ताज़ा खबर
CM शिवराज एवं बीडी शर्मा पन्ना में जनकल्याण एवं सुराज सभा को करेंगे संबोधित युवती एसिड मामला- आंखें सुरक्षित-- प्रशासन,, जिले में कॉग्रेस का प्रदर्शन और ज्ञापन, एसपी कलेक्टर की प्रेस कॉन्फ्रेंस और धन्यवाद किशोरी पर एसिड अटैक,, मचा हड़कंप,, एसपी,कलेक्टर मिलने पहुंचे, कांग्रेस अध्यक्ष ने की कार्यवाही की मांग बरसते पानी में कांग्रेस का प्रदर्शन,,, स्वास्थ्य आव्यवस्थाओं के खिलाफ दिया ज्ञापन

पवई विधायक प्रहलाद लोधी को सजा,,,, विधायकी खतरे में,,,। सजा के बाद भी विधायक बने रहेंगे :- पुरुषेन्द्र कौरव

पवई विधायक प्रहलाद लोधी को सजा,,,, विधायकी खतरे में,,,। सजा के बाद भी विधायक बने रहेंगे :- पुरुषेन्द्र कौरव

पांच साल पहले रेत खनन के खिलाफ कार्रवाई करने वाले रैपुरा तहसीलदार से की थी मारपीट
विधायकी खतरे में

.राजधानी की विशेष अदालत ने पवई से भाजपा विधायक प्रहलाद लोधी सहित 12 लोगों को बलवे के मामले में दो साल की जेल और साढ़े तीन हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है। लोधी पर आरोप था कि उन्होंने रेत खनन के खिलाफ कार्रवाई करने वाले रैपुरा तहसीलदार को बीच रोड पर रोककर उसके साथ मारपीट करते हुए गाली-गलौज की थी। गुरूवार को सांसदाें और विधायकोंे के मामलों की सुनवाई कर रहें विशेष न्यायाधीश सुरेश सिंह ने यह फैसला सुनाया है।लोधी ने तहसीलदार की जीप रोककर मारपीट की थी

जिला अभियोजन अधिकारी राजेन्द्र उपाध्याय ने बताया कि पन्ना जिले की तहसील रैपुरा में पदस्थ तहसीलदार आर के वर्मा ने 28 अगस्त 2014 को सिमरिया थाना अंर्तगत रेत से भरी टेक्टर ट्राली को जब्त कर थाने में खड़ा करा दिया था। वापस लौटते समय ग्राम मडवा के पास प्रहलाद लोधी और साथियों ने बीच रोड पर मिक्सर मशीन खड़ी कर तहसीलदार वर्मा की जीप को रोककर उनके साथ मारपीट-गालीगलोच की थी जिन लोगों को सजा सुनाई गई है उनके नाम इस प्रकार है
१.प्रहलाद पिता किशुन लाल लोधी निवासी रैयासाटा २. तिलक लोधी पिता उत्तम लोधी निवासी मड़वा (अर्जुनपुरा )३.मुकेश राय निवासी मड़वा ४.ध्यान सिंह ठाकुर निवासी मडवा ५.श्रीपाल पिता मूलचंद निवासी मड़वा ६.प्रहलाद लोधी निवासी मड़वा
७मुकेश पिता नारायण दास विश्वकर्मा निवासी मड़वा ८ दशरथ खरे पिता हजारीलाल खरे निवासी मड़वा ९.राजेंद्र लोधी पिता उत्तम लोधी निवासी मडवा (अर्जुनपुरा )१०.अंगद लोधी सूरत दीन लोधी निवासी मड़वा

सदस्यता को लेकर वकीलों की राय स्पष्ट नहीं
अधिकांश बोले सदस्यता खत्म

जानकारों के अनुसार 2 वर्ष की सजा होने के बाद पवई विधायक प्रहलाद लोधी की सदस्यता खत्म हो गई है इस तरह की राय सुप्रीम कोर्ट के अधिकांश अधिवक्ताओं ने कही है सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता बताते हैं कि 2018 में तत्कालीन चीफ जस्टिस द्वारा लिए गए फैसले और अन्य नियमों के अनुसार जैसे ही जनप्रतिनिधि को सजा होती है सदस्यता सजा सुनाए जाते ही खत्म हो जाती है बशर्ते वह सजा 2 वर्ष से कम ना हो यदि इस तथ्य को सही माना जाए तो वर्तमान में प्रहलाद लोधी की विधायकी खत्म हो गई है
इतना अवश्य है कि इसके लिए न्यायालय द्वारा 30 दिन का समय दिया गया है यदि 30 दिन के अंदर हाईकोर्ट सजा में स्थगन दे देता है या सजा खत्म कर देता है तो पुनः विधायक प्रहलाद लोधी को मिल जाएगी हालांकि कई वकीलों इस राह से सहमत हैं कुछ कहते हैं अभी सदस्यता खत्म नहीं हुई है लेकिन जिस तरह से यह फैसला आया है उसने भाजपा खेमे में हलचल पैदा कर दी है वहीं कुछ वकीलों का कहना है कि अपील का समय जो न्यायालय में दिया है उसमें यदि स्ट्रे हो जाता है तो सजा स्थगित हो जाने पर सदस्यता बची रहेगी और वर्तमान में भी सदस्यता खत्म नहीं हुई अधिकतर सजा होने पर सदस्यता खत्म कर होने की बात करते हैं

विधायक बने रहेंगे :- कौरव

सुप्रीम कोर्ट में मध्य प्रदेश के महाधिवक्ता रहे पुरुषेन्द्र कौरव का इस संबंध में कहना है कि कई फैसलों के बाद कानूनी राय स्पष्ट यह है कि जब तक निर्वाचन आयोग प्रक्रिया पूरी कर सीट को रिक्त घोषित नहीं कर देता है तब तक प्रहलाद लोधी पवई के विधायक बने रहेंगे लिहाजा इस फैसले का अभी असर उनकी विधायकी पर नहीं पड़ेगा पुरुषेन्द्र कौरव ने कहा अपील का समय है और विधानसभा अध्यक्ष इस पर फैसला लेकर निर्वाचन आयोग को सूचित करेंगे तभी उन पर कोई फैसला होकर सदस्यता पर निर्णय होगा

लिली थॉमस के फैसले के अनुसार विधायकी खत्म

वही इस संबंध में सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ताओं का कहना है कि लिली थॉमस के फैसले के अनुसार जिस वक्त सजा सुनाई जाती है उसी समय जनप्रतिनिधि की सदस्यता खत्म हो जाती है यदि लिली थॉमस के फैसले को माना जाए तो प्रहलाद लोधी की सदस्यता खत्म हो गई है हालांकि इस फैसले के बाद 2018 में जो फैसला सीजेआई ने दिया था उसमें कई धाराओं को नरम किया गया है यानी जब तक आदेश जारी कर विधायकी खत्म नहीं की जाती तब तक सस्पेंस बना रहेगा

इस संबंध में भाजपा नेता संजय नगाइच का कहना है कि सभी गवाह हॉस्ततऑइल हो गए थे इसके बावजूद सजा होना हमारे लिए चिंता का विषय है पूरे मामले में भाजपा और संगठन आगामी योजनाओं पर काम कर रहा है हमें उम्मीद है कि शीघ्र ही अपील कर सजा के खिलाफ स्थगन प्राप्त होगा भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष सतानंद गौतम ने कहा की भाजपा संगठन विधायक प्रहलाद लोधी के साथ है इस फैसले के खिलाफ अपील की जाएगी और हमें भरोसा है कि फैसले के खिलाफ स्थगन प्राप्त होगा

बिल्ली के भाग्य से सीका टूटने की बात ,,,,,?

पवई विधानसभा में विधायकी का ख्वाब देखने वाले कई नेता इन दिनों चर्चा में है जातिगत समीकरण देखें तो ठाकुर और ब्राम्हण प्रत्याशी सबसे आगे रहते हैं लेकिन करिश्माई अंदाज में ओबीसी नेता प्रहलाद लोधी ने जिस तरह से बड़ी जीत हासिल की है उससे ओबीसी वर्ग के नेता भी पवई में हाथ पैर मारने लगे हैं जैसे ही प्रहलाद लोधी की सजा और सदस्यता खत्म होने की बात सामने आई लोग बिल्ली के भाग्य से छींका टूटा की कहावत को चरितार्थ करते हुए अपने ख्वाब के घोड़े दौड़ाने लगे हैं भले ही प्रहलाद लोधी की हाईकोर्ट के स्थगन से विधायकी बच जाए पर 24 घंटे के अंदर जिस तरीके से राजनेताओं के मन में लड्डू फूट रहे हैं उससे तो यही लगता है कि बहुत से नेता पवई में अपने आप को विधायक मानने लगे हैं

✎ शिवकुमार त्रिपाठी (संपादक)
सबसे ज्यादा देखी गयी