ताज़ा खबर
CM शिवराज एवं बीडी शर्मा पन्ना में जनकल्याण एवं सुराज सभा को करेंगे संबोधित युवती एसिड मामला- आंखें सुरक्षित-- प्रशासन,, जिले में कॉग्रेस का प्रदर्शन और ज्ञापन, एसपी कलेक्टर की प्रेस कॉन्फ्रेंस और धन्यवाद किशोरी पर एसिड अटैक,, मचा हड़कंप,, एसपी,कलेक्टर मिलने पहुंचे, कांग्रेस अध्यक्ष ने की कार्यवाही की मांग बरसते पानी में कांग्रेस का प्रदर्शन,,, स्वास्थ्य आव्यवस्थाओं के खिलाफ दिया ज्ञापन

जंगल में 4 शावकों की तलाश शुरू,,, टाइगर रिजर्व में बाघिन की मौत के बाद शावक गायब

जंगल में 4 शावकों की तलाश शुरू,,, टाइगर रिजर्व में बाघिन की मौत के बाद शावक गायब

  1. ·

पन्ना टाइगर रिजर्व में युवा बाघिन की मौत

8 माह की 4 शावक हुए अनाथ

 (शिवकुमार त्रिपाठी) पन्ना टाइगर रिजर्व में लॉकडाउन के बीच 4 शावक की मां एक युवा बाघिन p-213(32) की मौत हो गई है इस वयस्क बाघिन की मौत से प्रबंधन में खलवाली फैदा कर दी है पन्ना में ही पैदा हुई और यही के जंगलों पली-बढ़ी युवा बाघिन p-213(32) की टाइगर रिजर्व के गहरी घाट रेंज की कोनी बीट में मौत हुई है इस खबर की पुष्टि करते हुए फील्ड डायरेक्टर उत्तम कुमार शर्मा ने बताया कि यह वयस्क बाघिन 5 वर्ष 3 महीने की थी इसके आगे की पैर में चोट होने से लगड़ा रही थी जब हमें जानकारी मिली तो बीते 2 दिन से डॉक्टर संजीव कुमार गुप्ता इसका इलाज कर रहे थे कुछ एंटीबायोटिक दवा भी दी थी लेकिन आज सुबह कोनी बीट के नाले के पास मृत अवस्था में पाई गई थी क्षेत्र संचालक ने बताया कि इसका प्रोटोकॉल के तहत पोस्टमार्टम कराकर अंतिम संस्कार किया गया है मौत का वास्तविक कारण पता लगाने के लिए शरीर के अंगों को जांच के लिए लैब भेजा जा रहा है यह भी पता लगाया जाएगा कि कहीं बाघिन में किसी विषाणु का संक्रमण तो नहीं था पर इस बाघिन से की मौत से टाइगर रिजर्व में हड़कंप की स्थिति निर्मित हो गई है पन्ना टाइगर रिजर्व द्वारा जारी प्रेस नोट में बताया गया है कि आसपास कहीं संदिग्ध गतिविधियां नहीं मिली है और शिकार जैसी संभावनाएं नहीं है फिर भी हम समस्त पहलुओं की जांच कर रहे हैं

 

टाइगर के मृत अवस्था का चित्र

सूचना के बाद टाइगर रिजर्व प्रबंधन के मैदानी कर्मचारियों के अलावा फील्ड डायरेक्टर उत्तम कुमार शर्मा, डिप्टी डायरेक्टर जरांडे ईश्वर रामहरी , बाघ विशेषज्ञ डॉक्टर संजीव कुमार गुप्ता सहित रेंजर और कर्मचारी मौके पर पहुंचे और बरामदगी की कार्यवाही करते हुए पोस्टमार्टम कर शरीर के सभी अंगों को जला दिया गया

शावकों की जंगल मे तलाश शुरू

फाइल फोटो

इस युवा बाघिन की मौत के बाद से इसके 8 माह की 4 शावक जंगल में गायब है मां की मौत के बाद अनाथ हुए चारों शावकों की तलाश शुरू कर दी गई है फिल्म डायरेक्टर उत्तम कुमार शर्मा ने बताया कि अभी हम इन शावकों की तलाश कर रहे हैं पर अभी तक कोई पता नहीं चल पाया है क्योंकि यह शावक अपनी मां के साथ ही रहते थे इसलिए अब जंगलों में स्वच्छंद सरवाइव कर पाना मुश्किल है ऐसे में हम शावकों का पता लगाकर रेस्क्यू करेंगे इसके बाद वाइल्ड लाइफ के विशेषज्ञ एवं उच्च अधिकारियों के मार्गदर्शन के आधार पर इन्हें कहां रखना है यह तय किया जाएगा फिलहाल हमारी चिंता इन सभी शावकों को सुरक्षित खोजने की है हमें उम्मीद है कि हम शीघ्र ही इन शावकों को खोज पाएंगे और सुरक्षित रेस्क्यू करने का प्रयास करेंगे उन्होंने कहा कि पन्ना में इंसाफ को को रखने का प्रबंधन नहीं है लिहाजा वरिष्ठ अधिकारियों की मार्गदर्शन के आधार पर ही तय हो पाएगा कि कहां रखना है

बरगडी के बाड़े में रखकर शावकों की जाए परवरिश

पन्ना टाइगर रिजर्व की बरगडी में एक विशाल इंक्लोजर बना हुआ है यहां शावकों को रखा जा सकता है क्योंकि जब सभी बाघ खत्म हो गए थे तब इन्हें यह एंक्लोजर शावकों और टाइगरों के रखने के लिए बनाया गया था पन्ना में जो टी-4 और टी-5 बाघिन कान्हा से लाकर छोड़ी गई थी वह ऐसे ही अनाथ हुई थी और मानवीय हस्तक्षेप में पली-बढ़ी इन बाघों को जंगली बनाया गया था यदि इन शावकों को यही पालकर जंगली बना कर पुनः जंगल में छोड़ा जाता है तो टाइगर रिजर्व के इतिहास में बड़ी सफलता मानी जाएगी जिसका प्रयास किया जाना चाहिए वाइल्ड लाइफ के जानकार और प्रकृति प्रेमियों ने सभी शावकों को पन्ना में ही पालने की व्यवस्था करने की मांग की है

✎ शिवकुमार त्रिपाठी (संपादक)
सबसे ज्यादा देखी गयी