ताजा खबर पन्ना न्यूज़ बुन्देलखण्ड

प्रशिक्षु महिला सब इंस्पेक्टर अनामिका ने की आत्महत्या, सरकारी बंगले में कान में हेडफोन लगाकर पंखे में झूली, सागर जिले के देवरी की रहने वाली है 25 वर्षीय अनामिका सिंह, एसपी विवेक सिंह ने दी श्रद्धांजलि

प्रशिक्षु महिला चौकी प्रभारी ने की आत्महत्या
25 वर्षीय अनामिका सिंह ने कान में हेडफोन लगाकर कमरे में फांसी लगाई
सागर जिले की देवरी की रहने वाली

पन्ना जिले के सिमरिया थाना अंतर्गत मोहन्द्रा चौकी प्रभारी अनामिका सिंह ने अज्ञात कारणों के चलते फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है अनामिका सागर जिले की देवरी की रहने वाली थी उसके परिवार में तीन बहने है और 1 वर्ष पूर्व सिमरिया थाना में पदस्थ किया गया था और कुछ दिन पूर्व मोहंद्रा चौकी का प्रभार दिया गया था देर रात अनामिका ने कान में हेडफोन लगाकर सिमरिया स्थित सरकारी आवास में पंखे से लटक कर आत्महत्या कर ली
इस घटना के बाद से पुलिस महकमे में हड़कंप की स्थिति है वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे और आत्महत्या के कारणों की जांच की जा रही है परिवारी जन सिमरिया पहुंच गए हैं पर हालांकि इस पूरे मामले को लेकर पुलिस के आला अधिकारियों का कहना है कि जांच की जा रही है जांच के बाद ही पता चल सकेगा कि आखिर आत्महत्या के पीछे कारण क्या था
एडिशनल एसपी बीकेएस परिहार ने घटनास्थल का दौरा करने के बाद बताया कि कि पंखे से लटकी हुई मिली है जिसे पुलिस ने कब्जे में ले लिया मर्ग कायम कर मामले की जांच की जा रही है परिजन आ चुके हैं उनसे बात कर आत्महत्या के कारणों का पता लगाया जा रहा है इस तरीके से एक नई महिला अफसर का आत्महत्या करना पुलिस के लिए चिंता का विषय है वह भी कम उम्र की महिला ऑफीसर का आत्महत्या कर लेना लोगों के गले नहीं उतर रहा है वह डिप्रेशन में थी या कोई और मामला इस सब का पता लगाने के लिए पुलिस ने जांच खोजबीन शुरू कर दी है

सामान्य परिवार से थी अनामिका

जिस तरीके से महिला प्रशिक्षु अधिकारी ने आत्महत्या की है समाज और परिवार को गंभीर चिंता का विषय है क्योंकि एक सामान्य परिवार के लोगों द्वारा बेटी को पढ़ाना कितनी बड़ी चुनौती होती है और अपने घर में तीन बहने जिसका भाई ना हो और फिर शासकीय नौकरी करने लगे यह बड़ी खुशी की बात होती है ऐसे में जीवन समाप्त कर लेना परिवार के लिए बहुत बड़ा सदमा है और महिला अधिकारी द्वारा इस तरीके से आत्महत्या करना पुलिस महकमे के लिए भी गंभीर चिंता का विषय है और समाज में इस तरह से जो मामले आ रहे हैं यह भी चिंतनीय है कल्पना कीजिए कि एक परिवार ने किस तरीके से एक लड़की को पढ़ाया होगा और इस दुखद तरीके से जीवन समाप्त होना परिवार के लिए पहाड़ टूटने जैसा है अनामिका सिंह कुशवाहा की अभी शादी भी नहीं हुई थी


एसपी और विधायक ने दी श्रद्धांजलि

पुलिस महकमे की होनहार अधिकारी सुश्री अनामिका कुशवाहा द्वारा आत्महत्या किए जाने के बाद पुलिस ने मामले की गुत्थी सुलझाने के लिए मार्ग दर्ज कर जांच शुरू कर दी है सभी अधिकारी मौके पर पहुंचे और कोई सुसाइड नोट ना मिलने से मामला और उलझ गया है फिलहाल पुलिस ने सभी कानूनी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद एक श्रद्धांजलि सभा की जिसमें एसपी विवेक सिंह एडिशनल एसपी बिहार क्षेत्रीय विधायक प्रह्लाद मोदी सहित बड़ी संख्या में पुलिस अधिकारी कर्मचारियों में अनामिका को श्रद्धांजलि दी और रोते बिलखते परिजनों को बिलासपुर कर दी अब इसके बाद जांच की जाएगी कि आखिर क्या कारण थे कि अनामिका को आत्महत्या करनी पड़ी

फोन पर बात करते हुए लगाई फांसी

घटना के कारणों और सरगम एविडेंस को देखकर माना जा रहा है कि अनामिका ने किसी से फोन पर बात करते हुए फांसी लगाई है क्योंकि फोन नजदीक था और कान में हेडफोन लगा हुआ था इससे यह माना जा रहा है कि जिस से बात की होगी वह कोई ना कोई तनाव की स्थिति बनी है और यह होना हर अधिकारी तनाव को नहीं सह पाई,, वैसे पढ़ने में सिविल इंजीनियर थी और अच्छे अंको से सब इंस्पेक्टर के पद पर सिलेक्शन हुआ था अपनी छोटी बहनों को बुलाकर अच्छी नौकरी दिलाना चाहती थी पर वह खुद अपनी नौकरी से हार गई और जिंदगी समाप्त कर ली

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may also like