ताज़ा खबर
जिला पंचायत चुनाव- वार्ड नंबर 1 और 4 से संतोष यादव जीते,,, 3 नंबर से भुर्जी की जीत और वार्ड 2 में भरत मिलन और पटेल के बीच कांटे का मुकाबला प्रतिद्वंदिता छोड़ गौरा पंचायत हुई निर्विरोध,, आपसी सहमति से हुआ फैसला, वरुण पाठक उर्फ गंगू लड़ेंगे जिला पंचायत वार्ड 9 का चुनाव, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा के कहने पर बिंदिया मनु चौबे ने लिया नामांकन वापस उत्तराखंड बस हादसा :-  पन्ना में स्थापित किया गया कंट्रोल रूम के नंबर 07732252342 , 250204, हर संभव मदद करेंगे - बीडी शर्मा

आदिम जाति के जिला संयोजक साबित खान 27 हजार की रिश्वत लेते पकड़े गए,,,, कलेक्ट्रेट स्थित कार्यालय पर हुई बड़ी कार्यवाही

आदिम जाति के जिला संयोजक साबित खान 27 हजार की रिश्वत लेते पकड़े गए,,,, कलेक्ट्रेट स्थित कार्यालय पर हुई बड़ी कार्यवाही

27 हजार की रिश्वत लेते आदिम जाति कल्याण विभाग जिला संयोजक साबित खान पकड़े गए

कलेक्ट्रेट स्थित ऑफिस में ही लोकायुक्त की टीम ने पकड़ा

इस कार्यवाही से हड़कंप,

पन्ना जिला कलेक्ट्रेट स्थित आदिम जाति कल्याण विभाग के दफ्तर में विभाग के सबसे बड़े अधिकारी जिला संयोजक साबित खान को सागर लोकायुक्त पुलिस ने हॉस्टल में साइकिल स्टैंड निर्माण के भुगतान के एवज में ₹27000 रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है लोकायुक्त की इस कार्यवाही के बाद से सरकारी महकमे में हड़कंप मच गया पन्ना जिला कलेक्टर के नवनिर्मित ऑफिस में संचालित आदिम जाति कल्याण विभाग के सरकारी दफ्तर में ही हुई इस कार्यवाही से चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है कि अधिकारी इतनी मोटी चमड़ी की हो गए सरकारी दफ्तर में ही बैठकर रिश्वत ले रहे हैं और उन पर सरकार के तमाम आदेशों निर्देशों का भी कोई असर नहीं हो रहा है यही कारण है की दिलेरी से अपने दफ्तर में बैठकर इस तरह से पैसे लिए जा रहे थे और अधिकारियों को रिश्वत लेने में बिल्कुल भी डर नहीं है और विभाग की ही अधिक शिका ने उसे पकड़वा दिया

पन्ना जिले के आदिम जाति विभाग के सबसे बड़े अधिकारी साबित खान अपने ही कार्यालय में 27000 की रिश्वत लेते पकड़े गए हैं आदिम जाति कल्याण विभाग के छात्रावास इंद्रपुरी में साइकिल स्टैंड के निर्माण के भुगतान के एवज में 27000 रिश्वत मांगी थी 15 फ़ीसदी के हिसाब से यह पोषण पूरा पैसा हॉस्टल अधीक्षक कृष्णा सोनी से पैसे ले रहे थे और लगातार दबाव बना रहे थे परेशान होकर अधिछिका कृष्णा सोनी ने सागर की लोकायुक्त पुलिस से शिकायत की और पन्ना कलेक्ट्रेट स्थित कार्यालय में जब रिश्वत लेते रहे थे तभी लोकायुक्त पुलिस ने उन्हें दबोच लिया

लोकायुक्त पुलिस का कहना है कि इसकी शिकायत मिलने के बाद शिकायत का सत्यापन किया गया और वैधानिक रूप से कार्यवाही की गई जिसमें साबित खान रंगे हाथों पकड़े गए हैं कार्यवाही जारी है

साबिर खान ने आरोपों से इनकार किया कहा पैसा मेरे टेबल में रखे कहां से आए मुझे नहीं पता है मैंने हाथ से नहीं लिए ना ही मेरे हाथ रंगे

पन्ना कलेक्ट्रेट स्थित इस ऑफिस में हुई बड़ी कार्यवाही से हड़कंप मच गया है यह पहला मौका है जब कलेक्ट्रेट में ही इतना बड़ा अधिकारी रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया हो इससे अब तय हो गया है कि सरकार चाहे जितने भी प्रयास करें सरकारी अधिकारी रिश्वत लेने से बाज नहीं आएंगे उम्मीद है इतने बड़े अधिकारी पर हुई सीधी कार्यवाही से रिश्वत पर कुछ अंकुश लगेगा और रिश्वत लेने वाले लोग थोड़ा शर्म करेंगे

✎ शिवकुमार त्रिपाठी (संपादक)
सबसे ज्यादा देखी गयी