ताज़ा खबर
CM शिवराज एवं बीडी शर्मा पन्ना में जनकल्याण एवं सुराज सभा को करेंगे संबोधित युवती एसिड मामला- आंखें सुरक्षित-- प्रशासन,, जिले में कॉग्रेस का प्रदर्शन और ज्ञापन, एसपी कलेक्टर की प्रेस कॉन्फ्रेंस और धन्यवाद किशोरी पर एसिड अटैक,, मचा हड़कंप,, एसपी,कलेक्टर मिलने पहुंचे, कांग्रेस अध्यक्ष ने की कार्यवाही की मांग बरसते पानी में कांग्रेस का प्रदर्शन,,, स्वास्थ्य आव्यवस्थाओं के खिलाफ दिया ज्ञापन

पुलिस सब इंस्पेक्टर अनामिका सिंह की आत्महत्या की गुत्थी सुलझी , प्रताड़ित करने वाला प्रेमी कौशल राजपूत गया जेल

पुलिस सब इंस्पेक्टर अनामिका सिंह की आत्महत्या की गुत्थी सुलझी , प्रताड़ित करने वाला प्रेमी कौशल राजपूत गया जेल

पुलिस सब इंस्पेक्टर की आत्महत्या की गुत्थी सुलझी, प्रेमी कौशल सिंह राजपूत को पुलिस ने भेजा जेल
अनामिका सिंह की मौत का हुआ खुलासा ,
मोहंद्रा चौकी प्रभारी ने अपने सरकारी आवास में लगा ली थी फांसी

पन्ना जिले के सिमरिया थाना क्षेत्र की मोहन्द्रा चौकी प्रभारी अनामिका सिंह कुशवाहा उम्र 25 वर्ष निवासी छिर्री थाना देवरी जिला सागर द्वारा दिनांक 3 जनवरी 2019 की रात्रि 9 बजे कमरे के अंदर अपने दुपट्टे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली गयी । इस घटना ने पूरे मध्यप्रदेश की पुलिस को झकझोर कर रख दिया ।
घटना की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह ने घटना की जांच कार्यवाही एसडीओपी पवई बी एस परिहार एवं सिमरिया नगर निरीक्षक याकूब खान को सौंपी गई। जांच अधिकारी श्री परिहार ने प्रथम चरण पर अंतिम कॉल अनामिका सिंह की देखी जिसकी जांच में पता चला कि प्रेमी युवक कौशल किशोर पिता नवलकिशोर राजपूत उम्र 28 निवासी मोहन कुंडी थाना चांदना जिला लखीरसराय बिहार हाल निवासी मनोरमा कालोनी सागर मध्यप्रदेश से घंटों बात करती थी । प्रेमी युवक तरह-तरह के प्रलोभन देकर उसे शीघ्र शादी करने का दबाव बना रहा था लेकिन लड़की अपने परिवार के लोगों से बात नहीं कर पा रही थी और इसी को लेकर इन दोनों में विवाद की स्थिति निर्मित हो जाती थी और इसका नाम लगातार बढ़ता जा रहा था घटना वाले दिन भी कुछ ऐसा ही हुआ और यह होनहार पुलिस सब इंस्पेक्टर इस दबाव को झेल नहीं पाई
जांच अधिकारी श्री परिहार ने बतलाया कि मृतिका उप निरीक्षक अनामिका सिंह एवं आरोपी कौशल किशोर सिविल इंजीनियरिंग की पढ़ाई एक ही कॉलेज सागर में साथ किये थे ,तभी से दोनों के बीच प्रेम हो गया । अनामिका की नॉकरी लगने के बाद प्रेमी युवक शादी करने का दबाव बनाने लगा था , मगर अनामिका के माता पिता इस रिश्ते को लेकर राजी नहीं थे , जिसके चलते दोनों के बीच आये दिन विवाद होने लगा । घटना रात्रि को भी आरोपी द्वारा पीएसआई अनामिका सिंह को ह्रदय में पीड़ा देने वाला शब्द बोला जिससे अनामिका सिंह अपने जीवन से निराश होकर दुपट्टा से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली । प्रेमी युवक द्वारा विवाह के लिए प्रताड़ित करने का अपराध पाये जाने पर गत दिनांक 7 जनवरी 2019 को पन्ना पुलिस द्वारा सागर से आरोपी को गिरफ्तार किया गया । और कानूनी प्रकिया पूर्ण करते हुए ,धारा 306 आईपीसी के मामले में न्यायालय पवई में पेश किया गया जहाँ से जेल भेजने की कार्यवाही की गई।

अब यह तय हो गया है की इतनी कमजोर मानसिक स्थिति वाले अधिकारी कर्मचारियों को मनोवैज्ञानिक प्रोत्साहन की जरूरत है अनामिका चाहती है तो इसका विरोध भी कर सकती थी और या परिवार से इस पूरे मामले में खुलकर बात कर सकती थी और शादी कर देश की सेवा में लगी अनामिका अच्छी सफलताएं हासिल करती लेकिन एक छोटे से फोन पर हुए विवाद के बाद अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली जो एक दुखद अंत है

✎ शिवकुमार त्रिपाठी (संपादक)
सबसे ज्यादा देखी गयी