ताज़ा खबर
CM शिवराज एवं बीडी शर्मा पन्ना में जनकल्याण एवं सुराज सभा को करेंगे संबोधित युवती एसिड मामला- आंखें सुरक्षित-- प्रशासन,, जिले में कॉग्रेस का प्रदर्शन और ज्ञापन, एसपी कलेक्टर की प्रेस कॉन्फ्रेंस और धन्यवाद किशोरी पर एसिड अटैक,, मचा हड़कंप,, एसपी,कलेक्टर मिलने पहुंचे, कांग्रेस अध्यक्ष ने की कार्यवाही की मांग बरसते पानी में कांग्रेस का प्रदर्शन,,, स्वास्थ्य आव्यवस्थाओं के खिलाफ दिया ज्ञापन

झलारिया महादेव के दर्शन सिर्फ आज,,, पन्ना टाइगर रिजर्व ने दी विशेष अनुमति,, 10 से 4बजे खुलेगा श्रद्धालुओं को गेट

झलारिया महादेव के दर्शन सिर्फ आज,,, पन्ना टाइगर रिजर्व ने दी विशेष अनुमति,, 10 से 4बजे खुलेगा श्रद्धालुओं को गेट

अलौकिक स्थान है झलारिया महादेव
इस विलक्षण स्थान में गंगा स्वयं करती है अभिषेक
साल में सिर्फ एक बार मिलती है अनुमति

झलारिया महादेव मंदिर पन्ना टाइगर रिजर्व के कोर एरिया में स्थित है यहां टूरिस्ट और श्रद्धालुओं को जाने की अनुमति नहीं रहती वर्ष भर के इंतजार के बाद वर्ष में सिर्फ एक बार श्रद्धालुओं को यहां आने जाने की विशेष अनुमति दी जाती है इस कारण से झलारिया महादेव आज दिन भर के लिए श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया गया है इस विलक्षण स्थान को देखने के लिए वर्ष भर लोग इंतजार करते हैं क्योंकि इस अलौकिक दिव्य स्थान में भगवान शंकर की अद्भुत प्रतिभा तो है ही गंगा मैया स्वयं चट्टान फाड़ कर शंकर जी का अभिषेक करती हैं कोर जोन एरिया के इस मंदिर में 7 दिन के लिए भागवत कथा का आयोजन किया गया है और समिति के सदस्य व्यवस्थाएं करते हैं और भंडारे के लिए एक दिन को क्षेत्र खोला जाता है आज भंडारा होने के कारण विशेष अनुमति प्रदान की गई है जिसमें सभी लोग इस स्थान के दर्शन कर पुण्य लाभ ले सकेंगे

पन्ना टाइगर रिजर्व प्रबंधन से मिली जानकारी के अनुसार स्थानीय लोगों की आस्था और भावना को ध्यान में रखकर प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी विशेष अनुमति देकर झलारिया महादेव के लोग दर्शन कर सकेंगे इसके लिए टाइगर रिजर्व ने पुख्ता इंतजाम किए हैं रास्ते पर किसी को कोई वाइल्डलाइफ को प्रभावित करने नहीं दिया जाएगा श्रद्धालु स्वयं के बाहन से हिनौता गेट से इंट्री करा कर और विधिवत पास लेकर झलारिया महादेव मंदिर तक जा सकेंगे

यह गेट सुबह 10:00 बजे से खोल दिया जाएगा और शाम 4:00 बजे तक वाहनों को प्रवेश दिया जाएगा श्रद्धालु स्वयं के वाहन से जा सकते हैं
समिति के सदस्यों ने अपील की है कि जो भी श्रद्धालु आते हो टाइगर रिजर्व के किसी नियम को ना तोड़े और नियमों में रहकर ही दर्शन करें टाइगर के अधिकारियों ने भी अपील की है कि की वन्यजीवों का एरिया है इसलिए अपने निजी वाहनों से सीधे उसी स्थान तक जाएं और शीघ्र दर्शन कर वापस आए किसी भी नियम तोड़ने पर वैधानिक कार्यवाही भी होगी
इस दिव्य स्थान पर श्रद्धालु बड़ी संख्या में आज पहुंचेंगे जिसके देखरेख के प्रबंध टाइगर रिजर्व अलौकिक स्थान हे

यह स्थान दर्शनी और आध्यात्मिक है दर्शन करने से यहां लोगों की मनोकामनाएं पूर्ण होती ही है प्राकृतिक स्थान होने के कारण भी अलौकिक माना गया है क्योंकि एक विशालकाय चट्टान के नीचे छोटी सी गुफा है वहां मूर्ति विराजमान है और जलधारा इस चट्टान को फाड़कर स्वयं प्रकट हुई आसपास कहीं पानी ना होने के बावजूद निरंतर 24 घंटे जलधारा झलारिया महादेव के ऊपर प्रवाहित होती रहती है जो अद्भुत है ऐसा स्थान कहीं देखने को नहीं मिलता स्थानीय लोगों की माने तो टाइगर भी यहां दर्शन करने आते हैं इस स्थान को देखने वालों की इच्छा सिर्फ आज ही पूरी हो सकती है क्योंकि पूरे साल यहां आने जाने की अनुमति नहीं रहती

श्रद्धालुओं से अपील की गई है कि वन्यजीव क्षेत्र होने के कारण यहां शांति और बिना भीड़ इकट्ठे किए ही पहुंचकर दर्शन करें हालांकि इस सबके लिए टाइगर रिजर्व प्रबंधन ने गाइडलाइन जारी की है चप्पे-चप्पे पर वन कर्मी मौजूद किए हैं और जिस रास्ते से जाना है उसमें पूरे जंगल में दिशा सूचक लगाए गए हैं

✎ शिवकुमार त्रिपाठी (संपादक)
सबसे ज्यादा देखी गयी