ताज़ा खबर
CM शिवराज एवं बीडी शर्मा पन्ना में जनकल्याण एवं सुराज सभा को करेंगे संबोधित युवती एसिड मामला- आंखें सुरक्षित-- प्रशासन,, जिले में कॉग्रेस का प्रदर्शन और ज्ञापन, एसपी कलेक्टर की प्रेस कॉन्फ्रेंस और धन्यवाद किशोरी पर एसिड अटैक,, मचा हड़कंप,, एसपी,कलेक्टर मिलने पहुंचे, कांग्रेस अध्यक्ष ने की कार्यवाही की मांग बरसते पानी में कांग्रेस का प्रदर्शन,,, स्वास्थ्य आव्यवस्थाओं के खिलाफ दिया ज्ञापन

बृजपुर पुलिस की बड़ी कार्यवाही ,,आदिवासी का हीरा हड़पने वाले दो व्यापारी गिरफ्तार

बृजपुर पुलिस की बड़ी कार्यवाही ,,आदिवासी का हीरा हड़पने वाले दो व्यापारी गिरफ्तार

ग्रामीण आदिवासी से छलपूर्वक अवैधानिक रूप से हीरा हडपने वाले अपराधियो का हुआ पर्दाफाश

कुछ दिन पूर्व ग्राम खिरवा में हुये झूठे अपहरण की विवेचना के दौरान मिला महत्वपूर्ण सुराग
हीरा तस्करी का नया खुलासा
दो हीरा तस्कर व्यापारी गिरफ्तार

(शिवकुमार त्रिपाठी),,,पन्ना में बरसात में गड्ढे नदी और खेतों में अचानक हीरे मिलने लगते हैं और

 


 कारोबार में अंकुश लगेगा


*घटना का संक्षिप्त विवरण –* दिनांक 21/08/2020 को फरियादी रामविश्वास पिता जिठुआ गौड उम्र 40 साल निवासी ग्राम खिरवा थाना बृजपुर द्वारा थाना बृजपुर मे रिपोर्ट की गई कि आज से करीब 3-4 माह पहले मेरी बहन ममता गौड को खेत में किसानी का काम करते हुये हीरा मिला था जो मेरी बहन ने मेरे घर आकर मुझे बताया कि मुझे हीरा मिला है तो मैने देखा मुझे हीरा जैसा लगा । हीरा मिलने के कुछ दिन पूर्व मेरे पास पन्ना का छोटू जडिया आया था और मुझे अपने नाम का कार्ड दे गया था कह रहा था कि इस कार्ड में मेरा मोबाइल नम्बर लिखा है अगर किसी को हीरा बेचना हो तो इस नम्बर पर संपर्क कर लेना । हीरा मिलने के 8-10 दिन बाद मेरे द्वारा उस नम्बर पर फोन लगाकर छोटू जडिया को हीरा मिलने की बात बताई गई तो वह अपने साथ एक व्यक्ति को लेकर मेरे खेत मे आया था जब मैने उसे हीरा दिखाया तो छोटू जडिया ने कहा कि यह तो हीरा ही है । उसने अपने साथ आये व्यक्ति से कहा कि शुभम तुम भी देख लो कैसा है इसके बाद उसने कहा कि यह हीरा मुझे दोगे तो यही नगद रूपये दे दूँगा । तो मेरे द्वारा कहा गया कि मुझे शासन की चोरी नही करना है आप लोग मेरा हीरा हीरा कार्यालय में जमा करवा दीजिए तो वो लोग बोले ठीक है हम लोगो हीरा कार्यालय से हीरा चेक करवाकर तुम्हे बता देगे कि हीरा कैसा है व इसकी कीमत कितनी है हम लोगो की पहचान है हीरा कार्यालय मे तो हम लोग तुम्हे हीरा की अच्छी कीमत दिलवा देंगें । मैने विश्वास में आकर छोटू जडिया को हीरा दे दिया एवं उससे हीरा कार्यालय मे हीरा जमा करने की रशीद देने के लिये कहा तो उसने कहा चिन्ता न करो मै तुमको 2-3 दिन में रशीद दे दूँगा, उसके बाद छोटू जडिया एवं शुभम जडिया हीरा लेकर चले गये कुछ दिन बाद मैने छोटू को फोन लगाया तो वह बोला मैने तुम्हारा हीरा जमा कर दिया है तुम्हारी रशीद मेरे पास है 1-2 दिन मे दे दूँगा इसके बाद वो मेरे पास नही आया तो रक्षाबंधन के दो-तीन दिन पहले मै अपने भान्जे कल्लू के साथ पन्ना गया था जहाँ छोटू जडिया से मिला व उससे कहा कि हीरा की रशीद दे दो तो बोला कि तुम्हारी रशीद घर में रखी है फिर कभी दे दूँगा अभी तुम्हारे घर 1 लाख रूपये भिजवा देता हूँ बाद में जब हीरा की नीलामी होगी तब मेरा रूपया वापस कर देना । छोटू जडिया द्वारा न तो रूपये भिजवाये गये और न ही हीरा जमा करने की रशीद मुझे दी गई । फिर मैने 8 दिन पूर्व हीरा कार्यालय पहुँचकर कर्मचारियो से पता किया कि तीन – चार माह पहले छोटू जडिया ने रामविश्वास के नाम से कोई हीरा जमा किया है या नही तो वहाँ के कर्मचारियो द्वारा रिकार्ड देखकर बताया गया कि तुम्हारे नाम से यहाँ कोई हीरा जमा नही किया गया है । उसके बाद मै फिर से छोटू जडिया के पास गया और उससे रशीद माँगी तो वह बोला कौन सी रशीद मै तुम्हारा हीरा नही लाया हूँ । अब तुम यहाँ मत आना । मेरा हीरा करीब 3-4 कैरेट का था जिसकी कीमत लगभग 8 लाख रूपये थी जो हीरा कार्यालय मे जमा करने के नाम से छोटू एवं शुभम जडिया ले गये थे जो आज दिनांक तक छोटू द्वारा हीरा जमा नही किया गया । फरियादी की रिपोर्ट पर थाना बृजपुर में अप0क्र0 203/2020 धारा 379,420 भादवि का कायम किया जाकर विवेचना मे लिया गया ।

*पुलिस द्वारा की गई कार्यवाही –* थाना प्रभारी बृजपुर द्वारा तत्काल वरिष्ठ अधिकारियो को मामले से अवगत कराया गया । मामले की गंभीरता को देखते हुये आरोपियो की गिरफ्तारी हेतु पुलिस अधीक्षक पन्ना श्री मयंक अवस्थी के निर्देशन , अति0 पुलिस अधीक्षक पन्ना श्री बी. के. एस परिहार एवं अनु0 विभा0 अधि0 पुलिस अजयगढ श्री इसरार मंसूरी के मार्गदर्शन मे थाना प्रभारी अजयगढ निरीक्षक अरविन्द कुजूर, थाना प्रभारी बृजपुर उनि सिद्धार्थ शर्मा के नेतृत्व मे पुलिस टीमो का गठन किया गया पुलिस अधीक्षक पन्ना के निर्देशो का पालन करते हुये पुलिस टीमो द्वारा संभावित स्थानो पर आरोपियो की तलाश की गई । पुलिस को विवेचना दौरान जानकारी मिला कि पूर्व मे रक्षाबंधन के समय जब रामविश्वास के साथ कल्लू गौड पन्ना आया था तो छोटू जडिया द्वारा 01 लाख रूपये घर भेजने की बात कही गई थी जिसे लेकर उसे लगा था कि पैसा रामविश्वास को मिल गया है इसी बात को लेकर उसके द्वारा अपहरण की झूठी कहानी रची गई थी । मुखबिर द्वारा पुलिस को सूचना प्राप्त हुई कि उक्त दोनो आरोपी बायपास रोड पन्ना तरफ है ।आज दिनांक 22.08.2020 को मुखबिर की सूचना के आधार पर पुलिस टीमो द्वारा दोनो आरोपियो को बायपास रोड पन्ना से पुलिस अभिरक्षा मे लिया जाकर पूँछताछ की गई तो छोटू जडिया द्वारा बताया गया कि 3-4 माह पहले मैने शुभम जडिया के साथ मिलकर रामविश्वास से छलपूर्वक हीरा हडपने हेतु यह बोला था कि हम लोग तुम्हारा हीरा , हीरा कार्यालय मे जमा करवाकर अच्छी कीमत दिलवा देगे जिसकी पक्की रशीद भी तुम्हे मिलेगी ऐसा बोलकर हम लोग रामविश्वास से हीरा ले आये थे जिसे हम लोगो ने हीराकार्यालय मे जमा नही किया अपने पास रख लिया है जो शुभम के पास है पुलिस द्वारा शुभम से पूँछताछ किये जाने पर उसके द्वारा हीरा अपने घर मे रखा होना बताया गया जिसे पुलिस द्वारा शुभम के घर से जप्त किया गया एवं हीरा का परीक्षण हीरा कार्यालय पन्ना से करवाया गया जो हीरा कार्यालय से हीरे का वजन करीब 3 कैरेट 29 सेन्ट को होना बताया जिसकी अनुमानित राशि 08 लाख रूपये है । दोनो आरोपियो को पुलिस अभिरक्षा मे लिया जाकर कब्जे से हीरा जप्त किया गया है।

सराहनीय योगदान – उक्त प्रकरण के खुलासा में थाना प्रभारी अजयगढ निरीक्षक अरविंद कुजूर, थाना प्रभारी बृजपुर उनि सिद्धार्थ शर्मा, थाना प्रभारी धरमपुर उनि सुधीर बैगी,चौकी प्रभारी सिविल लाइन उनि अभिषेक पाण्डेय, सउनि भानु मिश्रा , सउनि आर0एस0 पाण्डेय, आर0 धीरेन्द्र सिंह , सुरेन्द्र कुमार, गिरधारी साहू, वृषकेतु रावत, सर्वेन्द्र कुमार, पदम रावत सायबर सेल से आर0 नीरज रैकवार, आशीष अवस्थी, धर्मेन्द्र सिंह राजावत की महत्वपूर्ण भूमिका रही ।

✎ शिवकुमार त्रिपाठी (संपादक)
सबसे ज्यादा देखी गयी