एक लाख की रिश्वत लेते अजयगढ़ तहसीलदार  गिरफ्तार,,,

सागर लोकायुक्त की कार्यवाही

(शिवकुमार त्रिपाठी )तमाम प्रयासों और कार्यवाहीयों के बावजूद सरकारी विभागों में रिश्वत रुकने का नाम नहीं ले रहा है बड़े अधिकारी भी लगातार पकड़े जा रहे फिर भी रिश्वत कम नहीं हो रही है ऐसा ही एक मामला पन्ना के अजयगढ़ में सामने आया है जिसमें एक लाख की रिश्वत लेते हुए तहसीलदार उमेश तिवारी को सागर की लोकायुक्त टीम ने उनके कमरे से रंगे हाथों गिरफ्तार किया है जिससे राजस्व महकमे में हड़कंप मच गया इससे पहले गुनौर तहसीलदार भी इसी तरह पकड़े गए थे

पन्ना जिले के अजयगढ़ में फरियादी अंकित मिश्रा के चाचा के प्लाट में भवन की स्वीकृति के एवज में एक लाख की रिश्वत लेते हुए सागर की लोकायुक्त टीम ने तहसीलदार उमेश तिवारी को रंगे हाथों गिरफ्तार किया है सरकारी रेस्ट हाउस में छापामार कार्यवाही करते हुए लोकायुक्त की टीम ने पहले ट्रैप किया फिर तहसीलदार को कार्यवाही के लिए अजयगढ़ थाना ले गई जहां कार्यवाही जारी है

वही तहसीलदार उमेश तिवारी ने पकड़े जाने के बाद इस पूरे मामले को साजिश बताया है कहां कुछ विरोधी लोग फ़साने के प्रयास में साजिश में लगे थे और मेरे पीछे साजिश की गई है  रिश्वत लेने से इनकार किया है

 ज्ञात हो कि जिले मैं इन दिनों सबसे मलाईदार तहसील क्षेत्र अजयगढ़ है कुछ दिन पूर्व ही नायब तहसीलदार उमेश तिवारी को प्रभारी तहसीलदार बनाकर भेजा गया था और उनकी कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में थी आज ट्रैप होने के बाद से राजस्व महकमे में हड़कंप मच गया भ्रष्टाचार अधिनियम की विभिन्न धाराओं की तरह मामला दर्ज किया गया है अब पुलिस उन्हें न्यायालय में पेश करेगी

  लोकायुक्त का प्रेसनोट

*सागर लोकायुक्त की कार्यवाही* आवेदक- अंकित मिश्रा पिता राजकुमार मिश्रा 25 वर्ष निवास वार्ड क्र 14 अजयगढ जिला पन्ना
आरोपी-
1- उमेश तिवारी उम्र 29 वर्ष प्रभारी तहसीलदार अजयगढ़ पन्ना।
घटना स्थल:- रुम नं 3 रेस्ट हाउस अजयगढ़ पन्ना,
रिश्वत राशि:- 1,00,000 (एक लाख रुपये)
विवरण:- आवेदक के चाचा के प्लाट पर मकान निर्माण की अनुमति के संबंध में 100000/-रुपये रिश्वत की मांग की जो आज दिनांक 20.01.2021 को आरोपी आवेदक से 100000/-रु रिश्वत लेते हुए पकड़े गए। ट्रेपकर्ता- उपुअ राजेश खेड़े विपुस्था सागर