी सड़क बन सकेगी और यह सड़क सलेहा पवई के चौड़े रास्ते से जुड़ जाएगी जिससे आवागमन में आसानी होगी इस स्वीकृति के बाद गुनौर विधानसभा के मतदाताओं ने सांसद विष्णु दत्त शर्मा की तारीफ करते हुए धन्यवाद दिया है कि ककरहटी हमेशा उपेछित रहा है इस सड़क से ककरहटी नगर पंचायत क्षेत्र का समुचित विकास और आवागमन हो सकेगा,, इस नगरी क्षेत्र के लोगों ने प्रसन्नता व्यक्त कर सांसद विष्णु दत्त शर्मा की प्रशंसा की है

कांग्रेस के पक्ष में है माहौल, जनता भाजपा सरकार से त्रस्त :- श्रीकांत पप्पू दीक्षित

हाथ से हाथ जोड़ो अभियान को लेकर धरमपुर में हुई कांग्रेस की बैठक

बूथ स्तर पर कार्यकर्ता ही हमारी महत्वपूर्ण कड़ी है- पप्पू दीक्षित

(शिवकुमार त्रिपाठी पन्ना)  हाथ से हाथ जोड़ो अभियान 26 जनवरी से शुरू होने वाला है इसको सफल बनाए जाने के लिए जिला कांग्रेस कमेटी के द्वारा जिले के विभिन्न ब्लाकों में प्रभारी बनाए गए हैं आज पीसीसी मेंबर कांग्रेस नेता श्रीकांत पप्पू दीक्षित व जिला कांग्रेस कमेटी के कार्यवाहक अध्यक्ष संजय पटेल धरमपुर ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के द्वारा आयोजित की गई। आयोजित बैठक में मंडलम सेक्टर एवं कांग्रेस के सक्रिय कार्यकर्ताओं को पीसीसी मेंबर श्रीकांत पप्पू दीक्षित ने अपनी ओर से माला पहना कर व उपहार भेंटकर सम्मानित किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि बूथ स्तर पर जो हमारे कार्यकर्ता अपनी भूमिका का निर्वहन करते हैं वह महत्वपूर्ण कड़ी हैं श्री दीक्षित ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा में जिस तरह से हमारे नेता राहुल गांधी को अपार जनसमर्थन प्राप्त हुआ है । अब कांग्रेस पार्टी हाथ से हाथ जोड़ो अभियान 26 जनवरी से शुरू कर रही है इस अभियान का नेतृत्व प्रियंका गांधी करेंगी और हम सब को भी इस अभियान को सफल बनाना है। उन्होंने कहा कि हम सब मिलकर भाजपा के कुशासन से मुकाबला करेंगे और कांग्रेस पार्टी को पुनः मध्यप्रदेश में लाएंगे कार्यवाहक अध्यक्ष संजय पटेल ने कहा कि हाथ से हाथ जोड़ो अभियान पार्टी का बहुत ही महत्वपूर्ण अभियान है और इसमें सबकी सहभागिता जरूरी है हम सब लोग इसको सफल बनाए जाने के लिए संकल्प लें। इस अवसर पर धरमपुर ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष शंकर प्रसाद द्विवेदी ने भी सभी कार्यकर्ताओं से इस अभियान को सफल बनाए जाने की अपील की। बैठक में आत्माराम मिश्रा, रामस्वरूप विश्वकर्मा, रानी अहिरवार, सुशील मिश्रा, उमाशंकर, दयाराम लोधी, शीतल शुक्ला, अनिल कुशवाहा, तरुण गुप्ता, अशीष पाठक, बहोरी राजपूत, अरविंद सोनी, पन्ना से दीपक तिवारी,शिव प्रकाश दीक्षित, पार्षद वेद प्रकाश रैकवार, पूर्व पार्षद भोले कुशवाहा, इमरान राईन, संदीप विश्वकर्मा,रम्मू यादव, बाले भाट सहित काफी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।

पन्ना में दिखी मिनी भारत की तस्वीर

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ,मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह, मंत्र कमल पटेल और मंत्री रामकिशोर कामरे रहे विशिष्ट अतिथि

गुजरात और बेस्ट बंगाल की टीम ने जीता 25वीं नेशनल यूथ वॉलीवाल चैंपियनशिप का खिताब,

कांटे की टक्कर में पुरुष टीम ने हरियाणा को हराया,

(शिवकुमार त्रिपाठी) मध्य प्रदेश के पन्ना में राष्ट्रीय वालीवाल युवा महिला पुरुष चैंपियनशिप का भव्य आयोजन किया गया जिसमें मिनी भारत की खूबसूरत तस्वीर देखने को मिली पूरे देश से आए युवा नामचीन खिलाड़ियों ने अपनी खेल प्रतिभा के साथ अच्छे खेल का प्रदर्शन किया पन्ना जैसी छोटी जगह में बड़ा आयोजन किया गया जिससे यह सिद्ध हो गया है कि सांसद विष्णु दत्त शर्मा के प्रयास से हुए इस आयोजन से पन्ना में और भी राष्ट्रीय स्तर के बड़े आयोजन सुगमता से किए जा सकते हैं

सांसद विष्णु दत्त शर्मा ने खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन किया और उन्हें उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए कहा कि पन्ना का नाम अब विश्व पटल पर हो गया है स्थानीय जनता के सहयोग और सरकार प्रशासन की इच्छा शक्ति एवं वॉलीबॉल संघ की सक्रियता से यह भव्य आयोजन करने में सफलता मिली है मुझे उम्मीद है कि इस भव्य आयोजन से खिलाड़ियों को राष्ट्रीय स्तर पर उचित मंच मिलेगा और उन्हें अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर प्राप्त हुआ है

पन्ना नगर के तलैया फील्ड (नव नाम निर्मित)श्री जुगल किशोर मैदान से गुरुवार को देश के 25 वीं नेशनल वॉलीवाल चैंपियनशिप के विजेता मिल गए हैं।गुजरात की पुरूष टीम ने हरियाणा की टीम को कांटे की टक्कर देकर चैंपियनशिप का खिताब अपने नाम कर लिया है।तो बेस्ट बंगाल की महिला ने राजस्थान की टीम आसानी से हराकर चैंपियनशिप का खिताब अपने नाम किया है।

 

16 से 22 दिसंबर तक आयोजित 25 वीं नेशनल वॉलीवाल महिला पुरूष चैंपियनशिप के महाकुंभ का समापन गुरुवार को गया है।अंतिम दिन महिला वॉलीवाल में बेस्ट बंगाल का मुकाबला राजस्थान की टीम से हुआ था।लेकिन यह मुकाबला बेस्ट बंगाल की टीम ने आसानी से जीत किया।और 3-0 से चैंपियनशिप का खिताब अपने नाम कर लिया।वहीं शाम को गुजरात का मुकाबला हरियाणा की टीम शुरु हुआ।यह मुकाबला कांटे की टक्कर का रहा है।क्योंकि पूरे पांच सैट इस मुकाबले में खेले गए।

अंतिम सैट में भी हरियाणा और गुजरात के खिलाड़ियों एक अंक के लिए जद्दोजहद की।और आखिर कार यह मुकाबला गुजरात ने अपने नाम किया।और 25 वीं यूथ वॉलीवाल चैंपियनशिप की विजेता बन गई।

 चैंपियनशिप के फाइनल के दौरान पन्ना के तलैया फील्ड में खजुराहो सांसद विष्णुदत्त शर्मा के साथ कैबिनेट मंत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह,प्रभारी मंत्री रामकिशोर कांवरे,मंत्री कमलेश पटेल,सहित भाजपा के कई नेता मौजूद रहे हैं।इस बीच प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चैंपियनशिप के फाइनल मुकाबले में तलैया फीलड का नाम बदलते हुए श्री जुगल किशोर स्टेडियम करने की घोषणा की।और इस ग्राउंड को इनडोर स्टेडियम बनाने की घोषणा की।

गुजरात और बेस्ट बंगाल को मिला गोल्ड मैडल,


चैम्पियनशिप के फाइनल मुकाबले में महिला वॉलीवाल चैम्पियन बनी बेस्ट बंगाल की टीम को गोल्ड मैडल एवं 51 हजार रुपए चैक भेंट की गई।इसी प्रकार गुजरात की पुरूष टीम ने भी हरियाणा को हराकर यह खिताब अपने नाम किया।एवं गोल्ड मैडल जीता। उन्हें भी 51 हजार का पुरस्कार दिया गया इसी तरह द्वितीय स्थान पर रही हरियाणा की टीम को 31000 और व्यक्तिगत नगद पुरस्कार दिए गए

 

अब पन्ना का तलैया मैदान श्री जुगलकिशोर स्टेडियम के नाम से जाना जायेगा,, मुख्यमंत्री ने की घोषणा

25 वी युवा राष्ट्रीय वॉलीवाल पुरूष/महिला चैंपियनशिप का गुरूवार को समापन हुआ। प्रदेश अध्यक्ष श्री विष्णुदत्त शर्मा, प्रदेश संगठन महामंत्री श्री हितानंद जी समापन समारोह में शामिल हुए। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान भी इस कार्यक्रम से वर्चुअली जुड़े थे। प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री विष्णुदत्त शर्मा ने चैंपियनशिप में विजयी टीमों को पुरस्कृत करते हुए कहा कि पन्ना में हुई राष्ट्रीय वॉलीवाल चैंपियनशिप से नई प्रतिभाएं देश को मिली है। निश्चित तौर पर हमारा देश आगे बढ़ रहा है और लगातार आगे बढ़ता रहेगा।


समापन समारोह को वर्चुअली संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने पन्ना के तलैया मैदान का नाम श्री जुगलकिशोर स्टेडियम किए जाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि इस स्टेडियम को इनडोर स्टेडियम बनायेंगे, ताकि यहां के युवाओं की खेल प्रतिभाएं और विकसित हो। कार्यक्रम को प्रदेश शासन के मंत्री श कमल पटेल,  बृजेन्द्रप्रताप सिंह,  रामकिशोर कावंरे, विधायक श्री संजय पाठक ने भी संबोधित किया।

प्रधानमंत्री मोदी ने खेलो इंडिया के माध्यम से खेलों को प्रोत्साहित किया : शर्मा

 विष्णुदत्त शर्मा ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने खेलो इंडिया अभियान के माध्यम से खेलों को प्रोत्साहित करने का काम किया है। प्रधानमंत्री जी ने सभी सांसदों से अपील की थी कि अपने अपने संसदीय क्षेत्र में खेलों का आयोजन कराएं। उसी क्रम में पन्ना खजुराहो संसदीय क्षेत्र में खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन गत वर्ष खेल महोत्सव के रूप में किया गया था। तब से ही मेरे मन में यह प्रेरणा थी कि वॉलीबॉल की चैंपियनशिप का आयोजन पन्ना में कराया 

उन्होंने कहा कि पन्ना की धरती से हीरे निकलते है। राष्ट्रीय वॉलीवाल चैंपियनशिप से उत्कृष्ट खिलाडी निकलेंगे। जिनकी पहचान देश में हीरे के रूप में होगी। श्री शर्मा ने कहा कि पन्ना खजुराहो संसदीय क्षेत्र की खेल प्रतिभाओं में निखार आए, उन्हें उचित मंच मिले, इसके लिए आने वाले समय में और भी खेल प्रतियोगिताएं आयोजित होगी। साथ ही इस क्षेत्र के युवाओं को और खेल सुविधाएं मिले इसके लिए सरकार की ओर से भी विशेष प्रयास होंगे।
गांव गांव से खेल प्रतिभाएं निकले, यही मध्यप्रदेश का संकल्प : मुख्यमंत्री

 


मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने वर्चुअली संबोधित करते हुए कहा कि खेलों के लिए हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी लगातार सभी को प्रेरित करते है। मध्यप्रदेश सरकार ग्रामीण प्रतिभाओं को उचित मंच मिले, हमेशा इसके लिए प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश को हमें अलग अलग खेलों में देश के सामने एक अलग पहचान के रूप में बनाना है। गांव गांव से खेल प्रतिभाएं निकले, यही मध्यप्रदेश का संकल्प है। चैंपियनशिप में शामिल हुए खिलाड़ियों का मुख्यमंत्री ने स्वागत करते हुए कहा कि विभिन्न राज्यों से आए सभी खिलाडियों का पन्ना की धरती पर स्वागत करता हूं। मुख्यमंत्री ने तलैया मैदान का नाम श्री जुगलकिशोर स्टेडियम किए जाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि पन्ना के स्टेडियम को इनडोर स्टेडियम बनायेंगे। ताकि यहां की प्रतिभाओं का और विकास हो।

ये थे मौजूद,,,,


एडीशनल एडवोकेट जनरल धीरेंद्र सिंह परमार , पन्ना जिलाध्यक्ष  राजबिहारी चौरसिया, कटनी जिलाध्यक्ष  दीपक सोनी टंडन, छतरपुर जिलाध्यक्ष  मलखान सिंह, पन्ना जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती मीना राजे परमार, उपाध्यक्ष  संतोष सिंह यादव, नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती मीना पाण्डेय, उपाध्यक्ष श्रीमती आशा गुप्ता, वीएफआई स्रेकेटरी  अनिल चौधरी, चीफ कोच ऑफ इंडिया श्री श्रीधरन, नेशनल कोच  वीर सिंह यादव,  सुनील तिवारी,  जागीर सिंह रंधावा, प्रदेश सह मीडिया प्रभारी आशीष तिवारी,  जयप्रकाश चतुर्वेदी,  सदानंद गौतम,  एयरपोर्ट अथॉरिटी के सदस्य तरुण पाठक ,रामअवतार पाठक सहित संसदीय क्षेत्र के जनप्रतिनिधि, पार्टी पदाधिकारी एवं क्षेत्रीय नागरिक मौजूद थे।