ताज़ा खबर
CM शिवराज एवं बीडी शर्मा पन्ना में जनकल्याण एवं सुराज सभा को करेंगे संबोधित युवती एसिड मामला- आंखें सुरक्षित-- प्रशासन,, जिले में कॉग्रेस का प्रदर्शन और ज्ञापन, एसपी कलेक्टर की प्रेस कॉन्फ्रेंस और धन्यवाद किशोरी पर एसिड अटैक,, मचा हड़कंप,, एसपी,कलेक्टर मिलने पहुंचे, कांग्रेस अध्यक्ष ने की कार्यवाही की मांग बरसते पानी में कांग्रेस का प्रदर्शन,,, स्वास्थ्य आव्यवस्थाओं के खिलाफ दिया ज्ञापन

चांदमारी में बच्चों की मौत का सिलसिला जारी,, कांग्रेस की नवनियुक्त अध्यक्ष शारदा पाठक दल बल के साथ पीड़ित परिवार से मिलने पहुंची,,, जिला प्रशासन के खिलाफ कांग्रेसियों ने की नारेबाजी

चांदमारी में बच्चों की मौत का सिलसिला जारी,, कांग्रेस की नवनियुक्त अध्यक्ष शारदा पाठक दल बल के साथ पीड़ित परिवार से मिलने पहुंची,,, जिला प्रशासन के खिलाफ कांग्रेसियों ने की नारेबाजी

पार्टी अध्यक्ष के साथ चांदमारी बस्ती पहुंचे कांग्रेसी, बच्चो की मौत पर जताया शोक
मृत बच्चो के परिवारों को एक एक लाख रूपये की सहायता राशि मिले : श्रीमती पाठक
गरीब आदिवासियों को इंसाफ दिलाने के लिये संघर्ष करेगी कांग्रेस


ब्यू्यू्यू्य्यू्यू्््यू्यू्यू्यू्यू्य्यू्यू्््य

 

शिवकुमार त्रिपाठी

तीन मासूमों की एक हफ्ते के भीतर हुई मौत के बाद सुर्खियों में आये जिला पंचायत मुख्यालय से लगी ग्राम पंचायत पुरूषोत्तमपुर से लगी चांदमारी बस्ती में निवासरत एक सवा दो साल के बच्चे की बीते दिवस मौत हो गयी, जिसके बाद इस बस्ती में फिर से मातम छाया हुआ है। जिस चौथे मासूम बच्चे की मौत हुई है वह कुपोषित तथा टीबी की बीमारी से पीडि़त था। छोटी सी आदिवासी बस्ती में निवासरत ७० से अधिक आदिवासी खाद्य सुरक्षा योजना से वंचित पाये गये है आदिवासी बस्ती में सड़क, नालियां तथा सफाई के प्रबंध नही होने से गंदगी की वजह से गरीब आदिवासियों एवं उनके बच्चों को बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है। जिन ४ मासूम बच्चों की मौत हुई है उनमें से दो मासूम बच्चों को टीबी जैसी बीमारी का होना भी पाया गया है। आदिवासी बस्ती में अब तक ४ मासूमों की मौत के बाद जिला कांग्रेस कमेटी की नवनियुक्त अध्यक्ष श्रीमती शारदा पाठक आज पार्टी के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं के साथ चांदमारी बस्ती पहुंची जहां पर उन्होने गत दिवस मृत हुये बच्चे सत्यम आदिवासी के माता पिता से मुलाकात की तथा पूर्व में मृत तीन अन्य बच्चों के घर तक पहुंचकर दुख जताया गया। इस दौरान कांग्रेस नेताओं द्वारा ग्रामीण आदिवासियों से बातचीत की गई तथा कहा गया कि जिन बच्चो की मौत हुई है उसका कारण भूख और कुपोषण है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जो अपने आप को मामा बताते है उनके राज्य में पन्ना शहर से लगी छोटी सी आदिवासी बस्ती के हालात सरकार की व्यवस्थाओं की कलई खोलने वाले है। उन्होने कहा कि कांग्रेस पार्टी की सरकार द्वारा आदिवासी तथा गरीब भूखे न रहे इसके लिये खाद्य सुरक्षा कानून बनाया गया था किंतु दुर्भाग्य की बात यह है कि इस छोटी सी बस्ती में ७० से अधिक ऐसे आदिवासी है जिन्हें आज तक खाद्यान्न नही मिला है उनके पास जरूरी कागजात तक नही बनाये गये है वृद्ध एवं वेवा महिलाएं कागजो के आभाव में सामाजिक सुरक्षा योजनाओं से वंचित हो रही है। चांदमारी बस्ती के साथ पूरे जिले में आदिवासियों एवं गरीबों के साथ इसी तरह से अन्याय हो रहा है। श्रीमती शारदा पाठक ने कहा कि हमारी सरकार एवं जिला प्रशासन से मांग है कि चांदमारी बस्ती में निवासरत जिन बच्चों की असमय मौत हुई है उसकी उच्चस्तरिय जांच हो,दोषियों की जिम्मेदारी तय करते हुये उन पर कार्यवाही की जाये साथ ही साथ मृत बच्चो के परिवारों को एक एक लाख रूपये की कम से कम सहायता राशि दी जाये। साथ ही साथ यह सुनिश्चित किया जाये कि यहां पर रहने वाले लोगो एवं गरीब आदिवासियों के आधार कार्ड, समग्र आईडी, वोटर आईडी, बच्चों के जन्म प्रमाणपत्र, जिन बेवा महिलाओं के पतियों के मृत्यु प्रमाणपत्र बनाये जाये तथा बस्ती में बुनियादी सड़क पानी की व्यवस्थाएं की जाये तथा गरीब आदिवासियों के रोजगार के प्रबंध हों। उन्होने कहा कि सोमवार को इस पूरे मामलें को लेकर बस्ती के आदिवासियों के साथ कांग्रेस पार्टी जिला कलेक्टर से मुलाकात करेगी। इस मौके पर उपस्थित कांग्रेस पार्टी के जनपद अध्यक्ष अजयगढ़ भरत मिलन पाण्डेय, पूर्व विधानसभा प्रत्याशी शिवजीत सिंह भैयाराजा, डीके दुबे, पवन जैन, मनीष मिश्रा, दीपक तिवारी, वैभव थापक, सुनील अवस्थी, इल्यास राईन(मिस्टर राईन), नृपेन्द्र सिंह, मृगेन्द्र सिंह, अक्षय तिवारी, रेहान खान, मनोज गुप्ता, मनोज त्रिपाठी, दारा आदिवासी, जयराम यादव, मनोस सेन, राजू यादव, सोलू पाण्डेय, देबू आदिवासी, राजाबाबू पटेल, सुनील रजक, सत्यम पाण्डेय, इजाज मोहम्मद, फैज मोहम्मद, फैयाज मोहम्मद सहित कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद रहे।

✎ शिवकुमार त्रिपाठी (संपादक)
सबसे ज्यादा देखी गयी