प्तम दिन की कथा आज
यूट्यूब में हो रहा है लाइव प्रसारण
रुकमणी विवाह पर खूब थिरके भक्त

कथा रसपान को पहुंच रहे हजारों श्रद्धालु
पहाड़ी खेरा की द्विवेदी परिवार ने किया है आयोजन
ईश्वर की कृपा से ही भगवान प्राप्त होते हैं

(शिवकुमार त्रिपाठी) पन्ना के ऐतिहासिक श्री जुगल किशोर जी मंदिर में संगीतमय भागवत कथा का आयोजन किया गया है जिसका आज अंतिम दिन होगा शाम को बड़े भक्ति भाव से कथा का विश्राम हो जाएगा चित्रकूट से पधारे बदरी प्रपन्नाचार्य युवराज स्वामी के श्री मुख से संगीतमय कथा को सुनकर श्रद्धालु भाव विभोर हो रहे हैं महाराज श्री ने रुक्मणी विवाह प्रसंग की कथा सुनाते हुए कहा की भगवान की प्राप्ति ईश्वर की बगैर नहीं हो सकती ईश्वर जब चाहता है तभी लोग सद मार्ग पर चलते हैं और सद मार्ग पर चलकर ही भगवान को पाया जा सकता है इसलिए ईश्वर की भक्ति अपनी शक्ति के अनुसार करते रहना चाहिए
और इसी भक्ति से ही लोग सद मार्ग पर चलते हैं युवराज स्वामी ने कहा की देश में शांति खुशहाली प्रेम और भाईचारे के साथ ही लोग सद मार्ग मैं चलकर सभी का कल्याण होता है महाराज ने रुक्मणी विवाह, उधो प्रसंग की चर्चा कर भक्ति भजनों से श्रद्धालुओं को झूमने के लिए मजबूर कर दिया कथा समापन के समय जय माल और विवाह प्रसंग का आयोजन किया गया और महाराज श्री ने उधो गोपियों के बीच मार्मिक वार्तालाप पर्सन की भी चर्चा की संगीत की स्वर स्वर लहरियों के बीच जब मंदिर परिसर में भक्ति गीत सुनाई दिए वहां मौजूद सभी श्रद्धालु थिरकने लगे और खूब जयकारे लगाए

संगीतमय कथा कह रहे युवराज स्वामी ने 7 दिनों के इस भव्य आयोजन में ज्ञान और शतकर्म की चर्चा तो की ही बहुत बड़े सरल और सहज अंदाज में लोगों को भागवत प्रसंगो को समझाया और कहा कि यदि जीवन में एक बार भी सच्चे मन से भगवान का स्मरण किया जाता है तो एक सत्कर्म ही लोगों को स्वर्ग की प्राप्ति करा देता है इसलिए इंसान को बुरे कर्म छोड़ शब्द मार्ग पर चलकर अच्छे कार्य करना चाहिए जिससे लोगों की भलाई और समाज का कल्याण हो सके

आज कथा का अंतिम दिन

पन्ना की श्री जुगल किशोर जी मंदिर में आयोजित की गई भाग श्रीमद् भागवत कथा का आज शाम अंतिम दिन है जिसमें बड़ी संख्या में भक्त पहुंच रहे हैं इसके बाद कल भंडारा आयोजित किया जाएगा चित्रकूट से पधारे आचार्य आश्रम के श्री बदरी प्रपन्नाचार्य युवराज स्वामी के साथ पुरोहित और संगीत साधना करने वाले साथी 7 दिन से लगातार कथा श्रवण करा रहे हैं और पन्ना नगर सहित आसपास के भक्त बड़ी संख्या में पहुंच रहे आज अंतिम दिन होने के कारण सायं 3:00 बजे से ही बड़ी संख्या में भक्त पहुंचेंगे और रात्रि 8:00 बजे तक कथा की जाएगी और आज कई मार्मिक प्रसंगों की चर्चा होगी

Leave a Reply

Your email address will not be published.