ताज़ा खबर
CM शिवराज एवं बीडी शर्मा पन्ना में जनकल्याण एवं सुराज सभा को करेंगे संबोधित युवती एसिड मामला- आंखें सुरक्षित-- प्रशासन,, जिले में कॉग्रेस का प्रदर्शन और ज्ञापन, एसपी कलेक्टर की प्रेस कॉन्फ्रेंस और धन्यवाद किशोरी पर एसिड अटैक,, मचा हड़कंप,, एसपी,कलेक्टर मिलने पहुंचे, कांग्रेस अध्यक्ष ने की कार्यवाही की मांग बरसते पानी में कांग्रेस का प्रदर्शन,,, स्वास्थ्य आव्यवस्थाओं के खिलाफ दिया ज्ञापन

पन्ना में मिला कोरोना का पहला मरीज,, मचा हड़कम ,, हम आप सुरक्षित:- CMHO

पन्ना में मिला कोरोना का पहला मरीज,, मचा हड़कम ,, हम आप सुरक्षित:- CMHO

*पन्ना में मिला पहला कोरोना पॉजिटिव मरीज मुंबई से आया,,, परेशान न हो हम आप सुरछित है*

कुछ समय के लिए दहशत फैली

पूरी तरह स्वस्थ है

कोरोना के विशेष लक्षण नहीं दिख रहे

कलेक्टर एसपी मौके पर पहुंचे इलाके को सीज किया गया

जानकारी देने से बचते रहे अधिकारी

देर रात 11:00 बजे के बाद जारी किया प्रेस नोट

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर एल के तिवारी ने प्रेस नोट जारी कर कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति के संबंध में यह जानकारी दी है ,, पन्ना के सभी लोग सुरक्षित हैं घबराने और परेशान होने की आवश्यकता नहीं है कलेक्टर कर्मवीर शर्मा, एसपी मयंक अवस्थी और सीएमएचओ डॉ LK तिवारी मौके पर अपने दल बल के साथ मौजूद रहकर स्वास्थ्य संबंधी कार्यवाही करा रहे हैं बहुत से लोग बार-बार फोन कर व्यक्तिगत रूप से मुझसे जानकारी चाह रहे है

किन्ही कारणवश वेबसाइट ब्लॉक हो गई थी या करा दी गई पता नहीं चला प्रशासन के लोग कह रहे थे मरीज का नाम नहीं छाप सकते जबकि अधिकृत रूप से जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग द्वारा जो प्रेस नोट जारी किया गया है उसमें मरीज का नाम और पता अंकित है इसके बावजूद मैंने यह नाम पता हटा दिया
इस मरीज को बर्नोली की कौरनटाइम सेंटर में रखा गया है वही इलाज किया जा रहा डॉक्टर एलके तिवारी का कहना है की मुंबई से आए इस मरीज में कोरोना के लक्षण नहीं दिख रहे हैं पॉजिटिव मरीज को जो समस्याएं होती हैं वह भी नहीं हो रही लिहाजा उसे इसी सेंटर में ही आइसोलेट कर दिया गया है पूरे इलाके में हड़कंप की स्थिति हो जाने के कारण प्रशासन ने चौकसी बढ़ा दी है कलेक्टर कर्मवीर शर्मा और एसपी मयंक अवस्थी अपने दल बल के साथ मौके पर पहुंचे और वैधानिक कार्यवाही की जा रही है

*डॉक्टर L K तिवारी द्वारा व्हाट्सएप पर उपलब्ध कराया गया प्रेस नोट*

*किरोना अपडेट @पन्ना दिनाक 02 मई रात्रि 11 PM*

आज पन्ना में एक केस मोहम्मद ,,,,,,,, पिता ,,,,,,,,, पॉजिटिव प्राप्त हुआ है जो ,,,,,,,,,,गांव का रहने वाला है यह 30 तारीख को मुंबई से सिमरिया बॉर्डर पर आया था ।
इसको तथा इसके ग्रुप को सिमरिया बॉर्डर पर ही रोक लिया गया था तथा इन्हें समीप हॉस्टल में आइसोलेट कर दिया गया था।
*ग्रुप के 10 सदस्यों मे से 9 नेगेटिव और एक पॉजिटिव रिपोर्ट आई है। पॉजिटिव मरीज भी अभी बीमारी के प्रत्यक्ष लक्षण से मुक्त है तथा इसका प्रारंभ उपचार बनैली कोविड सेंटर मे शुरू किया जा चुका है।*
चुकी सिमरिया चेकपोस्ट से सीधा हॉस्टल लाया गया था तथा इनका संपर्क किसी रहवासी क्षेत्रों में नहीं हुआ है अतः *पन्ना जिले के सभी नागरिक सुरक्षित है किसी को घबराबे की जरूरत नही है।*
इनकी फर्स्ट कॉन्टैक्ट पर्सन की हिस्ट्री निकाल ली गई है जिसमें 8 लोग प्राप्त हुए हैं आठो लोगो के सैंपल ले लिए गए हैं तथा वह डॉक्टर की निगरानी में कोविड सेन्टर मे है
इनके सेकंड कांटेक्ट पर्सन को भी आईडेंटिफाई किया जा चुका है तथा वह भी लोकल एडमिनिस्ट्रेशन एवम पुलिस की निगरानी में आइसोलेशन मे किया गया है
किसी को भी घबराने की जरूरत नहीं है सभी लोग ट्रेस हो चुके हैं तथा *वह किसी भी रहवासी क्षेत्र में नहीं संपर्क में आए हैं ।*
*अभी कलेक्टर, SP औऱ CMHO ,एवम अन्य स्थानीय अधिकारी मौके पर ही है।*
*CMHO PANNA*

कोरोना संक्रमित के मिलते ही पन्ना ग्रीन जोन से हुआ ऑरेंज

0 पहला संक्रमित मरीज मिलते ही मचा हड़कंप, सतर्कता बढ़ी
0 यह मजदूर 30 अप्रैल को महाराष्ट धरावी से आया था पन्ना
पन्ना। बुन्देलखण्ड क्षेत्र का पन्ना जिला 2 मई की शाम तक ग्रीन जोन में शामिल था, लेकिन कोरोना संक्रमित पहले मरीज की पॉजिटिव रिपोर्ट मिलने के बाद यह ऑरेंज जोन में शामिल हो गया है। दूसरे प्रान्तों के हॉट स्पॉट इलाकों से बड़ी संख्या में प्रतिदिन आ रहे मजदूरों को देखते हुये यह आशंका बनी हुई थी कि पन्ना ज्यादा दिनों तक ग्रीन जोन नहीं रह पायेगा, जो सच साबित हुआ। विगत 30 अप्रैल को अपने अन्य साथियों के साथ जो मजदूर महाराष्ट धरावी से आया था वह कोरोना संक्रमित पाया गया है। यह खबर शनिवार की शाम जैसे ही प्रकाश में आई समूचे जिले में हड़कंप मच गया। पन्ना कलेक्टर कर्मवीर शर्मा, पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी तथा सीएमएचओ डॉ एल. के. तिवारी सहित स्वास्थ अमला की टीम आनन फानन रात्रि में ही बनौली गांव स्थित क्वारेंटाइन सेंटर पहुंची जहाँ इस मरीज को आइसोलेशन में रखा गया था। क्वारेंटाइन सेंटर के चारो तरफ फोर्स लगाकर इलाके को सील कर दिया गया है।


मामले के सम्बन्ध में देर रात्रि जिला प्रशासन से मिली अधिकृत जानकारी के मुताबिक पन्ना में एक केस पॉजिटिव प्राप्त हुआ है जो अजयगढ़ तहसील के ग्राम हरदी का रहने वाला है। यह 30 तारीख को मुंबई से सिमरिया बॉर्डर पर आया था। इसको तथा इसके अन्य साथियों को सिमरिया बॉर्डर पर ही रोक लिया गया था तथा इन्हें समीप हॉस्टल में आइसोलेट कर दिया गया था। सीएमएचओ डॉ एल. के. तिवारी ने बताया कि ग्रुप के 10 सदस्यों मे से 9 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव और एक युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। आपने बताया कि पॉजिटिव मरीज भी अभी बीमारी के प्रत्यक्ष लक्षण से मुक्त है तथा इसका प्रारंभिक उपचार बनौली कोविड सेंटर मे शुरू किया जा चुका है। उन्होंने यह भी बताया कि कोरोना संक्रमित मरीज 30 अप्रैल को अपने अन्य साथियों के साथ जब पन्ना जिले में प्रवेश किया था तो उसे सिमरिया चेकपोस्ट से सीधा हॉस्टल ले जाया गया था। इनका संपर्क किसी रहवासी क्षेत्रों में नहीं हुआ है अतः पन्ना जिले के सभी नागरिक सुरक्षित हैं किसी को घबराने की जरूरत नहीं है। प्रशासन द्वारा जारी प्रेस नोट में लेख किया गया है कि इनकी फर्स्ट कांटेक्ट पर्सन की हिस्ट्री निकाल ली गई है जिसमें 8 लोग प्राप्त हुए हैं। इन आठों लोगों के सैंपल ले लिये गये हैं तथा सभी डॉक्टर की निगरानी में कोविड सेन्टर में हैं। इनके सेकंड कांटेक्ट पर्सन को भी आईडेंटिफाई किया जा चुका है तथा उन्हें भी लोकल एडमिनिस्ट्रेशन एवं पुलिस की निगरानी में आइसोलेशन में रखा गया है। प्रशासन द्वारा जिले के लोगों को आश्वस्त किया गया है कि किसी को भी घबराने की जरूरत नहीं है, सभी लोग ट्रेस हो चुके हैं तथा वे किसी भी रहवासी क्षेत्र के संपर्क में नहीं आये हैं।

जिले में अब तक लिये गये 214 नमूने

लॉकडाउन के बाद पन्ना जिले में अब तक कुल 214 नमूने ही लिये गये हैं जो जिले की आबादी व लॉकडाउन के दौरान यहाँ पहुंचे प्रवासी मजदूरों की संख्या को द्रष्टिगत रखते हुये बहुत कम है। जाँच की धीमी गति चिंता की बड़ी वजह बनी हुई है। अधिकृत जानकारी के मुताबिक अब तक जिले में बाहर से कुल 15345 लोग आये हैं जिनकी स्क्रीनिंग की जा चुकी है लेकिन जाँच हेतु नमूने नहीं लिये गये। जब यह तथ्य सभी के संज्ञान में है कि बिना लक्षण वाले व्यक्तियों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आ रही है ऐसी स्थिति में संभावित मरीजों को आईडेंटिफाई करने के लिये क्या जाँच की रफ़्तार बढ़ाना जरुरी नहीं है? मालुम हो कि शनिवार को जिस प्रवासी युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है उसमें भी बीमारी के प्रत्यक्ष लक्षण नहीं पाये गये थे।

✎ शिवकुमार त्रिपाठी (संपादक)
सबसे ज्यादा देखी गयी