ताज़ा खबर
CM शिवराज एवं बीडी शर्मा पन्ना में जनकल्याण एवं सुराज सभा को करेंगे संबोधित युवती एसिड मामला- आंखें सुरक्षित-- प्रशासन,, जिले में कॉग्रेस का प्रदर्शन और ज्ञापन, एसपी कलेक्टर की प्रेस कॉन्फ्रेंस और धन्यवाद किशोरी पर एसिड अटैक,, मचा हड़कंप,, एसपी,कलेक्टर मिलने पहुंचे, कांग्रेस अध्यक्ष ने की कार्यवाही की मांग बरसते पानी में कांग्रेस का प्रदर्शन,,, स्वास्थ्य आव्यवस्थाओं के खिलाफ दिया ज्ञापन

नहीं सुधरें सरकारी स्कूल के शिक्षक,,, स्कूल में कलेक्टर और छात्र ,,, अध्यापक लापता

नहीं सुधरें सरकारी स्कूल के शिक्षक,,, स्कूल में कलेक्टर और छात्र ,,, अध्यापक लापता

 

कलेक्टर को दौरे में बंद मिला स्कूल, बाहर बैठे बच्चों को तहसीलदार ने पढ़ाया

 सभी बच्चे यूनिफार्म में व मास्क लगाए हुए थे 

 अनुपस्थित सभी शिक्षकों के विरुद्ध हुई कार्यवाही 

छात्रों को पढ़ाती तहसीलदार श्रीमती अवंतिका तिवारी

मध्यप्रदेश के पन्ना जिले में आज माध्यमिक शाला के बाहर बैठे बच्चों को देख क्षेत्र भ्रमण पर निकले कलेक्टर वहां पहुंच गये। जिला मुख्यालय पन्ना से लगभग 50 किमी. दूर अमानगंज – पवई  मार्ग के किनारे स्थित स्कूल में 11:30 बजे ताला जड़ा हुआ था और बच्चे ताला खुलने के इंतजार में बाहर बैठे थे। मामला अमानगंज तहसील क्षेत्र के शासकीय माध्यमिक शाला सपतैया का है।

माध्यमिक शाला के बाहर बैठे सभी बच्चे यूनिफार्म में तो थे ही, मास्क भी लगाए हुए थे। बच्चे स्कूल खुलने का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे ताकि कक्षाएं शुरू हों और वे पढ़ाई कर सकें। लेकिन 11:30 बजे तक प्रधानाध्यापक सहित कोई भी शिक्षक वहां उपस्थित नहीं मिला। यह नजारा देख कलेक्टर बेहद खफा हुए और सभी अनुपस्थित शिक्षकों के विरुद्ध कार्यवाही करने के निर्देश मौके पर मौजूद तहसीलदार को दिए।

तहसीलदार अवंतिका तिवारी ने बताया कि कलेक्टर पन्ना के निर्देश पर वे भ्रमण पर आगे जाने के बजाय यहां पर रुक गई थीं। बच्चों को बैठे देख मैं उन्हें पढ़ाने लगी, जिससे बच्चे बेहद खुश नजर आये। आपने बताया कि शाला के प्रधानाध्यापक राकेश सेन को मोबाइल पर मैसेज करने के बावजूद 12:00 बजे तक स्कूल में कोई भी शिक्षक नहीं पहुंचा था। आपने बताया कि सभी अनुपस्थित शिक्षकों को नोटिस जारी कर रही हूँ। 

मालूम हो कि विगत 1 सितंबर से सभी माध्यमिक शालायें शैक्षिक गतिविधियों के लिए खुल चुकी हैं तथा 20 सितंबर से प्राथमिक शालायें भी खुलने वाली हैं।कोरोना की बंदिशों के चलते लंबे समय तक घरों में कैद रहे बच्चे स्कूल खुलने से बेहद खुश हैं। लेकिन शिक्षकों की लापरवाही व उनके स्कूल न जाने से शैक्षिक गतिविधियां सुचारू रूप से नहीं चल पा रही हैं। कलेक्टर पन्ना ने इस बाबत ट्वीट कर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा है कि सभी अनुपस्थित शिक्षकों के विरुद्ध कार्यवाही की गई है। (साभार पत्रकार अरुण सिंह)

✎ शिवकुमार त्रिपाठी (संपादक)
सबसे ज्यादा देखी गयी