ताज़ा खबर
पन्ना टाइगर रिजर्व में इतने दिखे बाघ कि मन गया टाइगर डे , टूरिस्ट हुए रोमांचित लोकायुक्त पुलिस की बड़ी कार्यवाही,- अमानगंज नप अध्यक्ष सारिका खटीक रिश्वत लेते गिरफ्तार, खजुराहो लोकसभा में उम्मीद से कम 56.09 प्रतिशत मतदान, 2019 तुलना में 12 फ़ीसदी कम हुई वोटिंग खजुराहो लोकसभा में चुनाव प्रचार थमा - बीडी शर्मा ने किया जनसंपर्क, जगह-जगह स्वागत ,, सपा की प्रेस कॉन्फ्रेंस

भाजपा की भाषा बोल रहे हैं कलेक्टर – श्रीकांत दीक्षित

भाजपा की भाषा बोल रहे हैं कलेक्टर – श्रीकांत दीक्षित

  1. हाई कोर्ट की टिप्पणी को चरितार्थ कर गए पन्ना कलेक्टर- श्रीकांत दीक्षित

अमानगंज में विकास यात्रा के दौरान भाजपा के पक्ष में लोगों को किया संबोधित

भाजपा एजेंट बने कलेक्टर पन्ना को तत्काल हटाने की मांग

पन्ना जिले के अमानगंज में दिनांक 08.02.2023 को आयोजित विकास यात्रा की सभा में स्थानीय लोगों को संबोधित करते हुए कलेक्टर पन्ना संजय मिश्रा ने आपत्तिजनक टिप्पणी की है। जिसे लेकर आज प्रदेश कांग्रेस कमेटी सदस्य श्रीकंात पप्पू दीक्षित ने प्रेसवार्ता का आयोजन किया और इस मामले पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि विगत दिनों जबलपुर हाई कोर्ट ने कलेक्टर पन्ना संजय कुमार मिश्र पर टिप्पणी करते हुए उन्हें भाजपा का एजेंट कहा था। आज यह टिप्पणी पूरी तरह सही हो गई है। कलेक्टर पन्ना ने अपने पद की मर्यादा के इतर भाजपा ऐजेंट की तरह सभा को संबोधित किया और लोगों को भाजपा के पक्ष में वोट करने के लिए प्रेरित किया। जो कहीं से भी सही नहीं है। उन्होंने बताया कि कलेक्टर ने सभा के दौरान कहा कि ‘‘ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कहते हैं कि देश की आजादी का 75 वर्ष चल रहा है, 25 साल बाद शताब्दी वर्ष मनाया जायेगा। उनका सपना है कि जब शताब्दी वर्ष हो तब भी यह सरकार रहे। ऐसे में आपको इसी मेहनत के साथ आगामी 25 वर्ष इसी सरकार के साथ बने रहना है। किसी के भटकाने या बहलावे में आने की जरूरत नहीं है।’’ श्रीकांत दीक्षित ने कहा कि इस तरह का बयान सीधे तौर पर एक पार्टी विशेष के लिए प्रेरित करना है। जो एक आईएएस स्तर के अधिकारी को कतई शोभा नहीं देता। उन्होंने कहा कि इस मामले पर कांग्रेस पार्टी आईएएस एसोशियन को पत्र लिखकर शिकायत करेगी, साथ ही महामहिम राज्यपाल से ऐसे कलेक्टर को तत्काल हटाने की मांग की जायेगी। श्रीकांत दीक्षित ने कहा कि लोकतंत्र में न्यायपालिका, कार्यपालिका और विधायिका के अपने दायित्व हैं। यही लोकतंत्र की शोभा है। लेकिन कलेक्टर पन्ना ने अपने पद में रहते हुए इस तरह एक पार्टी विशेष के पक्ष में पूरी तरह समर्पित भाव से कार्य किया जाना बेहद आपत्तिजनक है। कलेक्टर पन्ना संजय मिश्रा ने अमानगंज की सभा में जो कहा वे बेहद आपत्तिजनक है। कलेक्टर को ऐसे बयान नहीं देने चाहिए। उन्होंने लोगों को सीधे तौर पर भाजपा के पक्ष में वोट करने के लिए पे्ररित किया है, जो एक आईएएस की पद की गरिमा के विपरीत है।


✎ शिव कुमार त्रिपाठी

सबसे ज्यादा देखी गयी