ताज़ा खबर
CM शिवराज एवं बीडी शर्मा पन्ना में जनकल्याण एवं सुराज सभा को करेंगे संबोधित युवती एसिड मामला- आंखें सुरक्षित-- प्रशासन,, जिले में कॉग्रेस का प्रदर्शन और ज्ञापन, एसपी कलेक्टर की प्रेस कॉन्फ्रेंस और धन्यवाद किशोरी पर एसिड अटैक,, मचा हड़कंप,, एसपी,कलेक्टर मिलने पहुंचे, कांग्रेस अध्यक्ष ने की कार्यवाही की मांग बरसते पानी में कांग्रेस का प्रदर्शन,,, स्वास्थ्य आव्यवस्थाओं के खिलाफ दिया ज्ञापन

पन्ना में 2 पॉजिटिव मरीज और मिले,,, संख्या हुई 18,, बरबसपूरा की एक युवती और पुरुष

पन्ना में 2 पॉजिटिव मरीज और मिले,,, संख्या हुई 18,, बरबसपूरा की एक युवती और पुरुष


कोरोना की दो नए मरीज मिले

बरबस पुरा की 20 वर्षीय युवती और 34 वर्षीय पूर्व संक्रमित अब संख्या 9 हुई

पन्ना में कोरोना के सैंपल टेस्टिंग मशीन लगाई गई

24 घंटे होगी अब जांच

50 से अधिक सैंपल रोज किए जाएंगे टेस्ट

True Naat मशीन 4 दिन बाद काम करना शुरू कर देगी


(शिवकुमार त्रिपाठी) पन्ना जिले में कुरौना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है आज फिर को रोना के 2 नए केस मिले हैं और जिले में इस तरह पॉजिटिव मरीजों की संख्या 18 हो गई है बरबस पुरा गांव में जो प्रथम संपर्क के सैंपल भेजे गए थे उन्हीं में से दो की रिपोर्ट आ गई जिसमें एक 20 वर्षीय युवती पॉजिटिव पाई गई है और इन्हीं के परिवार का एक 34 वर्षीय पुरुष भी पॉजिटिव मिला है इस तरह दोनों को मिलाकर बरबस पूरा गांव में कुल संक्रमित ओं की संख्या 9 हो गई जिस से हड़कंप मचा हुआ है पर बस पुरा गांव में लगातार पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ने से लोगों में घबराहट की स्थिति निर्मित हो रही है पन्ना जिले में जिस तरीके से मरीजों की संख्या बढ़ रही है गंभीर चिंता का विषय बनता जा रहा है क्योंकि जिले में 50 हजार से अधिक प्रवासी कामगार वापस आए हैं और जितने भी मरीज मिल रहे हैं सभी प्रवासी श्रमिक हैं इस तरह अंदाज लगाया जा सकता है कि यह संख्या और बढ़ सकती है हालांकि सुविधा की दृष्टि से सरकार ने आज पन्ना जिले में कोरोना जांच मशीन की भी स्थापना कर दी


पन्ना में कोरोना मरीजों की जांच के लिए अभी तक सैंपल सागर मेडिकल कॉलेज भेजे जाते थे लेकिन अब पन्ना में ही कोरोना टेस्टिंग मशीन लग जाने के कारण अब प्रतिदिन 50 से अधिक सैंपल प्रतिदिन टेस्ट होंगे और जो मरीजों को असुविधा होती थी उससे भी बचा जा सकता है इस मौके पर पन्ना जिला चिकित्सालय के सीएमएचओ ने कहा कि यह बहुत बड़ी बात है कि पन्ना में अब कोरोना टेस्टिंग मशीन लग गई है जिससे मरीजों की पहचान करने में भी सुविधा मिलेगी और जल्द ही नतीजे आ जाएंगे

CMHO डॉ एलके तिवरी ने बताया कि चार-पांच दिन बाद ट्रू नॉट मशीन काम करना शुरू कर देगी इसके रजिस्ट्रेशन और इंस्टॉलेशन की प्रक्रिया शुरू हो गई है इंजीनियर आज ही यह मशीन लेकर आए हैं इस कारण बिना देरी किए हुए हमने पुराने सीएमएचओ ऑफिस और वर्तमान में मलेरिया कार्यालय में इस मशीन की स्थापना कर दी है इसकी चलाने के लिए टेक्निकल लोग नियुक्त किए गए हैं हमें उम्मीद है की पन्ना में करो ना रोकने के लिए इस मशीन का बड़ा योगदान होगा क्योंकि इससे तुरंत ही रिजल्ट प्राप्त हो जाते हैं इसलिए बिना देरी किए हुए डू नॉट मशीन को स्थापित करा दिया है

वही केंद्र के प्रभारी डॉ DK गुप्ता का कहना है कि 24 घंटे इस मशीन से जांच होगी और 50 सैंपल प्रतिदिन टेस्ट किए जाएंगे यह पन्ना जिले के लिए बड़ी उपलब्धि है अभी लैब में दो टेक्नीशियन काम करेगें

जिले में कोरोना की स्थिति

पन्ना जिले में कोरोना की 14 मरीज एक्टिव है 24 घंटे के अंदर 12 मरीज मिलने से हड़कंप मच गया था स्वास्थ्य विभाग ने जो हेल्थ बुलेटिन जारी किया है उसमें बताया गया है कि 72 सैंपल अभी जांच के लिए भेजे गए हैं जिसकी रिपोर्ट आनी बाकी है जिले में 8 कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं जितनी भी मरीज फास्टिफाई गए हैं सभी का इलाज किया जा रहा है लोगों से सावधान और सुरक्षित रहने की अपील के साथ शासन के निर्देशों का पालन और शोषण डिस्टेंसिंग अपनाने के लिए सलाह दी गई है जो कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं उसमें पन्ना शहर का धाम मोहल्ला ,अजयगढ़ का मंडी , बरबसपुर मकरी, देवरी, घाट सिमरिया जैसी स्थान शामिल है

आज पीआरओ से जारी समाचार के अनुसार

जिले में हर कोरोना संदिग्ध व्यक्ति के लिए जा रहे हैं सैम्पल

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. एल.के. तिवारी द्वारा बताया गया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा महामारी घोषित नोबल कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए जिले में निरंतर कार्यवाही जारी है। इनमें विदेश से आए 08 लोगों को पूर्व से ही कम्युलेटिव किया गया था। इन सभी यात्रियों का होम कोरेन्टाईन पूर्ण हो चुका हैै। अन्य राज्यों एवं जिलों से 31 मई को आए 428 व्यक्ति का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। इस प्रकार बाहर से आए कुल 56486 लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा चुका है। जिले के 428 व्यक्तियों का स्क्रीनिंग की गयी। जिले में अब तक 56486 लोगों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है। 

इनमें आज दिनांक को शाम 4 बजे तक प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार 428 लोगों को होम क्वारेन्टाईन किया गया है। अब तक जिले में कुल 20626 व्यक्तियों को होम क्वारेन्टाईन में रखा गया है। जिसमें 30049 व्यक्तियोें का होम कोरेन्टाईन पूर्ण किया गया। अब तक 470 नमूने लिए जा चुके हैं तथा 393 नमूने निगेटिव पाए गए हैं, 73 सैम्पल रिपोर्ट अप्राप्त है एवं पैथाॅलोजी द्वारा 04 सेम्पल रिजेक्ट किए गए। अब तक जिले में कोविड-19 के कुल 16 मरीजों की पुष्टि हो चुकी है। 14 पाॅजिटिव व्यक्तियों को जिला चिकित्सालय में स्थापित आइसोलेशन सेंटर में भर्ती किया गया है। कुल मरीजों में 02 पाॅजिटिव मरीज पूर्णतः स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। वर्तमान में जिला चिकित्सालय के कोविड हेल्थ केयर सेंटर में भर्ती मरीज भी स्वस्थ हैं। 

उन्होंने बताया कि होम आइसोलेशन व्यक्तियों के परामर्श हेतु जिला चिकित्सालय में टेली मेडिसिन सेंटर स्थापित है। जिसका दूरभाष क्रमांक 07732-250680 एवं वाट्सअप नम्बर 9301269628 है। इस पर सम्पर्क स्थापित कर परामर्श प्राप्त किया जा सकता है। जिला स्तर पर कोरोना कन्ट्रोल रूम स्थापित है। जिसका दूरभाष क्रमांक 07732-252009 एवं 253362 है।

कंटेनमेंट क्षेत्र का कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक द्वारा किया गया निरीक्षण

जिले के जिन क्षेत्रों में प्रवासी श्रमिकों का आना हुआ था उन श्रमिकों की स्क्रीनिंग की गयी थी। स्क्रीनिंग के दौरान जिनमें कोई भी लक्षण दिखाई दे रहा था या पूर्व में पाए गए कोरोना पाॅजिटिव के सम्पर्क के आधार पर कोविड केयर सेंटर में रखा गया था। उनके नमूने जांच के लिए प्रेषित किए गए थे। प्रयोगशाला से जिन लोगों की रिपोर्ट पाॅजिटिव पायी गयी उन लोगों को तुरंत जिला चिकित्सालय में स्थापित कोविड हेल्थ केयर सेंटर में भर्ती कराया गया है। जिन गांव के लोगों के सैम्पल कोरोना पाॅजिटिव पाए गए हैं उन सभी ग्रामों को कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित कर दिया गया है। कंटेनमेंट क्षेत्र में कफ्र्यू लागू हो गया है। इन क्षेत्रों में कोई भी व्यक्ति अनावश्यक घरों से बाहर नही निकलेगा। इन गांव में आवश्यक वस्तुओं की होम डिलेवरी कराए जाने की व्यवस्था की जाएगी। कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा एवं पुलिस अधीक्षक श्री मयंक अवस्थी द्वारा देररात इन क्षेत्रों का भ्रमण कर वहां की व्यवस्थाओं का अवलोकन किया गया। 

उन्होंने अजयगढ मुख्यालय एवं ग्राम मकरी का निरीक्षण किया गया। अजयगढ नगरीय क्षेत्र में दो कोरोना पाॅजिटिव तथा ग्राम मकरी में एक कोरोना पाॅजिटिव मरीज पाया गया था। इन क्षेत्रों को कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित किया गया है। इन क्षेत्रों को पूरी तरह से सील कर दिया गया है। इनमें न तो कोई बगैर अनुमति प्रवेश करेगा और न ही कोई व्यक्ति बगैर अनुमति क्षेत्र से बाहर जाएगा। कलेक्टर श्री शर्मा ने राजस्व एवं पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि क्षेत्र को आगामी आदेश तक पूरी तरह सील रखा जाए। लोगोें की अतिआवश्यक वस्तुओं की होम डिलेवरी कराए जाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। जिससे लोग घरों पर ही रहें। निरीक्षण के दौरान उन्होंने वहां की गयी व्यवस्थाओं का जायजा लिया और संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशानिर्देश दिए। इसके अलावा कोरोना पाॅजिटिव मरीज ग्राम बरबसपुरा पाया गया है। यह ग्राम पहले से ही कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित है। एक केस ग्राम देवरी में पाया गया है इस क्षेत्र को भी कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित कर दिया गया है। इस ग्राम में भी घोषित कंटेनमेंट क्षेत्र की तरह नियम एवं शर्ते लागू होंगी। लागू किए गए नियमों एवं शर्तो का उल्लंघन करने वाले व्यक्तियों के विरूद्ध कठोर दण्डात्मक कार्यवाही की जाएगी। सभी लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग एवं मुंह पर मास्क या कपडा बांधने के साथ बार-बार हांथ धोना अनिवार्य किया गया है

✎ शिवकुमार त्रिपाठी (संपादक)
सबसे ज्यादा देखी गयी