ताज़ा खबर
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा के कहने पर बिंदिया मनु चौबे ने लिया नामांकन वापस उत्तराखंड बस हादसा :-  पन्ना में स्थापित किया गया कंट्रोल रूम के नंबर 07732252342 , 250204, हर संभव मदद करेंगे - बीडी शर्मा पन्ना में 2 लोगों को भालू ने जिंदा खाया,, लोगों में आक्रोश,, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने जताया शोक जिला पंचायत नामांकन :- वार्ड 7 से मनु चौबे की पत्नी बिंदिया , भाजपा जिलाध्यक्ष राम बिहारी चौरसिया की पत्नी रेखा, 10 से भाजयुमो अध्यक्ष भास्कर पांडे की पत्नी मोहिनी और 13 से कांग्रेस नेता वीरेंद्र द्विवेदी की पत्नी पूनम ने नामांकन दाखिल किया

खुशखबरी- प्रथम मरीज कोरोना मुक्त ,,, पॉजिटिव की रिपोर्ट निगेटिव आई ,,शीघ्र होगा अस्पताल से डिस्चार्ज

खुशखबरी- प्रथम मरीज कोरोना मुक्त ,,, पॉजिटिव की रिपोर्ट निगेटिव आई ,,शीघ्र होगा अस्पताल से डिस्चार्ज

    पन्ना जिले के लिए खुश खबरी

    पन्ना जिला कोरोना मुक्त हुआ

    प्रथम कोरोना पोजिटिव मरीज की जांच रिपोर्ट आयी
    निगेटिव:सीएमएचओ डॉ एल के तिवारी

    न्ना जिले में एक कोरोना पॉजिटिव मरीज 2मई तारीख को चिन्हित हुआ था । जिसे जिला अस्पताल में कोविड वार्ड में भर्ती कर लगातार इलाज किया जा रहा था डॉ प्रदीप द्विवेदी की टीम 24 घंटे निगरानी कर रही है और समस्त मेडिकल स्टाफ को होटल सानवी लैंड मार्क में कोरनटाइम रखा गया है लेकिन एक खुशखबरी प्राप्त हुई है जिसमें कोरोना पॉजिटिव मरीज की रिपोर्ट नेगेटिव आई है और मरीज पूरी तरह से स्वस्थ है जिसकी शीघ्र ही अस्पताल से छुट्टी कर दी जाएगी
    इस संबंध में जानकारी देते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एल्की तिवारी ने बताया मई से सुबह शाम इलाज कर अच्छी डाइट एवं मनोरंजन के साधन TV आदि उपलब्ध कराए गए थे ।
    आज 8 दिन पश्चात उसकी पुनः एक मेडिकल जांच करवाई गई यह हर्ष का विषय है कि उनकी प्रथम रिपोर्ट नेगेटिव आई है ।
    मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एल के तिवारी ने कहा की मारीज का एक बार पुनः उसका सैंपल लेकर भेजा जाएगा। यदि वह सैंपल भी नेगेटिव आएगा तो मरीज के डिस्चार्ज की प्रोसेस की जाएगी।
    मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ तिवारी ने कहा कि अफवाहों में न पड़े । पन्ना जिला अभी तक पूरी तरह से सुरक्षित है।
    मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा कि कोरोना संक्रमण की बीमारी का इलाज संभव है । इस बीमारी से घबराने की जरूरत नहीं है। इसमें सिर्फ सावधानियां बरतना जरुरी है । किसी भी व्यक्ति को कोरौना संक्रमण के लक्षण प्रतीत होते हैं तो वह व्यक्ति बिना कोई विलंब किए नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में अपना स्वास्थ्य परीक्षण कराएं और चिकित्सक की सलाह के अनुरूप उपचार लेवे ।इसके साथ ही बिना किसी कार्य के भीड़भाड़ वाले क्षेत्र में ना घूमें । घर से बाहर निकलने पर मास्क का प्रयोग करें और जब बाहर से वापस घर पहुंचे तब हाथ पैर मुंह एवं सिर को साफ स्वच्छ पानी साबुन लगाकर साफ करें ।ताकि कोरोना का संक्रमण किसी भी प्रकार से आप पर हमला न कर सके।

✎ शिवकुमार त्रिपाठी (संपादक)
सबसे ज्यादा देखी गयी