ताज़ा खबर
धरमपुर में आयोजित हुआ ऐतिहासिक इनामी दंगल,,, UP और MP के पहलवानों ने लगाए दाव भक्ति,साधना और उमंग के साथ नवरात्रि संपन्न, अनुभूति ग्रुप ने आयोजित किया गरबा महोत्सव, बलदेव जी मंदिर में सजा वैष्णो देवी का दरबार, गुफा देख अभिभूत हुए भक्त त्योहारी सीजन में अवैध प्लाटिंग - "स्क्वायर फिट" के नाम से बेच रहे प्लाट, पंपलेट बांटे,,,कॉलोनाईजर व रेरा लाईसेंस देखे नहीं खरीदें प्लाट अपहरण एवं हत्या के आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा, जुर्माना भी लगाया

युवती एसिड मामला- आंखें सुरक्षित– प्रशासन,, जिले में कॉग्रेस का प्रदर्शन और ज्ञापन, एसपी कलेक्टर की प्रेस कॉन्फ्रेंस और धन्यवाद

युवती एसिड मामला- आंखें सुरक्षित– प्रशासन,, जिले में कॉग्रेस का प्रदर्शन और ज्ञापन, एसपी कलेक्टर की प्रेस कॉन्फ्रेंस और धन्यवाद

युवती की दोनों आंखें सुरक्षित – कलेक्टर

एसिड नहीं कौआ का दूध आंखों में डाला गया – एसपी

चित्रकूट नेत्र चिकित्सालय में चल रहा है इलाज कलेक्टर और एसपी ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस

प्रेस कॉन्फ्रेंस में पूरे मामले की जानकारी देते हुए एसपी और कलेक्टर

(शिवकुमार त्रिपाठी) पन्ना जिला मुख्यालय से लगभग 70 किलोमीटर दूर ग्राम पंचायत सुनवारी के छोटे से गांव बराहों  की युवती की आंखों से अंधा करने की नियत से डाला गए जहरीले पदार्थ का मामला और गरमा गया है इस वीभत्स घटना की चर्चा प्रदेश की राजधानी तक रही सरकार की ओर से मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने सफाई दी तो पन्ना में एसपी कलेक्टर ने प्रेस कान्फ्रेंस कर पूरे घटना की सिलसिलेवार जानकारी दी वहीं दूसरी ओर यह मामला राजनीतिक रंग लेता जा रहा जिला कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर  सभी व्लाक मुख्यालयों में युवती  सुरक्षा को लेकर ज्ञापन दिया गया वहीं दूसरी और इंसाफ दल नाम के नवोदित दल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पहुंचकर एसपी और कलेक्टर की तारीफ की अपराधियों के पकड़े जाने पर खुशी जाहिर की कहा जिला प्रशासन के  कुशल रवैया से जिले की महिलाएं सुरक्षित हैं हम समाज की ओर से प्रशासन के कार्यों की तारीफ करते हैं

 

 प्रेसकॉन्फ्रेंस में घटना के बारे में यह बताया गया, प्रेस नोट

नवयुवती के ऊपर प्राणघातक हमला कर अकौआ के दूध में डिस्टिल वाटर मिलाकर चेहरे एवं दोनो आँखों में डालने वाले दोनो आरोपियों को पन्ना पुलिस ने किया 05 घण्टे के अन्दर गिरफ्तार

•आरोपियों के कब्जे से घटना में प्रयोग किये गये अकौआ के दूध की शीशी, डिस्टिल वाटर की शीशी, 02 डन्डे, आरोपी का 01 मोबाइल एवं मोटर साइकिल जप्त

घटना का संक्षिप्त विवरण –* थाना पवई में दिनाँक 21/09/2021 को सी.एच.सी. पवई से बराहों निवासी मजरूबा के घायल अवस्था में अस्पताल में भर्ती होने के संबंध में तहरीर प्राप्त हुई थी । तहरीर जाँच दौरान पुलिस द्वारा मजरूबा के कथनों के आधार पर 02 आरोपियों के विरूद्ध प्रथम दृष्टया थाना पवई में मजरूबा के साथ गालीगलौच कर मारपीट करने एवं मजरूबा की ऑखों में ड्राप के माध्यम से तरल तेज रासायनिक पदार्थ डालने का अपराध क्रमांक 379/21 धारा 294, 323, 324, 506, 34 भादवि का कायम किया जाकर विवेचना में लिया गया । दौरान विवेचना मामले में आरोपियों के विरूद्ध धारा 326, 326 ए, 307 भादवि का इजाफा किया जाकर विवेचना की जा रही है ।

*पुलिस द्वारा की गई कार्यवाही –* थाना प्रभारी पवई निरीक्षक डी.के. सिंह द्वारा घटना के संबंध में पुलिस अधीक्षक पन्ना  धर्मराज मीना को सम्पूर्ण जानकारी से अवगत कराया गया । पुलिस अधीक्षक पन्ना द्वारा घटना को गंभीरता से लेते हुये तत्परता पूर्वक मामले के दोनो आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु थाना प्रभारी कोतवाली पन्ना निरीक्षक अरूण सोनी, थाना प्रभारी पवई निरीक्षक डी के सिंह, थाना प्रभारी बृजपुर उनि बखत सिंह के नेतृत्व में अलग-अलग 03 पुलिस टीमो का गठन किया गया जिसमें पुलिस सायबर सेल टीम पन्ना से प्र.आर. नीरज रैकवार को शामिल किया जाकर घटना के संबंध में जानकारी एकत्रित करने हेतु निर्देशित किया गया । पुलिस अधीक्षक पन्ना द्वारा दिये गये निर्देशो का पालन करते हुये पुलिस टीमों द्वारा घटनास्थल के आसपास के इलाकों, आरोपियों के छिपने संबंधी संभावित स्थानो , घटना स्थल के आस-पास के जंगलो एवं जिले के समस्त थाना क्षेत्रों में आरोपियों के आश्रय लेने वाले संभावित स्थानो पर आरोपियों की तलाश की गई । पुलिस सायबर सेल पन्ना एवं मुखबिर द्वारा पुलिस अधीक्षक पन्ना श्री धर्मराज मीना को जानकारी दी गई कि घटना के वांछित आरोपी बृजपुर तरफ के जंगली इलाके में हैं, पुलिस अधीक्षक पन्ना द्वारा तत्काल तीनों पुलिस टीमों को मुखबिर सूचना से अवगत कराया जाकर मुखबिर के बताये स्थान पर आरोपियों की घेराबन्दी करने हेतु रवाना किया गया । पुलिस टीमों द्वारा मुखबिर के बताये स्थान पर पहुँचकर आरोपियों को घेराबन्दी कर पुलिस अभिरक्षा में लिया जाकर पूँछताछ की गई पुलिस टीम द्वारा की गई पूँछताछ पर बताया कि मैनें अपने रिश्तेदार के साथ मिलकर मजरूबा और उसके भाई को लाठी डन्डो से मारपीट किया एवं मजरूबा का चेहरा खराब कर ऑख फोड़ने व जान से मारने की नीयत से प्राणघातक हमला करते हुये अकौआ के दूध में डिस्टिल वाटर मिलाकर मजरूबा की दोनो ऑखों में डालकर घटना स्थल से भाग गये थे । आरोपियों के बताये अनुसार पुलिस टीम द्वारा आरोपियों के कब्जे से 1 छोटी शीशी में अकौआ का दूध, 1 शीशी में डिस्टिल वाटर, 02 डन्डे ,आरोपी का मोबाइल एवं घटना में प्रयुक्त आरोपी की मोटरसाइकिल को जप्त किया जाकर आरोपियों को गिरफ्तार किया गया जिन्हें माननीय न्यायालय में पेश किया जा रहा है ।

*जप्त सामग्री -* आरोपियों के कब्जे से 1 छोटी शीशी में अकौआ का दूध, 1 शीशी में डिस्टिल वाटर, 02 डन्डे ,आरोपी का मोबाइल एवं घटना में प्रयुक्त आरोपी की मोटरसाइकिल

*सराहनीय योगदान –* थाना प्रभारी पवई निरीक्षक डी के सिंह, थाना प्रभारी कोतवाली पन्ना निरीक्षक अरुण कुमार सोनी, थाना प्रभारी बृजपुर उनि0 बखत सिंह, उनि जी एस वाजपेयी, उनि सुशील शुक्ला, उनि अंजली राजपूत, उनि के पी रजक, सउनि राकेश सिंह बघेल, सउनि रामकृष्ण पाण्डेय,सउनि सुरेन्द्र तिवारी, श्यामलाल पटेल, जगदीश सिंह, पुलिस सायबर सेल पन्ना से प्र.आर. नीरज रैकवार ,राहुल सिंह बघेल, आरक्षक आशीष अवस्थी, धर्मेन्द्र सिंह राजावत, राहुल पाण्डेय, पुलिस टीम में शामिल प्र.आर.लक्ष्मीनारायण यादव, सतेन्द्र बागरी, शिवस्वरूप तिवारी, मनोज द्विवेदी, आर. बीरेन्द्र कुमार, सलीम खान, रोहित पाटकर, महिला आर. दीक्षा यादव, विनीती परमार, चालक प्र.आर. नागेन्द्र, आर. रवि खरे, विष्णुदत्त तिवारी का सराहनीय योगदान रहा है । पुलिस अधीक्षक पन्ना द्वारा उक्त पुलिस टीम को 5000 रूपये के ईनाम से पुरुस्कृत करने की घोषणा की गई है ।

घटना दिनांक 21 सितंबर की उस ख़ौफ़नाक सुबह को याद कर पीड़िता सिहर उठती है। घटना के दूसरे दिन जब उसे गंभीर हालत में पवई के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से पन्ना जिला अस्पताल लाया गया, तो मामला प्रकाश में आते ही हड़कंप मच गया। पीड़िता ने बताया कि वारदात को अंजाम गांव के ही सुमेर राजा व इनके रिश्तेदार गोल्डी राजा ने दिया है। पिछड़े वर्ग व गरीब परिवार की इस युवती ने बताया कि उसका छोटा भाई दिल्ली में मजदूरी करता है तथा वह गांव में छोटी सी दुकान चलाती है। घटना के बाद से रोशनी की जिंदगी में अंधेरा छा गया है। उसकी आंखें झुलस गई हैं तथा उसे कुछ भी दिखाई नहीं दे रहा है।

क्यों दिया आरोपियों ने घटना को अंजाम

इस खौफनाक वारदात के पीछे की असल वजह क्या है ? इस संबंध में पीड़िता ने पत्रकारों को बताया कि विगत 4 माह पूर्व आरोपियों के परिवार की एक लड़की कहीं चली गई है। तभी से आरोपी उसे प्रताड़ित करते आ रहे हैं। आरोपियों का गांव में दबदबा है, उनके खिलाफ कुछ कहने और बोलने की कोई हिम्मत नहीं करता। पीड़िता ने बताया कि आरोपियों को यह शक था कि उनके परिवार की जो लड़की लापता हुई है उसकी जानकारी मुझे है। मैं उन्हें बताती रही कि मुझे कुछ भी नहीं पता फिर भी उन्होंने एक नहीं सुनी। मेरे छोटे भाई को दिल्ली से जबरन ले आए और मंगलवार को मुझे घर से जबरदस्ती उठाकर जंगल ले गए। वहां मेरे भाई व मुझे खूब मारा और फिर मुझे लिटाकर दोनों आंखों में कोई जहरीला घोल डाल दिया। मेरा भाई कहां है यह मुझे नहीं पता।

एसिड अटैक की घटना से स्तब्ध हैं लोग

पन्ना जिले में एसिड अटैक की यह पहली घटना है, यही वजह है कि घटना के बाद से लोग स्तब्ध व ख़ौफ़ज़दा हैं। बताया गया है कि 21 सितंबर को वारदात के बाद आरोपी ने ही मोटरसाइकिल से पीड़िता को दोपहर में उसके घर छोड़ा था। इसके बाद परिजनों ने 100 डायल की मदद से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पवई ले गए और वहां भर्ती कराया। युवती की गंभीर हालत को देखते हुए उसे जिला चिकित्सालय के लिए रेफर कर दिया गया। मामले पर विभिन्न संगठनों ने चिंता जाहिर करते हुए आक्रोश जताया है। जिला कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष श्रीमती शारदा पाठक पीड़िता से जिला अस्पताल में मिलीं और इस अमानवीय घटना को शर्मसार करने वाली बताया। उन्होंने कानून व्यवस्था की स्थिति पर भी चिंता जाहिर की है। श्रीमती पाठक का कहना है कि एसिड अटैक का शिकार न तो मर पाता है और न ही जी पाता है। एसिड से उसका शरीर ही नहीं आत्मा भी झुलस जाती है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 24 को दौरे पर आ रहे पन्ना

फोटो – CM शिवराज

प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 24 सितम्बर को दौरे पर पन्ना आ रहे हैं। पूरा प्रशासन जब मुख्यमंत्री के दौरे की तैयारियों में जुटा हुआ है उस समय यह घटना होने पर प्रशासन की धड़कने भी बढ़ी हुई हैं। जिले के प्रशासनिक मुखिया संजय कुमार मिश्र व पुलिस कप्तान धर्मराज मीणा आनन-फानन जिला अस्पताल पहुंचकर घटना पर मलहम लगाने का प्रयास किया है। उन्होंने पीड़िता की हरसंभव मदद व आरोपियों की शीघ्र गिरफ़्तारी कर उनके विरुद्ध कड़ी कार्यवाही का भरोसा दिलाया है। जिला चिकित्सालय पन्ना के सिविल सर्जन डॉक्टर एल.के. तिवारी ने बताया कि सद्गुरु सेवा संघ ट्रस्ट के आई हॉस्पिटल चित्रकूट के डायरेक्टर डॉ. वी.के. जैन से उनकी बात हो गई है, उन्होंने समुचित इलाज का भरोसा दिया है। आंखों के बेहतर इलाज हेतु एंबुलेंस के माध्यम से पीड़िता को चित्रकूट भेजा गया है। उन्होंने कहा कि इलाज में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी, इलाज की संपूर्ण व्यवस्था प्रशासन करेगा।

घटना के दूसरे दिन दोनों आरोपी हुए गिरफ्तार

आरोपियों का जुलूस निकला

युवती के चेहरे व आंखों पर जहरीला पदार्थ डालकर आशय पूर्वक प्राणघातक हमला एवं  मारपीट करने जैसे घिनौने और सनसनीखेज अपराध के दो आरोपियों को पन्ना पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। साइबर सेल पन्ना ने जारी विज्ञप्ति में बताया कि थाना पवई के सनसनीखेज अपराध जिसमें आरोपियों ने नवयुवती के आंख में विषैला व तरल रासायनिक अम्लीय/ क्षारीय पदार्थ डालकर जान से खत्म  करने की नीयत से मारपीट कर उसका जीवन संकट में डाला था, उन अपराधियों को जिला पन्ना की पुलिस टीम ने पुलिस धर्मराज मीना के नेतृत्व एवं मार्गदर्शन में कुछ घंटे के अंदर ही आरोपियों को पकडऩे में महत्वपूर्ण सफलता प्राप्त की है। गिरफ़्तारी के बाद 22 सितम्बर की शाम आरोपियों को शहर की सड़कों से पैदल कोतवाली तक ले जाकर यह संदेश दिया गया है कि मध्य प्रदेश पुलिस एवं पन्ना जिले की पुलिस महिलाओं की स्वतंत्रता व सुरक्षा सुनिश्चित करने हेतु गंभीर एवं सदैव तत्पर है।

पीड़िता की स्थिति पहले से बेहतर : गृह मंत्री

मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा का भी इस मामले में बयान आया है। उन्होंने कहा है कि पन्ना मामले के आरोपियों को बख्शा नही जाएगा। दोनों आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है और उन पर कानून के अनुसार सख्त से सख्त कार्रवाई की जा रही है। पीड़िता डॉक्टरों की निगरानी में है और उसकी स्थिति पहले से बेहतर है। मिली जानकारी के मुताबिक पन्ना के बराहों गांव की एसिड अटैक पीड़िता का इलाज चित्रकूट के श्री सद्गुरु नेत्र चिकित्सालय में चल रहा है। यहाँ के डायरेक्टर डॉ वी.के. जैन एवं डॉ ईलेश जैन ने बताया आंखों की नेत्र ज्योति नहीं जाएगी यानी युवती अंधा होने से बच गई है। एक आंख अधिक डैमेज है, जिसको रिकवर करने में समय लगेगा।

सद्गुरु नेत्र चिकित्सालय के डायरेक्टर डॉ वीके जैन

 

डॉ ईलेश जैन का कहना है की पन्ना जिले के प्रशासन, पुलिस एवं स्वास्थ्य अधिकारी संपर्क में है। स्वास्थ्य का अपडेट ले रहे हैं। हमारी टीम को पूरा विश्वास है कि किशोरी की नेत्र ज्योति सुरक्षित रहेगी। कुछ दिनों तक अस्पताल में ही भर्ती रखना पड़ेगा। आंख में जो बर्न है उसको ठीक होने में समय लगेगा। ऐसी ही जानकारी सिविल सर्जन डॉ एल.के. तिवारी ने दी है।

 पीड़ित युवती को मिले 5 लाख मुआवजा एवं सुरक्षा व्यवस्था– कांग्रेस

ज्ञापन देते कांग्रेस जन

 जिला कांग्रेस कमेटी पन्ना की अध्यक्ष श्रीमती शारदा पाठक के निर्देशानुसार आज पन्ना ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अनीश खान के नेतृत्व में महामहिम को संबोधित ज्ञापन नायब तहसीलदार पन्ना को शॉप पर लिखकर मांग की गई कि पवई थाना अंतर्गत ग्राम बड़ों 89 गरीब अनाथ बच्ची पुत्री सुंदर ढीमर का कपड़ा कर आंखों में तेजाब डालकर प्राणघातक हमला दबंगों द्वारा दिनांक 21 सितंबर 2021 को किया गया है पीड़ित युवती के भाई कपिल ढीमर के साथ मारपीट करते हुए उसकी आंखों में भी तेजाब डालने का प्रयास दबंगों द्वारा किया गया जिसकी जान को भी खतरा है उच्च संपूर्ण घटना निंदनीय है और सभ्य समाज पर कलंक है तथा जिले में कानून व्यवस्था खतरे में है पीड़ित परिवार हमारा भाई भी तथा पीड़ित परिवार को तत्काल प्रभाव से सुरक्षा व्यवस्था प्रदान कराई जाए व 5 लाख रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जावे उक्त ज्ञापन को सौंपने बालो में शिवप्रकाश दीक्षित उपाध्यक्ष ब्लॉक कांग्रेस कमेटी पन्ना,दीपक तिवारी,वैभव थापक,राज बहादुर पटेल,शशिकांत दिक्षित, स्वतंत्र प्रभाकर अवस्थी,कदीर खान,जीतेन्द्र जाटव,मृगेंद्र सिंह,सौरभ पटेरिया,मनोज सेन,अरविंद सोनी,अमित शर्मा,इलियास राइन,एजाज खान,रियासत खान,अंका रिक्षाडिया,नरेंद्र विश्वकर्मा, सीताराम पटेल,रामभरोसे प्रजापति,राजा बाबू पटेल,अनीस पिंकू सिद्दीकी, फैज मोहम्मद, फैयाज मोहम्मद पिंटू खान,अक्षय जैन,विपिन तिवारी सहित कांग्रेस जन प्रमुख रूप से उपस्थित रहे
✎ शिवकुमार त्रिपाठी (संपादक)
सबसे ज्यादा देखी गयी